राशन डीलर की धांधली से परेशान ग्रामीण पहुंचे उपखण्ड कार्यालय

उपखण्ड अधिकारी को दिया ज्ञापन

By: Dharmendra gaur

Updated: 03 Jan 2019, 07:17 PM IST

नावां शहर. जहां सरकार व रसद विभाग राशन में दिए जाने वाली खाद्य सामग्री में भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करने के लिए नित नए प्रयास कर रही है वहीं राशन डीलर कोई ना कोई तरीका निकाल ही लेते है। अनपढ़ लोगों से अंगूठा लगाने के बाद गेहंू देकर केरोसीन भी चढ़ा दिया जाता है। जिससे लोगों को आवश्यकता पडऩे पर भारी समस्या का सामना करना पड़ता है। ऐसी ही एक समस्या को लेकर ग्राम गोविन्दी के लोगों ने गुरुवार को उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन देकर राशन डीलर की ओर से ऑनलाइन प्रत्येक माह राशन कार्ड से तेल व गेहंू वितरण किया जाता है, लेकिन उपभोक्ताओं को नहीं दिया जाता है। उपखण्ड अधिकारी ने ग्रामीणों की समस्या सुन कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। ग्राम पंचायत गोविन्दी के लोगों ने उपखण्ड अधिकारी रामसुख गुर्जर को ज्ञापन देकर बताया कि दिसम्बर माह में गेहू का स्टॉक अभी तक राशन डीलर के पास नहीं आया है, लेकिन ग्रामवासियों के परिवान राशन कार्ड में गेहूं वितरित किया जा चुका है। ग्रामवासियों के मोबाइल में मैसेज भी आया गया है लेकिन गेहूं नहीं मिल रहा है। उपभोक्ता के पास मोबाइल में जो मैसेज आता है उसमें 5 लीटर केरोसीन दर्शाया जाता है जबकि उपभोक्ता को केरोसीन 2.5 लीटर ही दिया जाता है। ग्राम पंचायत गोविन्दी के राशन डीलर की ओर से फिंगर प्रिन्ट पोस मशीन में कभी राजास व खैरवा की ढाणी में करवाया जाता है, लेकिन खाद्य सामग्री अपने निवास स्थान रुलानियों की ढाणी में दिया जाता है।
जांच कर की जाएगी कार्रवाई
ग्रामीणों की समस्या पर अमल करने के पश्चात उपखण्ड अधिकारी रामसुख गुर्जर ने बताया कि इस मामले पर राशन डीलर की जांच की जाएगी तथा दोषी पाए जाए पर सख्त कार्रवाई भी की जाएगी।

Show More
Dharmendra gaur Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned