वीडियो : जारोड़ा में बारात रवाना होते समय डीजे पलटा, नीचे दबने से फोटोग्राफर की मौत

Nagaur News प्रतिबंध के बावजूद बेरोक-टोक सड़कों पर दौड़ रहे डीजे, चार दिनों में दूसरी घटना

By: Rudresh Sharma

Published: 30 Nov 2020, 08:33 PM IST

मेड़ता सिटी. जिले में डीजे पर रोक के बावजूद बेरोक-टोक शादी समारोह में डीजे का उपयोग हो रहा है। चार दिनों में प्रतिबंधित डीजे ने दो जाने ले ली है। डीजे पर नकेल कसने में प्रशासन की सुस्ती से सोमवार को जारोड़ा कलां गांव में भी शादी में जा रहा एक डीजे पलट गया। जिससे एक फोटोग्राफर की नीचे दबने से मौत हो गई।


हुआ यों कि समीपस्थ जारोड़ा कलां गांव में एक शादी समारोह में हंसी-खुशी के साथ बारात प्रस्थान हो रही थी। इस दौरान बारातियों के नाचने-गाने को लेकर डीजे भी मंगवाया गया था। गांव से बाहर निकलते समय अचानक डीजे अनियंत्रित होकर के पलट गया। जिससे बारात में फोटोग्राफी कर रहा फोटोग्राफर देशवाल गांव निवासी ओम सिंह (21) पुत्र सुमेरसिंह राजपूत नीचे दब गया। ग्रामीण तथा बारातियों ने मिलकर के डीजे के नीचे दबे फोटोग्राफर को मेड़ता सिटी सामुदायिक चिकित्सालय पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने युवक को मृत घोषित कर दिया।

मेड़ता शहर हैड कांस्टेबल शिवरतन ने फोटोग्राफर के शव को मोर्चरी में रखवाया। लोडिंग जीप की डीजे के नीचे दबकर युवक की मौत होने से सभी बाराती हक्के-बक्के रह गए। दोपहर 1 बजे मेड़ता रोड थाना पुलिस को घटना की जानकारी मिली। थानाधिकारी छीतर सिंह ने जारोड़ा गांव पहुंचकर मौका मुआयना किया तथा मृतक का पोस्टमार्टम करवा परिजनों के सुपर्द किया। दूसरी तरफ मृतक के पिता सुमेरसिंह ने मामला दर्ज करवाया कि मेरा पुत्र ओमसिंह शादी में फोटोग्राफी करने गया था। बारात निकलते समय डीजे चालक की ओर से लापरवाही से वाहन चलाने से डीजे के नीचे दबकर पुत्र की मौत हो गई। जब पुलिस मौके पर पहुंची तो डीजे घटनास्थल पर नहीं था। पुलिस ने कंकेड़ा गांव के डीजे मालिक के खिलाफ कार्रवाई शुरू की। उल्लेखनीय है कि दो दिन पहले प्रतिबंधित डीजे से डेह के समीपस्थ छापड़ा गांव में मेघवाल समाज के शादी समारोह में नागौर निवासी सुरेंद्र कालवा पुत्र कानाराम की मौत हो गई थी।


घटना के बाद चेती पुलिस, मेड़ता रोड में एक डीजे जब्त
नागौर जिले में डीजे प्रबिंधित होने के बावजूद बेरोक-टोक इनका संचालन हो रहा है। लॉकडाउन में सभी तरह की गतिविधियां बंद रहने व शादियों में प्रतिबंधित डीजे पर अंकुश लगा रहा। लेकिन अब फिर से बैंड, डीजे पर छूट मिलने के बाद डीजे चालकों के हौसले बुलंद हो गए हैं। जिले में चार दिनों में डीजे से दूसरी मौत हो जाने के बाद मेड़ता रोड थानाधिकारी ने कार्रवाई करते हुए एक डीजे जब्त किया है। वहीं मेड़ता सिटी की सड़कों पर प्रतिबंधित डीजे दौड़ते हुए दिखे।


इनका कहना है...
'जारोड़ा कलां में डीजे के नीचे दबने से एक फोटोग्राफर की मौत हुई है। प्रतिबंधित डीजे के खिलाफ कार्रवाई करते हुए मेड़ता रोड में एक अन्य डीजे जब्त किया गया है।'
- छीतर सिंह, थानाधिकारी, मेड़ता रोड

Rudresh Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned