scriptElectricity system derailed in light rain | हल्की बारिश में ही पटरी से उतरी बिजली व्यवस्था | Patrika News

हल्की बारिश में ही पटरी से उतरी बिजली व्यवस्था

Nagaur. रात में अघोषित शटडाउन व सुबह घोषित शटडाउन के बाद भी पूरे दिन बारिश के शटडाउन क़ी चपेट में रहा शहर
- शहर के कई इलाकों मे पूरी रात अंधेरा रहा, इंदिरा कॉलोनी वाले फीडर से क्षेत्र 27 घंटे बिजली से कटा रहा
- रखरखाव के नाम पर की जाने वाली तैयारियों की खुली पोल

नागौर

Updated: June 20, 2022 09:16:57 pm

नागौर. शहर में शनिवार को रात्रि आई हल्की बारिश में डिस्कॉम के तैयारियों की पोल खुल गई। जिला मुख्यालय के इंदिरा कॉलोनी फीडर से जुड़े क्षेत्र पूरी रात्रि अंधेरे में डूबे रहे। स्थिति यह रही करीब 27 घंटे तक यह इलाके पूरी तरह से डिस्कॉम से कटे रहे। शहर के अन्य क्षेत्रों में भी कुछ जगहों पर घंटों बिजली गायब रही। इसके कारण लोग गर्मी एवं उमस से परेशान डिस्कॉम को कोसते रहे। यह हालात तब है जबकि फाल्ट को दुरुस्त करने के लिए एफआरटी टीम सहित कनिष्ठ अभियंताओं पर प्रतिमाह हजारों की राशि का वहन करती है। इसके बाद भी बिजली व्यवस्था का पूरी तरह पटरी से उतरा रहना शहरवासियों के समझ से परे रहा।
हल्की बारिश में शहर की बिजली व्यवस्था पटरी से उतर गई। शनिवार रात्रि में अघोषित शटडाउन व सुबह घोषित शटडाउन के बाद भी रविवार को दोपहर में लगभग तीन बजे तक शहर के कई इलाके बारिश के शटडाउन की चपेट में आने से बिना बिजली के रहे। गर्मी एवं उमस की तपिश से परेशान हालात में एफआरटी टीम से लेकर कनिष्ठ अभियंता एवं नियंत्रण कक्ष तक से भी उपभोक्ताओं को कोई राहत नहीं मिली। बताया जाता है कि रात्रि में दस बजे से लेकर 12 रात्रि बजे के बीच बिजली की आपूर्ति व्यवस्था पटरी से उतरी तो फिर सुव्यवस्थित नहीं हो पाई। यह हालात शहर की इंदिरा कॉलोनी फीडर से जुड़े इलाकों के रहे। इन इलाकों में चौबीस घंटों से भी ज्यादा समय तक बिजली के अभाव में लोगों को अत्याधिक दिक्कतों का सामना करना पड़ा। इंदिरा कॉलोनी फीडर से जुड़े इलाकों में व्यास कॉलोनी, प्रतापसागर कॉलोनी एवं इसके आसपास के क्षेत्रों में बिजली के अभाव में गर्मी एवं उमस से परेशान लोगों की स्थिति बिगड़ गई। विशेषकर छोटे बच्चों एवं महिलाओं की हालत ज्यादा खराब रही। इस दौरान रह-रहकर हो रही हल्की बारिश भी गर्मी से परेशान लोगों को राहत नहीं दिला पाई। प्रतापसागर कॉलोनी के मुकेश एवं ललित ने बताया कि उनकी ओर से डिस्कॉम को इसकी जानकारी दिए जाने के बाद भी बिजली आपूर्ति व्यवस्था सुचारु नहीं हो पाई।
अघोषित कटौती पर भी होना चाहिए कार्रवाइयों का प्रावधान
डिस्कॉम की ओर से मानसून से पूर्व हर साल तैयारियों के दावे किए जाते हैं। इसी तैयारियों व रखरखाव के नाम पर डिस्कॉम की ओर से घंटों बिजली की आपूर्ति अक्सर बंद कर दी जाती है। इस प्रकार की घोषित कटौतियों के बाद भी अघोषित कटौती से शहर के विभिन्न इलाके आज भी जूझ रहे हैं। नया दरवाजा क्षेत्र के रमेश से बातचीत हुई तो कहा कि बिजली बिल का बकाया रहता है तो बिजली कनेक्शन कट कर दिया जाता है। अब ऐसे में बिना बताए बिजली आपूर्ति ठप होने पर भी जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाइयों के प्रावधान होने चाहिए। आखिर सरकार इन अभियंताओं की तैनातगी एवं रखरखाव के नाम पर निजी एजेंसी अनुबंधित करने का व्यय वसूली भी बिजली से ही की जाती है तो फिर इनके खिलाफ अघोषित कटौती पर कार्रवाइयां क्यों नहीं की जाती है।
डिस्कॉम जिम्मेदारों के नाम-नंबर क्षेत्रों में कराए चस्पॉ
शहरवासियों के अनुसार डिस्कॉम को संबंधित फीडर क्षेत्र में तैनात एवं एफआरटी टीम के प्रभारियों के नाम व मोबाइल नंबर चस्पॉ कराने चाहिए। ताकी लोग बिजली से संंबंधित समस्याओं के लिए क्षेत्रीय जिम्मेदार अधिकारियों को जानकारी दे सकें। हालांकि अधिकारियों का कहना है कि उनकी ओर से अधिकारियों व एफआरटी के जिम्मेदारों के नाम व नंबर से अंकित पर्चे वितरित कराए हैं।अब यह पर्चे कहां वितरित हुए हैं, किसको मिले हैं इसकी जानकारी तो डिस्कॉम अधिकारियों के पास भी नहीं है। लोगों का कहना है कि पुलिस की बीट की तर्ज पर बिजली विभाग को भी संबंधित क्षेत्रों में जिम्मेदारों के नंबर सार्वजनिक रूप से चस्पॉ कराने चाहिए। जनता की कॉल का जवाब नहीं दिए जाने वाले अधिकारियों के खिलाफ शिकायत से संबंधित अधिकारी के नाम व नंबर भी होने चाहिए। इससे लोग अपनी समस्या डिस्कॉम अधिकारियों से साझा कर सकेंगे।
इनका कहना है...
डिस्कॉम की ओर से टोल फ्री नंबरों के साथ ही एफआरटी टीम एवं कनिष्ठ अभियंतओं के नंबर वाले पर्चे शहर में वितरित कराए गए हैं। इन नंबरों पर लोग कॉल कर शिकायत दर्ज करा सकते हैं।
अर्जुनसिंह राठौड़, सहायक अभियंता अजमेर-नागौर डिस्कॉम

download_2.jpg

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई सामने- गर्दन पर चाकू का गहरा घाव, दिमाग व आखं की नस और खाने की नली डैमेजहैदराबाद के राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में BJP नेताओं ने पकड़ा 'जासूस', दस्तावेज की ले रहा था फोटोपाकिस्तानी जासूस को 5 साल का कारावास:ATS की स्पेशल कोर्ट ने सुनाई सजा, सेना की जासूसी करते हुए पहले हुआ था गिरफ्तारIND vs ENG, 5th Test Match Day 3 Live Updates: बेयरस्टो 106 रन बनाकर आउट, मोहम्मद शमी को मिली सफलतातेलंगाना, केरल, बंगाल, तमिलनाडु में बनाएंगे सरकार, BJP की बड़ी बैठक में नेताओं ने लिया संकल्पबिहार ने सड़क निर्माण में बनाया रिकॉर्ड, 98 घंटे में बना दी 38 किलोमीटर रोडMonsoon Update : राजस्थान में अति भारी बारिश की चेतावनी, 5 से बारिश का नया दौरउदयपुर हत्याकांड पर कैलाश विजयवर्गीय का कांग्रेस पर तंज, बोले- वो इसे सामान्य कत्ल मान रहे, जबकि...
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.