सडक़ साइड में पटरी खोदी, खाई दे रही हादसों को न्योता

https://www.patrika.com/nagaur-news/

By: Anuj Chhangani

Published: 19 Jan 2019, 06:24 PM IST

खींवसर. कस्बे के ओसियां मार्ग पर सडक़ विस्तार को लेकर चल रहे कार्य में कार्यकारी एजेन्सी द्वारा बरती जा रही ढिलाई से सडक़ हादसे हो रहे हैं, लेकिन सार्वजनिक निर्माण विभाग कार्य में गति लाने को लेकर कोई कार्यवाही नहीं कर रहा है। कांटिया से पिपलिया तक सडक़ की पटरी पिछले पखवाड़े से खोदी हुई है। खाई के कारण आए दिन सडक़ हादसे हो रहे हैं, लेकिन कार्यकारी एजेन्सी न तो वाहन चालकों के दुर्घटना बचाव के उपाय कर रही है और न ही कार्य में गति ला रही है। इस कारण वाहन चालक भयभीत है। रात्रि के समय इस मार्ग से गुजरना खतरे से खाली नहीं है। रतकुडिय़ा बैरा से लेकर पिपलिया तक जगह-जगह सडक़ से चिपते खाई कर दी है और इसे पाटने का काम भी नहीं किया जा रहा है। सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा खींवसर-ओसियां मार्ग के विस्तार एवं नवीनीकरण का इन दिनों कार्य चल रहा है। पिछले १० दिन से खोदी गई खाई से प्रतिदिन छोटी-बड़ी दुर्घटनाएं हो रही है। हादसों को लेकर सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारी कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं। दस दिन से अधिक का समय होने के बाद भी डामर सडक़ की साइड पटरी का निर्माण नहीं किया गया है।

पिछले दिनों हो चुकी मौत
पिछले दिनों बिरलोका से पांचला आ रहे एक युवक की इस खाई के कारण दुर्घटना हो गई थी और युवक ने घायल अवस्था में दम तोड़ दिया। हर समय अनहोनी की सम्भावना बनी हुई है। पहले से ही सडक़ की कम चौड़ाई के बाद यातायात दबाव बना हुआ है। इसके बाद सडक़ की पटरी पर खाई खोद देने से हालात अत्यंत गम्भीर हो गए है।

खाई में गिरते है छोटे वाहन
ग्रामीणों का आरोप है कि सडक़ निर्माण कार्य एजेन्सी ने सडक़ की साइड पटरी नहीं बनाई है तथा खाई खोदने के साथ खाई के पास पड़ी मिट्टी से छोटे वाहन फिसलकर खाई में गिर जाते है। आम राहगीरों, वाहन चालकों को साइड देने को लेकर परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, वहीं वाहन चालकों को रात के समय में सामने से आने वाले वाहनों की रोशनी से खाई दिखाई नहीं देने के कारण हादसे हो रहे है। ग्रामीणों का आरोप है कि सडक़ निर्माण कार्य कम्पनी द्वारा सडक़ की पटरी बनानी थी, लेकिन वहां पर सडक़ के किनारे खाई खोद दी है। खींवसर से ओसियां के मुख्य मार्ग पर दिनभर दर्जनों गांवों के ग्रामीणों सहित पर्यटकों का आवागमन रहता है, फिर भी विभाग इस मामले में गम्भीरता नहीं दिखा रहा है।

Anuj Chhangani Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned