बिजली चोरी करते पकड़े, सवा तीन लाख का जुर्माना

मेड़ता सिटी. अजमेर डिस्कॉम के मेड़ता सहायक अभियंता (शहर)की विजिलेंस टीम ने डिस्कॉम के निर्देेशों पर रात को जांच कार्रवाई करते हुए आकेली गांव में एक कृषि कुए पर 11 केवी लाइन से आंकुडि़ए लगाकर विद्युत चोरी करते पाए जाने पर केबल जब्त कर सवा तीन लाख रुपए जुर्माना वसूली कार्रवाई की।

मेड़ता सिटी. अजमेर डिस्कॉम के मेड़ता सहायक अभियंता (शहर)की विजिलेंस टीम ने डिस्कॉम के निर्देेशों पर रात को जांच कार्रवाई करते हुए आकेली गांव में एक कृषि कुए पर 11 केवी लाइन से आंकुडि़ए लगाकर विद्युत चोरी करते पाए जाने पर केबल जब्त कर सवा तीन लाख रुपए जुर्माना वसूली कार्रवाई की।

सहायक अभियंता (शहर)चिरंजीलाल चंदोलिया ने बताया कि उच्चाधिकारियों के निर्देशानुसार रात्रि में सतर्कता जांच के दौरान आकेली 'एÓ गांव में दबिश दी गई। शायरी देवी पत्नी नारायणराम के नाम से कृषि कनेक्शन है। जिस को आकेली गांव निवासी गोरधनराम पुत्र रामदेव बडिय़ासर काम मेंं ले रहा है। उसने अपने नलकूप के पास से घरेलू उपभोक्ताओं के लिए गुजर रही 11 केवी लाइन एलडी लाइन मेंं आंकुडि़ए जोडकर अवैध रुप से अपना नलकूप चलाकर विद्युत चोरी करते पाया गया। जिस पर विजिलेंस टीम ने जुर्माना राशि कार्रवाई करते हुए सवा 3 लाख रुपए का राजस्व निर्धारण कर मामला दर्ज किया।

डिस्कॉम के उपभोक्ताओं में बकाया 4 करोड़ 80 लाख

परबतसर. डिस्कॉम की वसूली अभियान के लिए विद्युत निगम को सख्त निर्देश दिए गए हैं, लेकिन विद्युत निगम का उधारी का डंडा केवल आम जनता पर पड़ रहा है। परबतसर उपखण्ड में 4 करोड़ 80 लाख रुपए उपभोक्ताओं में बकाया निकल रहा है। बकाया वसूली के लिए डिस्कॉम के अधिकारी जुटे हुए हैं। बकाया वसूली आमजन से हो रही है। सरकारी कार्यालयों के करीब 2 करोड़ रुपए बिल बकाया है। इनमें से जलदाय विभाग के 4 लाख 20 हजार रुपए, जनता जल योजना के 32 लाख 78 हजार, सरपंच ग्राम पंचायतों के 90 लाख, प्रशासन के सरकारी विभागों के 34 हजार, पुलिस विभाग के 1 लाख 19 हजार, नगरपालिका की रोड लाइट के 52 लाख 5 हजार तथा रेलवे में 48 हजार रुपए बकाया निकल रहे हैं। इन सरकारी विभागों की बकाया राशि व भुगतान देरी के कारण निगम पर भार बढ़ रहा है। सरकारी कार्यालयों के बिल समय पर जमा नहीं हो तो भी अधिकारियों को कनेक्शन काटने के लिए कहने वाला कोई नहीं है। आम जनता पर तो डिस्कॉम भी कनेक्शन काटने को कहकर ज्यों त्यों राशि वसूली जा रही है लेकिन बड़े विभागों के अधिकारियों को केवल बकाया जमा करवाने के लिए नोटिस ही भेजे जा रहे हैं।

इनका कहना

परबतसर उपखण्ड के उपभोक्ताओं में बिजली बिल की बकाया राशि लगभग 4 करोड़ 85 हजार रुपए बकाया हैं। हमारे स्तर पर बकाया वसूली की जा रही है लेकिन सरकारी कार्यालयों को भी नोटिस भेजे गए हैं। उनको भी डिस्कॉम का सहयोग करके राशि समय पर जमा करवानी चाहिए अन्यथा सरकारी कार्यालयों के बकाया राशि होने पर कनेक्शन काटे जाएंगे।
- बृजपाल, सहायक अभियन्ता

बकाया वसूली अभियान शुरू

रियांबड़ी. सहायक अभियंता कार्यालय विद्युत निगम के अन्तर्गत आने वाले विभिन्न फीडर प्रभारियों को बिजली चोरी रोकने व बकाया वसूली अभियान चलाने को लेकर सहायक अभियंता जीएल व्यास ने सख्त निर्देश दिए। सहायक अभियंता व्यास ने बताया कि जिले मंे बिजली चोरी को रोकने के लिए विभागीय उच्च अधिकारियों के निर्देश पर क्षेत्र में विजलेंस, स्थानीय टीमों का गठन किया गया है। स्थानीय टीमों के अन्तर्गत दो फीडर प्रभारियों को बकाया वसूली के लिए भी निर्देश दिए है ताकि राजस्व समय रहते वसूला जा सके। उन्होंने अधीनस्थ कार्मिकों को सरकारी कार्यालयों, निजी, व्यावसायिक व घरेलू उपभोक्ताओं के समस्त बकाया बिलों की वसूली किया जाना सुनिश्चित करें। इसी क्रम में कनिष्ठ अभियंता अनवार काठात, दिनेश लाखन सहित तकनीकी अधिकारियों को बिजली चोरी प्रकरणों को सख्ती से निपटने के लिए निर्देशित किया गया है।

Sandeep Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned