नागौर पहुंची सीआईडी- सीबी की टीम, आज लेगी बयान, नागौर पुलिस ने सौंपी फाइल

नागौर पहुंची सीआईडी- सीबी की टीम, आज लेगी बयान, नागौर पुलिस ने सौंपी फाइल

Shyam Lal Choudhary | Updated: 07 Aug 2019, 11:17:09 AM (IST) Nagaur, Nagaur, Rajasthan, India

CID-CB team reaches Nagaur, will take statement today, Nagaur police handed over file, नर्सिंग छात्रा की मौत का मामला - पोस्टमार्टम के बाद परिजनों ने किया अंतिम संस्कार

 

CID-CB team reaches Nagaur, will take statement today नागौर. शहर के डीडवाना रोड स्थित नर्सिंग कॉलेज के छात्रावास में हुई एक छात्रा की मौत narsing student case मामले की जांच करने के लिए मंगलवार को सीआईडी-सीबी की टीम CID-CB team reaches Nagaur नागौर पहुंच गई। उधर, छात्रा के शव का जोधपुर मेडिकल कॉलेज में पोस्टमार्टम के बाद मंगलवार सुबह गांव माडपुरा में परिजनों ने अंतिम संस्कार कर दिया।

जानकारी के अनुसार विधानसभा में मामला उठने के बाद संसदीय मामलात विभाग मंत्री शांतिकुमार धारीवाल द्वारा दिए गए आश्वासन के दूसरे ही दिन मामले की जांच करने के किलए सीआईडी-सीबी की टीम के एएसपी के नेतृत्व में नागौर पहुंची तथा यहां पहुंचकर एसपी डॉ. विकास पाठक से मुलाकात की और मामले की जानकारी ली। एसपी के निर्देशन में कॉलेज संचालक पुखराज, धर्मेन्द्र व अन्य के खिलाफ कोतवाली थाने में दर्ज हत्या के मामले की फाइल सीआईडी-सीबी की टीम को सुपुर्द कर दी गई।

उधर, खींवसर के माडपुरा में मंगलवार सुबह छात्रा के शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। सोमवार शाम को अजमेर रेंज आईजी की मध्यस्ता से बनी सहमति के बाद मृतका के शव को जोधपुर ले जाया गया था, जहां पर मेडिकल कॉलेज में पोस्टमार्टम किया गया। छात्रा बिन्दु चौधरी के शव को पोस्टमार्टम के बाद माडपुरा लाया गया, जहां पर उसके परिजनों व ग्रामीणों की मौजूदगी में अंतिम संस्कार कर दिया गया। मेडिकल कॉलेज द्वारा पोस्टमार्टम रिपोर्ट सीआईडी सीबी को भेजी जाएगी।

मंत्री धारीवाल ने विधानसभा में कहा - एडीजी करेंगे मॉनिटरिंग
सोमवार सुबह नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया Leader of the Opposition Gulabchand Kataria ने विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी की विशेष अनुमति से नागौर के माडपुरा की नर्सिंग छात्रा बिन्दु चौधरी की मौत का मामला विधानसभा में उठाते हुए कहा कि कोई बड़ा द्वेष नहीं फैले, इसलिए समय रहते सरकार को इस प्रकरण में कार्रवाई करनी चाहिए। कटारिया द्वारा मामला उठाने के बाद विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने सरकार को निर्देश देते हुए कहा कि सरकार इस संवेदनशील मामले में रिपोर्ट तलब करके शाम तक सदन में जवाब दे, जिस पर उसी दिन शाम को स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने जवाब पेश करते हुए कहा कि नागौर में छात्रा की मौत मामले में कुछ काम कानून से हटकर हुए हैं। इसलिए मामला गंभीर है और पूरे मामले की जांच सीआईडी-सीबी को सौंपी गई है। मंत्री ने कहा कि जांच की मॉनिटरिंग सीआईडी-सीबी के एडीजी खुद करेंगे। मंत्री के आश्वासन के बाद मंगलवार को ही सीआईडी-सीबी की टीम नागौर पहुंच गई और जांच शुरू कर दी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned