सफाई के प्रति बदला शहरवासियों का नजरिया, नगर परिषद जारी रखेगी सफाई अभियान

Dharmendra gaur

Publish: Jan, 14 2018 07:07:07 AM (IST)

Nagaur, Rajasthan, India

स्वच्छता अभियान के तहत देश भर में चार हजार से ज्यादा शहरों में करवाए जा रहे स्वच्छता सर्वे से अभियान को गति मिली है।

नागौर. स्वच्छता अभियान के तहत देश भर में चार हजार से ज्यादा शहरों में करवाए जा रहे स्वच्छता सर्वे से अभियान को गति मिली है। शहर को साफ-सुथरा बनाने व रेंकिंग में सुधार के लिए नगर परिषद की ओर से सर्वे की गाइडलाइन के अनुसार की गई व्यवस्थाओं से शहर की सफाई व्यवस्था में काफी हद तक सुधार हुआ है। घर-घर कचरा संग्रहण की व्यवस्था से सफाई के प्रति गृहिणियों की सोच में बदलाव आया है। पहले जहां घर का कचरा सीधे सडक़ पर मिलता था वहीं अब टेक्सी पर बज रहा संगीत सुनकर बच्चे व महिलाएं कचरा लेकर घरों से बाहर आ जाते हैं।
दिखने लगा बदलाव का असर
स्वच्छता अभियान के तहत सर्वे से जिम्मेदार हरकत में आए और जिससे शहर में सफाई की दृष्टि से बदलाव नजर आ रहा है। डोर टू डोर कचरा संग्रहण व्यवस्था व टेम्पो पर बज रहा संगीत सुनकर लोगों के कदम खुद ब खुद घर से बाहर निकल पड़ते हैं। वार्ड व मोहल्ले में आने वाले वाहन का इंतजार करते लोगों को देखा जा सकता है। नगर परिषद ने शहर में सफाई व्यवस्था को लेकर व्यवस्था में बदलाव करते हुए कुछ क्षेत्रों में रात्रिकालीन व्यवस्था भी शुरू की ताकि सडक़ें साफ-सुथरी रहे।
बेहतर होगी सफाई व्यवस्था
पहले कचरा संग्रहण टेम्पो को लेकर यह शिकायतें आती थी कि गली या मोहल्ले में टेम्पो पहुंचा ही नहीं लेकिन वाहनों में जीपीएस सिस्टम होने से वाहनों की लोकेशन नगर परिषद कार्यालय से देखी जा सकती है। सर्वे में रेंकिंग सुधार के लिए किए गए बदलावों के बाद आए अच्छे परिणाम से उत्साहित नगर परिषद अधिकारी इस व्यवस्था को जारी रख रहे हैं ताकि शहर स्वच्छ व सुंदर बना रहे। हालांकि पूरे शहर में सफाई के लिहाज से बहुत कुछ किया जाना बाकी है। वार्डवार सफाई से स्वच्छता अभियान को गति मिली है।

जारी रहेगी कवायद
सर्वे की कवायद से काफी फायदा हुआ है। रेंकिंग सुधार के लिए किए गए प्रयासों को लगातार जारी रखेंगे ताकि शहर साफ-सुथरा व सुंदर बने।
नरेन्द्र चौधरी, मुख्य स्वच्छता निरीक्षक, नगर परिषद नागौर

सोचा में बदलाव जरूरी
सरकारी तंत्र के भरोसे रहकर सुधार की उम्मीद करना सही नहीं है। शहर को सुंदर व स्वच्छ बनाने के लिए सोच में बदलाव भी जरुरी है।
रामकन्या मणिहार, ब्रांड एम्बेसडर,नगर परिषद नागौर

जिम्मेदारी समझें शहरवासी
शहर को साफ-सुथरा रखना शहरवासियों की भी जिम्मेदारी है। निश्चित रूप से सर्वे को लेकर की गई कवायद से सफाई व्यवस्था में बदलाव आया है।
रेखा बेड़ा, ब्रांड एम्बेसडर, नगर परिषद नागौर

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned