जनता तक जल पहुंचाने वाले महकमे में ही जल जमाव, बन गया बड़ा तालाब

जलदाय विभाग कार्यालय के पास पाइप लाइन में लीकेज से व्यर्थ बह रहा पानी, नगर परिषद के पास मरम्मत का जिम्मा, शिकायत के बाद भी कान नहीं धर रहे

By: Jitesh kumar Rawal

Updated: 26 Jun 2020, 08:21 PM IST

नागौर. जलापूर्ति का जिम्मा परिषद के पास है और जनता तक जल पहुंचाने वाले विभाग में ही जल जमाव हो रहा है। लेकिन, मरम्मत का जिम्मा नगर परिषद के पास होने से बूंद-बूंद पानी बचाने की शिक्षा देने वाला विभाग मानों पंगु नजर आ रहा है। हालांकि अधिकारी नगर परिषद को इस सम्बंध में जानकारी भी दे चुके हैं, लेकिन शिकायत के बाद भी कोई कान नहीं धर रहा। शहर में जलदाय विभाग कार्यालय परिसर एवं बाहर पाइप लाइन में लीकेज होने से पानी व्यर्थ बह रहा है। मरम्मत के अभाव में यहां तालाब सा बन गया है, लेकिन न तो मरम्मत हो रही है और न ही पानी का बहाव रूक रहा है। लाइनों का जिम्मा नगर परिषद के पास होने से जलदाय विभाग इसकी शिकायत करने या सुझाव देने के अलावा कुछ नहीं कर पा रहा। उधर, नगर परिषद आयुक्त से भी इस सम्बंध में बात करने का प्रयास किया गया, लेकिन फोन रिसीव नहीं किया।

हलक तक नहीं पहुंच रहा पानी
शहर में जलापूर्ति की व्यवस्था नगर परिषद के पास है, लेकिन रख-रखाव पर ध्यान नहीं दिया जा रहा। इससे शहर के कई हिस्सों में लीकेज की समस्या है। जलापूर्ति के दौरान काफी पानी इन लीकेज के जरिए ही व्यर्थ बह जाता है। ऐसे में लोगों के हलक तक पहुंचने वाला जल नालों में बह रहा है।

आवाजाही में झेल रहे समस्या
जलदाय विभाग कार्यालय के पास लाइन में काफी समय से लीकेज है। यहीं कारण है कि कार्यालय परिसर में पीछे की तरफ बड़ा तालाब सा बन गया है। परिसर के मुख्यद्वार के आसपास भी लाइनों में लीकेज से पानी बहता रहता है। पानी भरा रहने से कार्यालय में आने वाले कर्मचारी एवं लोग भारी समस्याओं से दो-चार हो रहे हैं।

पानी फैल रहा है...
जलापूर्ति का पूरा कार्य नगर परिषद के पास है इसलिए मरम्मत भी वे ही करेंगे। हमने नगर परिषद के कर्मचारी को कह दिया है, लेकिन अभी तक मरम्मत नहीं हुई है। लीकेज के कारण परिसर में काफी पानी फैल रहा है।
- भंवराराम चौधरी, अधीक्षण अभियंता, जलदाय विभाग, नागौर

Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned