स्टेशन पर कैमरे अगले हफ्ते से 'ड्यूटी पर

नागौर. अपराधियों पर दिन-रात नजर रखने के लिए यहां रेलवे स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरे अगले हफ्ते से अपनी ड्यूटी शुरू कर देंगे। कैमरे का कंट्रोल-रूम आरपीएफ चौकी होगा।

By: Sandeep Pandey

Published: 07 Mar 2020, 11:34 AM IST

नागौर. अपराधियों पर दिन-रात नजर रखने के लिए यहां रेलवे स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरे अगले हफ्ते से अपनी ड्यूटी शुरू कर देंगे। कैमरे का कंट्रोल-रूम आरपीएफ चौकी होगा। फिक्स्ड और मूवेबल कैमरे में आने-जाने वाले लोगों की गतिविधियों पर अधिकारी भी ऑनलाइन मॉनिटरिंग कर सकेंगे। आरपीएफ चौकी पर इसके लिए एलईडी टीवी लगाए गए हंै। ऑनलाइन सॉफ्टवेयर पर चल रहे काम के एक-दो दिन में पूरा होते ही कैमरे निगरानी शुरू कर देंगे। इससे आपराधिक वारदातों पर नकेल कसने के साथ सफाई व्यवस्था की भी मॉनिटरिंग हो सकेगी।

जानकार सूत्रों के अनुसार स्टेशन पर यात्रियों के भीड़-भाड़ वाले स्थान समेत अन्य प्रमुख जगह पर 28 कैमरे लगा दिए गए हैं। पहले चरण में इन्हीं को चालू किया जा रहा है। एक तरह से स्टेशन का अधिकांश हिस्सा इनकी जद में होगा। शेष 32 कैमरे स्टेशन के शेष स्थान पर लगेंगे। बताया जाता है कि रेलटेल कंपनी के इस प्रोजेक्ट पर मॉनिटरिंग कंपनी के गुरुग्राम से भी की जाएगी। इसके चलते कोई कैमरा काम नहीं कर रहा, इसकी सूचना देने की जरुरत नहीं पड़ेगी। यहां बैठे तकनीकी कर्मी खुद ही जान जाएंगे कि कौन सा कैमरा काम नहीं कर रहा ताकि तुरंत ही इन्हें सही किया जा सके।पीटीजेड कैमरे प्लेटफॉर्म और ओपन एरिया को कवर कर रहे हैं। जबकि4 के बुलेट कैमरे एंट्री गेट पर लगाए गए हैं। डोम कैमरे टिकट काउंटर, बुकिंग रूम, फुट ओवरब्रिज व निकास द्वार पर नजर रखेंगे। बुलेट कैमरे से फुट ओवरब्रिज एरिया कवर होगा।

स्टेशन पर लगने वाले कैमरों की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी भी आरपीएफ के हाथों में होगी रेलवे सूत्रों के अनुसार तकरीबन तीन माह से सीसीटीवी कैमरे लगाने का यहां काम किया जा रहा है। अभी 32 कैमरे और लगेंगे। संभवतया अगले महीने तक यह काम हो पाएगा। स्टेशन पर कुल साठ सीसीटीवी कैमरे का प्रोजेक्ट था।

आरपीएफ चौकी पर गिना-चुना स्टाफ

नागौर की आरपीएफ चौकी पर स्टाफ की कमी बरकरार है। यहां प्रभारी समेत आधा दर्जन पुलिसकर्मी हैं। उस पर काम का बोझ और 24 घंटे की मुस्तैदी पहले ही इनके लिए मुश्किल है। उस पर सीसीटीवी कैमरे की मॉनिटरिंग का जिम्मा और आ गया। ऐसे में इनके तय काम भी टेढ़ी खीर साबित होंगे।

मेड़ता रोड जंक्शन तो पहुंचे ही नहीं कैमरे

सूत्रों ने बताया कि मेड़ता रोड कंक्शन पर भी सीसीटीवी कै मरे लगने हैं। बावजूद इसके अभी तक तो वहां कैमरे पहुंचे तक नहीं। स्टेशन अधीक्षक रूपचंद बैरवा ने बताया कि शायद नागौर का काम पूरा होने के बाद यहां शुरू होगा।

इनका कहना है

स्टेशन का अधिकांश काम-काज व प्लेटफार्म का हिस्सा ये 28 कैमरे कवर कर लेंगे। ये अगले हफ्ते से निगरानी शुरू करेंगे। दो-तीन दिन में सॉफ्टवेयर का काम हो जाएगा। शेष कैमरे भी जल्द लग जाएंगे।

मुकुल केसरिया, जेईएन, नागौर स्टेशन

Sandeep Pandey Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned