पितृ अमावस्या पर किया दान-पुण्य

पितृ अमावस्या पर किया दान-पुण्य

Sharad Shukla | Publish: Sep, 10 2018 06:07:38 PM (IST) Nagaur, Rajasthan, India

पितृ अमावस्या पर किया दान-पुण्य
नागौर. पितृ अमावस्या का पर्व रविवार को जिलेभर में मनाया गया। इस दौरान लोगों ने दान पुण्य किया तो वहीं दिनभर मंदिरों व घरों में भी धार्मिक कार्यक्रम हुए। पर्व को लेकर दिल्ली दरवाजा, गांधी चौक, नकाश दरवाजा, तिगरी बाजार सहित अन्य स्थानों पर नागौर के प्रसिद्ध मालपुआ व गर्मागर्म पकौड़ी की जमकर खरीदारी भी हुई। दुकानदारों ने बताया कि आम दिनों की तुलना में पितृ अमावस्या के दिन इन दोनों की मांग अधिक होती है इसलिए दूसरे शहरों के कारीगरों को भी यहां पर बुलाया गया। माहेश्वरी पंचायत पोल में माहेश्वरी समाज व महेश युवा संघ के संयुक्त तत्वावधान में सभी लोग त्योहार का लुत्फ उठा सके इसलिए दुकानों की तुलना में कम दरों पर मालपुआ व पकौड़ी बिक्री की गई।
मेले में उमड़ा लोगों का हुजूम
पर्व के अवसर पर डीडवाना रोड चेनार स्थित शक्कर तालाब पर मेला लगा। जिसमें पुरूष सपरिवार पहुंचे तो वहीं युवतियों, महिलाओं व युवाओं ने सेल्फी का भी आनंद लिया। परिवार के साथ पहुंचे लोग अपने साथ भोजन सामग्री लेकर पहुंचे तो कुछ लोगों ने दुकानों से मालपुए व पकौड़ी लेकर तालाब के पास पहुंचकर सपरिवार भोजन का आनंद लिया। वहीं सुहावने मौसम ने भी लोगों का आनन्द बढ़ा दिया। बच्चों ने अस्थाई दुकानों पर खिलौनों की खरीदारी की तो वहीं गर्मी से राहत पाने के लिए शिकंजी, आइसक्रिम, ज्यूस सहित अन्य चीजों का सेवन भी लोगों ने किया। चेनार सरपंच खींवसिंह सोलंकी ने बताया कि स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए मेले में प्रत्येक ठेले पर कचरा पात्र लगाए गए तथा सख्त हिदायत दी गई की मेले में कचरा पाया गया तो उन पर कार्रवाई भी की जाएगी। शांति व्यवस्था न बिगड़े इसलिए कोतवाली पुलिस, सदर पुलिस व यातायात पुलिस के कर्मचारी मुस्तैद रहे।
पितृ अमावस्या पर बही भजनों की सरिता
नागौर. पितृ अमावस्या पर रविवार को तिगरी बाजार मण्डल में हुए जागरण में भजनों की प्रस्तुतियां दी गई। लक्ष्मीनारायण सोनी ने बताया कि सुनील शर्मा ने गणपति वंदना से भजन संध्या की शुरुआत की। इसके बाद कलाकारों ने एक से बढकऱ एक भजनों की प्रस्तुति दी। शास्त्रीय संगीत के ख्यातिप्राप्त कलाकार भूराराम शर्मा के सुनाए भजन से श्रोता मंत्रमुग्ध हो गए। शास्त्रीय गायिका कलाकार चंद्रकांता खेरिवाल, भागीरथ खेरिवाल, लक्ष्मीनारायण सोनी, गोपाल अटल, मुन्नालाल सोनी, विनय वैष्णव, प्रीतम भट्ट, मांगीलाल देवड़ा, भुवनेश कंसारा, नरेंद्र पारीक, राधेश्याम वैष्णव कलाकारों ने प्रस्तुति दी। ऑर्गन पर श्याम अटल, ऑक्टोपड पर मुकेश, ढोलक पर कैलाश ने अपनी प्रस्तुति दी। व्यापार मंडल के रामकिशोर तिवाड़ी ने बताया कार्यक्रम में भजनों के साथ लोक संस्कृति गायन का भी संगम रहा। मंच संचालन गणेश जोशी ने किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned