सतर्क हुआ विभाग, 855 का किया स्वास्थ्य परीक्षण

https://www.patrika.com/nagaur-news/

By: Anuj Chhangani

Published: 30 Dec 2018, 10:08 PM IST

खींवसर. आकला गांव में दो दिन पूर्व स्वाइन फ्लू से हुई एक बुजुर्ग की मौत के बाद चिकित्सा विभाग पूरी तरह सतर्कता बरत रहा है। चिकित्सा विभाग द्वारा गठित पांच टीमों ने शनिवार को आकला गांव सहित ढाणियों में सर्वे कर 855 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर स्वाइन फ्लू रोधी दवा दी। खींवसर चिकित्सालय के डॉ. रामजीत टाक के नेतृत्व में पांच टीमों ने शनिवार को आकला गांव की ढाणियों में विशेष सर्वे किया। डॉ. टाक ने बताया कि आकला गांव में शनिवार को किए गए सर्वे में 855 लोगों की जांच की गई है। इनमें सामान्य सर्दी जुकाम के 82 मरीज पाए गए जिनकी जांच कर दवाई दी गई। साथ ही स्वाइन फ्लू से हुई मौत में मृतक हिम्मताराम सियाग के सभी परिजनों के स्वास्थ्य का परीक्षण कर दवाई दी गई। डॉ. टाक ने बताया कि स्वाइन फ्लू से हुई मौत के बाद विभाग द्वारा पूरी सतर्कता बरती जा रही है। पांचों टीमों ने दिनभर ढाणियों में जाकर विशेष सर्वे कर दवाई दी है। स्वाइन फ्लू के बढ़तेे कहर को देखते हुए आकला में शनिवार को राजकीय आयुर्वेद औषधालय के आयुर्वेद चिकित्साधारी डॉ. गोपीकिशन शर्मा के नेतृत्व में ग्राम पंचायत आकला में करीब 5 हजार लोगों को स्वाइन फ्लू रोधी काढ़ा पिलाया गया। इस अवसर पर परिचारक राजेन्द्र सिंह सहित ग्रामवासियों ने काढ़ा वितरण में सहयोग किया।

Anuj Chhangani Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned