scriptमैथी खरीद में पहले ही दिन विवाद |Controversy over fenugreek purchase on the first day | Patrika News
नागौर

मैथी खरीद में पहले ही दिन विवाद

8 Photos
3 months ago
1/8

अस्थाई मैथी मंडी में खरीद शुरू तो हुई, लेकिन कुछ देर बाद ही विवाद होने पर व्यापारी लौट आए। इसके बाद किसानों ने भी कलक्ट्रेट का घेराव करने का निर्णय लेकर मैथी से भरे सैकड़ों वाहन लेकर शहर की ओर कूच किया। इसकी सूचना मिलने पर पुलिस ने किसानों के मैथी से भरे वाहनों को पशु प्रदर्शनी स्थल पर खड़ा करवाया।

2/8

नागौर. करीब सप्ताह भर बाद खरीद होने पर मैथी लेकर पहुंचे वाहनों की लम्बी कतार लग गई

3/8

व्यापारियों ने कहा ऐसी परिस्थिति में नहीं करेंगे खरीद खरीद बंद करने के बाद मैथी पत्ता व सूखा साग व्यापार मंडल के अध्यक्ष रामस्वरूप चांडक की अध्यक्षता में मैथी व्यापारियों की बैठक हुई। बैठक में चर्चा के बाद खरीद नहीं करने का निर्णय किया। अध्यक्ष चांडक ने बताया कि सोमवार को खरीद प्रक्रिया सुचारू रूप से चल रही थी, लेकिन कुछ किसानों ने व्यवस्था भंग कर दी और व्यापारियों से हाथापाई करने को उतारू ाहो गए, इसलिए व्यापारी ऐसी परिस्थिति में खरीद नहीं कर सकते।

4/8

नागौरी पान मैथी

5/8

मैथी खरीद में पहले ही दिन विवाद, व्यापारी लौटे, किसानों ने किया कलक्ट्रेट घेरने का प्रयास

6/8

नागौर. नागौरी पान मैथी खरीद को लेकर करीब एक सप्ताह पहले उपजा विवाद शांत होने का नाम नहीं ले रहा है। गत शुक्रवार को मंडी सचिव रघुनाथराम सिंवर की मौजूदगी में हुई किसानों व व्यापारियों की बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार सोमवार को अठियासन के पास बनाई गई अस्थाई मैथी मंडी में खरीद शुरू तो हुई, लेकिन कुछ देर बाद ही विवाद होने पर व्यापारी लौट आए। इसके बाद किसानों ने भी कलक्ट्रेट का घेराव करने का निर्णय लेकर मैथी से भरे सैकड़ों वाहन लेकर शहर की ओर कूच किया। इसकी सूचना मिलने पर पुलिस ने किसानों के मैथी से भरे वाहनों को पशु प्रदर्शनी स्थल पर खड़ा करवाया। इसके बाद किसान रैली के रूप में कलक्ट्रेट पहुंचे तथा भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष अर्जुनराम लोमरोड़ के नेतृत्व में कलक्टर से मिलकर अपनी समस्या बताई।

7/8

किसानों ने बताया कि मैथी एक ऐसी फसल है, जिसे वे ज्यादा दिन स्टॉक करके नहीं रख सकते और व्यापारी इसी का फायदा उठाकर माल खरीदने से मना कर रहे हैं, ताकि पुरानी व्यवस्था पर मैथी बेचने को मजबूर हो जाएं। इस पर कलक्टर डॉ. अमित कुमार यादव ने मंडी सचिव को बुलाकर चर्चा की। व्यापारियों से बात कर मैथी खरीद शुरू करवाने के लिए कहा, इस पर मंडी सचिव सिंवर ने मंगलवार को व्यापारियों के साथ बैठक कर समाधान निकालने का आश्वासन दिया।

8/8

वाहन लेकर आए शहर में मैथी की खरीद बंद होने पर किसान नाराज हो गए और मैथी से भरे ट्रेक्टर लेकर शहर में आए गए। हालांकि किसानों ने कलक्ट्रेट के घेराव का निर्णय लिया, लेकिन मानासर पहुंचने पर पुलिस ने वाहनों को पशु प्रदर्शनी स्थल पर खड़ा करवाया। इसके बाद किसान पैदल कलक्ट्रेट पहुंचे तथा कलक्टर से मिलकर अपनी बात रखी। कलक्टर के आश्वासन पर किसान वापस रवाना हुए।

अगली गैलरी
लोकनृत्य के रंग में डूबा रामदेव पशु मेला
next
loader
Copyright © 2024 Patrika Group. All Rights Reserved.