बाल कल्याण समिति ने मांगी कुपोषित बच्चों की जानकारी

अभियान लाडेसर के तहत जिले में 3 लाख 9 हजार 33 बच्चों की हैल्थ स्क्रीनिंग, अब तक 3754 बच्चे कुपोषित मिले
अब तक जिले में 136 अतिकुपोषित बच्चे चिह्नित किए गए

By: shyam choudhary

Published: 10 Jun 2021, 12:33 PM IST

नागौर. जिले में कुपोषित और अतिकुपोषित बच्चों के चिह्नीकरण व उन्हें सुपोषण उपलब्ध कराने को लेकर महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा बरती गई सुस्ती को लेकर बुधवार को राजस्थान पत्रिका में ‘संसाधनों की कमी व कार्मिकों की सुस्ती ने जिले में बढ़ाया कुपोषण’ शीर्षक से समाचार प्रकाशित होने के बाद जिले की बाल कल्याण समिति ने विभाग से पूरी जानकारी तलब की है। साथ ही जिले के अस्पतालों में बंद पड़े एमटीसी वार्डों को चालू करने व बच्चों के उपचार की सुचारू व्यवस्था करने के लिए सीएमएचओ से भी जानकारी मांगी गई है।

गौरतलब है कि कोरोना के संक्रमण की तीसरी लहर की आंशका को देखते हुए जिला कलक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी के निर्देश पर जिले में अभिनव अभियान लाडेसर चलाया जा रहा है, जिसके तहत 9 जून तक जिले में 3 लाख 9 हजार 33 बच्चों की हैल्थ स्क्रीनिंग का काम पूरा हो चुका है।

अभियान लाडेसर के तहत जिले की समस्त गांवों तथा नगर निकायों के वार्डों में हैल्थ टीमों द्वारा कुपोषित बच्चों के साथ-साथ रक्त अल्पतावाली बालिकाओं का चिह्नीकरण किया जा रहा है। 27 मई को शुरू किए इस अभियान में 3754 बच्चे कुपोषित तथा 136 बच्चे अतिकुपोषित पाए गए हैं। अभियान के तहत चिह्नित किए गए अतिकुपोषित बच्चों को निकटवर्ती राजकीय चिकित्सा संस्थान में रेफर किया जा रहा है। इसके साथ कुपोषित श्रेणी में चिह्नित किए गए बच्चों को लाडेसर पोषक किट वितरित किए जा रहे हैं, जिसमें स्थानीय स्तर पर भामाशाहों व समाजसेवी सहयोग कर रहे हैं।

जानकारी मांगी है
कुपोषित एवं अतिकुपोषित बच्चों के मामले में महिला एवं बाल विकास विभाग नागौर के उप निदेशक से सपूर्ण जानकारी तलब की गई है। व्यवस्थाओं में कहां खामियां रही, इसको लेकर विस्तृत समीक्षा की जाएगी। वहीं मेड़ता, कुचामन एवं परबतसर के एमटीसी वार्ड में बच्चों का बेहतर इलाज हो तथा बंद वार्ड को लेकर इलाज के लिए और क्या विकल्प हो सकते हैं, इस सबन्ध में सीएमएचओ से जानकारी मांगी गई है।
- मनोज सोनी, अध्यक्ष, बाल कल्याण समिति, नागौर

Show More
shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned