scriptशहीदों के सम्मान के लिए साइकिल यात्रा | Patrika News
नागौर

शहीदों के सम्मान के लिए साइकिल यात्रा

नागौर. जोधपुर शहर के एक युवा के सिर पर ऐसा जुनून चढ़ा कि वह पिछले चार साल से विभिन्न मुद्दों को लेकर साइकिल यात्रा कर रहा है। इस बार इस युवा ने शहीदों के परिवारों को सम्मान दिलाने के इरादे से गत नौ जून को यात्रा शुरू की है। यात्रा करता हुआ वह सोमवार को नागौर पहुंचा।

नागौरJul 03, 2024 / 05:08 pm

Ravindra Mishra

nagaur patrika

नागौर शहर में पहुंचे नरपत

अब तक 15 से ज्यादा शहीद परिवारों से मिल चुकेजोधपुर के नरपत

सरकार की अधूरी घोषणाओं को पूरा करवाने का प्रयास

नागौर. जोधपुर शहर के एक युवा के सिर पर ऐसा जुनून चढ़ा कि वह पिछले चार साल से विभिन्न मुद्दों को लेकर साइकिल यात्रा कर रहा है। इस बार इस युवा ने शहीदों के परिवारों को सम्मान दिलाने के इरादे से गत नौ जून को यात्रा शुरू की है। यात्रा करता हुआ वह सोमवार को नागौर पहुंचा। मंगलवार को नागौर शहर के आसपास के चार शहीद परिवारों से मिलकर उनकी समस्याएं एवं सरकार की ओर से की गई घोषणाओं के बारे में जाना।
जोधपुर के माता का थान क्षेत्र निवासी नरपत गेहलोत ने पत्रिका से बातचीत में बताया कि प्रदेश में ऐसे कई शहीद परिवार हैं, जो विभिन्न समस्याओं से जूझ रहे हैं। जब जवान शहीद होते हैं, तब सरकार मोटी-मोटी घोषणाएं कर देती हैं, लेकिन उनमें से कई पूरी नहीं होती। उनकी साइकिल यात्रा का उद्देश्य यही है कि यदि किसी शहीद परिवार के लिए की गई घोषणा पूरी नहीं हुई है तो उसको लेकर सरकार एवं सेना के अधिकारियों को पत्र के माध्यम से अवगत करवाएं। यदि किसी परिवार की आर्थिक हालत ठीक नहीं है तो उसकी मदद भी करे। नरपत ने अब तक पोकरण, रामदेवरा, जैसलमेर की यात्रा पूरी की है और अब दो दिन से नागौर जिले की यात्रा कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि इससे पहले उसने वर्ष 2021 में 6 हजार किलोमीटर की साइकिल यात्रा कोविड-19 को लेकर की थी। इसके बाद वर्ष 2023 में 16 हजार किलोमीटर की धार्मिक यात्रा की, जिसमें करीब पांच महीने लगे और 20 राज्य में गए।

Hindi News/ Nagaur / शहीदों के सम्मान के लिए साइकिल यात्रा

ट्रेंडिंग वीडियो