नागौर जिले में कोरोना पॉजिटिव 8 हजार पार, कलक्टर ने फिर लगाई धारा-144

राज्य सरकार के निर्देश पर जिला कलक्टर ने जारी किए आदेश, 20 जनवरी तक रहेंगे प्रभावी

By: shyam choudhary

Published: 21 Nov 2020, 09:46 PM IST

नागौर. जिले सहित प्रदेश भर में कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने तथा बचाव के लिए राज्य सरकार के निर्देश पर जिला कलक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी ने नागौर जिले में में धारा-144 लागू कर दी है।
कलक्टर सोनी ने जारी आदेश में बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कोरोना वायरस (कोविड-19) को वैश्विक महामारी घोषित किए जाने की स्थिति में जनहित एवं मानव जीवन की सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए गृह (ग्रुप-9) विभाग, राजस्थान जयपुर ने 19 नवम्बर से विषम/चिकित्सकीय आपातिक परिस्थितियों में मानव स्वास्थ्य/मानव जीवन के संकट से निवारण के लिए लोकहित एवं मानव जीवन की सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए कतिपय निर्देश प्रदान किए गए हैं।

शादी समारोह में 100 लोगों को अनुमति, नियमों की पालना करनी होगी
कलक्टर सोनी ने गृह विभाग के निर्देशों की अनुपालना में नागौर जिले की सम्पूर्ण राजस्व सीमा में निवासरत नागरिकों के स्वास्थ्य की सुरक्षा एवं लोक परिशान्ति बनाए रखने की दृष्टि से दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के तहत निम्न निर्देश जारी किए हैं -

  • सार्वजनिक स्थानों पर पांच या पांच से अधिक व्यक्तियों के आवागमन या एकत्रित होने पर प्रतिबंध रहेगा तथा सार्वजनिक जगहों पर 5 व्यक्ति भी मास्क पहनने और सामाजिक दूरी के नियमों का कठोरता से पालन करेंगे।
  • विवाह संबंधी आयोजनों के लिए आयोजनकर्ता द्वारा अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट नागौर/उपखण्ड मजिस्ट्रेट को पूर्व सूचना देनी होगी। कार्यक्रम के दौरान सामाजिक दूरी सुनिश्चित की जाएगी। अधिकतम मेहमानों की संख्या 100 से अधिक नहीं होगी तथा फेस मास्क पहनने, सामाजिक दूरी एवं थर्मल स्केनिंग, हैण्डवाश और सेनेटाइजर सहित मेडिकल प्रोटोकॉल की आवश्यक रूप पालना करनी होगी।
  • धार्मिक कार्यक्रम तथा अन्य बड़े सामूहिक कार्यक्रम रैली, जूलूस, सभा आदि पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे।
  • अंत्येष्टि/अंतिम संस्कार संबंधी कार्यक्रम में फेस मास्क पहनने, सामाजिक दूरी एवं थर्मल स्केनिंग, हैण्डवाश और सेनेटाइजर की पालना सुनिश्चित की जाएगी तथा अनुमत व्यक्तियों की संख्या 20 से अधिक नहीं होगी। राज्य सरकार द्वारा जारी सभी आदेश/निर्देश/मेडिकल प्रोटोकॉल की आवश्यक रूप से पालना करनी होगी।
  • विशेष : यहां रहेगी छूट
    उक्त प्रतिबंध से निर्वाचन प्रक्रिया, रेलवे स्टेशन, बस स्टैण्ड, चिकित्सा संस्थान, राजकीय एवं सार्वजनिक कार्यालय, विद्यालय व महाविद्यालय में प्रयुक्त होने वाले परीक्षा कक्ष स्थानों को अपवाद स्वरूप मुक्त रखा गया है।

अवहेलना करने पर होगी कार्रवाई
कलक्टर ने स्पष्ट उल्लेख करते हुए बताया कि इस आदेश की अवहेलना करने पर सम्बन्धित व्यक्ति के खिलाफ भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 एवं राजस्थान महामारी रोग अध्यादेश- 2020, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 सहित अन्य सुसंगत विधिक प्रावधानों के अन्तर्गत कार्रवाई की जाएगी। यह आदेश आगामी 20 जनवरी 2021 तक प्रभावी रहेंगे।

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned