दुगस्ताऊ हत्याकांड : एसपी के आश्वासन पर उठाया बलराम का शव

दुगस्ताऊ हत्याकांड : एसपी के आश्वासन पर उठाया बलराम का शव
Balaram's body raised on SP's assurance

Shyam Lal Choudhary | Updated: 09 Oct 2019, 11:13:13 AM (IST) Nagaur, Nagaur, Rajasthan, India

Dugastau slaughter : Balaram's body raised on SP's assurance, दुगस्ताऊ में मंगलवार को हुआ था दो गुटों में झगड़ा, फायरिंग में हुई थी बलराम की मौत, छह नामजद सहित पांच-छह अन्य के खिलाफ मामला दर्ज, आरोपियों की गिरफ्तार होने तक शव उठाने से इनकार
- लम्बे समय से चल रहा है दोनों गुटों में विवाद

नागौर/जायल. जिले के जायल थाना क्षेत्र के दुगस्ताऊ गांव में मंगलवार दोपहर को दो गुटों में आपसी रंजिश को लेकर हुए झगड़े में फायरिंग से बलराम की मौत मामले में एसपी डॉ. विकास पाठक के आश्वासन पर परिजनों ने बुधवार सुबह शव उठा लिया। मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम के बाद परिजनों ने शव लेकर गांव में अंतिम संस्कार कर दिया। परिजनों ने बताया कि एसपी ने उन्हें सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया है।

गौरतलब है कि मंगलवार दोपहर में हुए झगड़े के दौरान हिस्ट्रीशीट दिनेश उर्फ विक्की व उसके साथियों ने फायरिंग कर दी थी, जिससे बलराम सारण की अस्पताल में मौत गई थी। घटना के बाद परिजनों ने आरोपियों की गिरफ्तारी होने तक मृतक का शव उठाने से इनकार कर दिया था। मृतक के भाई जगदीश सारण की रिपोर्ट पर पुलिस ने छह नामजद सहित पांच-छह अन्य के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया।

जायल थानाधिकारी खेमाराम बिजारणियां ने बताया कि दुगस्ताऊ निवासी हिस्ट्रीशीटर जगदीश सारण व दूसरे गुट के हिस्ट्रीशीटर दिनेश उर्फ विक्की नेतड़ के बीच लम्बे समय से विवाद चल रहा है। मंगलवार को दुगस्ताऊ में दोनों पक्षों के बीच पहले गाली-गलौच हुआ और फिर झगड़े के दौरान आरोपियों ने बलराम सारण पर फायरिंग कर दी, जिससे बलराम सारण गंभीर घायल हो गया। फायरिंग की घटना के बाद बलराम को जायल चिकित्सालय ले जाया गया, जहां स्थिति गंभीर होने पर प्राथमिक उपचार के बाद उसे नागौर के जेएलएन जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया। यहां चिकित्सकों ने बलराम को मृत घोषित कर दिया।

मृतक के भाई जगदीश की रिपोर्ट पर आरोपी विक्की उर्फ दिनेश, दिनेश का भाई राजूराम, माता हाउदेवी, राजू देवी पत्नी दिनेश, रवि पुत्र गोपालराम एवं सरजू पत्नी गोपालराम सहित पांच-छह अन्य के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया।
पुलिस के अनुसार घटना के बाद हिस्ट्रीशीटर दिनेश व अन्य आरोपी मौके से फरार हो गए। पुलिस ने आरोपियों की धरपकड़ के लिए जिलेभर में नाकाबंदी करवाई तथा मामले की गंभीरता को देखते हुए गांव में पुलिस जाब्ता तैनात किया गया है।

घात लगाकर किया हमला
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दोनों गुट शराब का धंधा करते हैं। यह भी जानकारी मिली कि अवैध ब्रांच चलाने को लेकर दोनों गुटों में पिछले काफी समय से रंजिश चल रही है। मंगलवार को आरोपियों ने बलराम को ठिकाने लगाने की प्लानिंग बनाकर रेकी की। जायल से बाइक पर गांव जा रहे बलराम का पीछा कर गांव में घुसने पर उसे गाड़ी से टक्कर मारी, जिससे वह नीचे गिर गया। इस दौरान उस पर लाठियों से हमला कर दिया। घायल होने पर आरोपियों उस पर फायरिंग कर दी, जिससे वह गंभीर घायल हो गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned