देह व्यापार की आड़ में लोगों से लूट और ठगी का कारोबार

कई युवकों के साथ अश्लील क्लिीपिंग Pornographic clipping बना बलात्कार के मामले में फंसाने की धमकियां, लोकलाज के डर से कई लोगों को छोडऩा पड़ा गांव तो एक युवक ने लगाया मौत को गले

By: Anuj Chhangani

Published: 13 Aug 2019, 05:58 PM IST

nagaur news in hindi : पादूकलांं. देह व्यापार की आड़ में युवकों से लूट और ठगी का कारोबार करने का मामला सामने आया है। पुलिस थानाक्षेत्र के ग्राम रियांबड़ी में स्थित पहाड़ी के पीछे सथाना रोड पर रहने वाले एक साटिया जाति विशेष के लोग जो इस वेश्यावृति के धंधे को अपना कारोबार समझ राह चलते युवकों को अपने जाल में फंसाते है। और उसके साथ लूटपाट कर अश्लील क्लिीपिंग Pornographic clipping बनाकर फिर ठगी का खेल शुरू हो जाता है। देह व्यापार के धंधे को संचालित करने वाली महिलाएं अपने साथियों के साथ वारदात को अंजाम देती है। यहां सडक़ किनारे बैठी रहने वाली नाबालिग लड़कियां व महिलाएं राह चलते युवकों को इशारा करके फंसाकर कमरों में ले जाती है और फिर उनके के सामने कपड़े उतार देती थी। प्लान के अनुसार इसी दौरान कमरों में लगे गोपनीय कैमरों से रिर्कोडिंग शुरू हो जाती है। फिर कुछ साथियों के साथ मिलकर युवकों को डराते और फिर लूटपाट करते थे। कई युवकों की अश्लील क्लिीपिंग बनाकर बलात्कार के मामले में फंसाने की धमकी देकर रुपए ऐंठने का काम करते थे। इसके चलते कई लोगों को गांव तक छोडऩा पड़ा तो एक युवक ने तो बार-बार ठगी से बचने के लिए मौत को गले लगा लिया था। पुलिस के अनुसार लंबे समय से पहाड़ी के पीछे सथाना रोड पर देह व्यापार चलने की शिकायत मिल रही थी। सोमवार को डेगाना सीओ के नेतृत्व में पुलिस टीम ने पहाड़ी के पीछे उनके घरों पर छापा मारा। पांच महिलाएं सहित सात को गिरफ्तार किया गया। छापे के दौरान कुछ युवक और युवतियां फरार हो गए। गिरफ्तार आरोपियों को कोर्ट में पेश किया जहां से सभी को जेल भेजा दिया गया।

क्या है पूरा मामला

पुलिस को कई महीनों से ऐसी सूचना तो मिल रही थी लेकिन कोई सुराग नहीं मिल पा रहा था। इसी महीने एक पीडि़त के सामने आने के बाद उसके भाई ने पुलिस की मदद से ठगी का पर्दाफाश किया। पुलिस ने इस धंधे में लिप्त लोगों को गिरफ्तार कर उनसे अन्य वारदात के बारे में जानकारी जुटा रही है। यहां लंबे समय से चल रहे देह व्यापार में लिप्त महिलाएं व नाबालिंग लड़किया सक्रिय रहती थी। ज्यादातर वह युवकों फंसाने के लिए यहां से गुजरने वाले लडक़ों को इशारा करती थी और जैसे ही कोई उसके झांसे में आता चलते-चलते सौदा कर लेती।

कमरों में ले जाकर उतार देती थी अपने कपड़े

रूम वीआईपी की तरह सजा रखा था जिसमें डबल बेड का पलंग भी पड़ा होता था। सौदा तय होने के बाद महिलाएं व नाबालिग लड़कियां लडक़े के सामने अपने कपड़े उतार देती थी, लेकिन जैसे ही संबंध बनाने की बारी आती, उनसे रुपए छीन लेते और अश्लील क्लिीपिंग बना लेते जिससे उसके साथ बार-बार बलात्कार के मामले में फंसाने की धमकी देकर रुपए ऐंठने का काम करती थी। लोग बदनामी के डर से पुलिस तक नहीं पहुंचते थे। ये लोग लम्बे समय से वेश्यावृति का धंधा चला रहे थे। इस दौरान इन्होंने 50 से ज्यादा लोगों को लूटा है। इसके अलावा लम्बी फेहरिस्त है जो लोकलाज के डर से सामने आने से कतरा रहे है।

500 से लेकर 200 रुपए में सौदा

वेश्यावृति के धंधे में लिप्त नाबालिग लड़कियां व महिलाएं युवकों से 5 सौ से लेकर 2 हजार रुपए तक सौदा करती है। सौदा तय होने के बाद रुपए लेकर कमरे में ले जाती है और फिर संबंध के दौरान प्लान के अनुसार उसके साथ रुपए ऐंठना और अश्लील क्लिीपिंग बनाकर उनको धमकाने का काम शुरू हो जाता था। मजे की बात तो यह है कि यहां से उधारी की रकम भी मिलती थी जिसके बदले मोटा मुनाफा व ब्याज वसूला जाता था। उधारी की रकम इतनी हो जाती कि वो चुकाते चुकाते थक जाता था। इस गोरखधंधे में मामला सुलझाने की एवज में सफेदपोश लोगों के तार भी जुड़े होने का अंदेशा है।

इनका कहना है-

देह व्यापार की आड़ में लूट व ठगी करने के मामले में रियांबड़ी से एक प्रकरण दर्ज होने के बाद सोमवार को डेगाना सीओ के नेतृत्व में कार्रवाई की गई है जिसमें सात जनों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया जहां से सभी आरोपियों को जेल भेजा गया। इस प्रकरण के बाद आसपास क्षेत्र से करीब दस बारह प्रकरण और आए है जिसकी जांच की जा रही है।

सुनील चौधरी थानाधिकारी पादूकलां।

 

Anuj Chhangani Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned