scriptEvery person wandering in search of water in this city | इस शहर में पानी की तलाश में भटक रहा हर शख्स | Patrika News

इस शहर में पानी की तलाश में भटक रहा हर शख्स

Nagaur. टैंकरों से जलापूर्ति व्यवस्था होने के बाद भी पानी की किल्लत
- पानी को लेकर शहर में मारामारी जनता हैरान-परेशान
- अधिकारियों ने कहा हर जगह पानी पहुंचाने का किया जा रहा है प्रयास लेकिन पानी चोर माफिया बन रहे हैं बाधक
- 800 से 1000 रुपए में पहुंचा पानी का टैंकर

नागौर

Updated: May 30, 2022 05:35:38 pm

नागौर. शहर में सरकारी स्तर पर रोजाना तकरीबन 17-18 टेंकरों से की जा रही जलापूर्ति के बाद भी पानी की किल्लत बनी हुई है। स्थिति यह हो गई है कि कई जगहों पर पेयजल की आपूर्ति तो होती है, लेकिन पानी पर्याप्त मात्रा में पहुंचता ही नहीं है। अब ऐसे में पानी का संकट बढ़ गया है। इस मौके का फायदा उठाते हुए टेंकर से जल परिवहन करने वालों ने प्रति टेंकर अपनी दरें 800 से 1000 तक कर दी है। कईयों को मजबूरी में टेंकर से पानी मंगाना ही पड़ता है। सूत्रों की माने तो अनुमानत: केवल शहर क्षेत्र में ही एक दिन से चालीस से पचास टेंकर्स से प्रतिदिन प्राईवट चालक जल परिवहन कर दोनों हाथों से चांदी कूटने में लगे हुए हैं। इस संबंध में जलदाय विभाग के अधिकारियों का कहना है कि कई जगहों पर राइजिंग लाइनों में से ही अवैध कनेक्शन जोड़े जाने के चलते पानी प्रेशर प्रभावित होता है। इससे कुछ जगहों पर आपूर्ति पर्याप्त नहीं हो पाती है। इसकी भी विभाग की ओर से जांच की जा रही है।

pani_ki_janch.jpg

बाहरी कमीशनखोर भी शामिल थे कारगुजारी में |
माह के अंतिम चरण में पानी की त्राही-त्राही होने लगी है। अब पूरे जून माह में गर्मी के साथ पानी की मांग सामान्य की अपेक्षा दोगुनी बढ़ी रहेगी। इसको ध्यान में रखते हुए जलदाय विभाग की ओर से कई जगहों पर आपूर्ति व्यवस्था की जांच करने के साथ जल संकट ग्रस्त क्षेत्रों में टेंकर से जल परिवहन कराने की व्यवस्था भी की जा रही है। पूर्व में संचालित व्यवस्था के तहत शहर सर्वाधिक पानी संकट वाले क्षेत्रों में टेंकर से जल परिवहन की व्यवस्था के दावों के बीच भी कई क्षेत्रों में हालात बेहद ही विकट हो चुके हैं। बताते हैं कि शहर के बीकानेर रेलवे फाटक के पास के निकटवर्ती क्षेत्रों में कई जगहों पर घोर जल संकट बना हुआ है। इसके अलावा शारदापुरम, भार्गव कॉलोनी, जोधपुर रोड के आसपास, जेएलएन मार्ग, दिल्ली गेट के आसपास के कई क्षेत्रों में जल संकट से लोगों की परेशानी बनी हुई है। इनमें से वार्ड नंबर के एक के कई कॉलोनियों में तो जल संकट की स्थिति शहर के अन्य क्षेत्री अपेक्षा ज्यादा विकराल बनी हुई है। यहां पर तो कई जगहों पर हालात यह हैं कि कॉलोनियां तो बस गई, लेकिन पानी की लाइन नहीं बिछाई गई। अब इसके चलते इस क्षेत्रों में तो लोगों को बूंद-बूंद के लिए भी संकट का सामना करना पड़ रहा है। इसी के चलते गत दिवस गांधी चौके ए एवं बी रोड सहित दिल्ली गेट के पास क्षेत्रीय जनता ने जाम भी लगाया था।

Video...फ्री में बिजली देने के बाद भी डिस्कॉम को लगा रहे चूना... |
अधिकारियों का दावा, सभी तक पहुंचाएंगे पानी
जल संकट से जूझ रहे शहरवासियों को पेयजल की उपलब्धता कराने के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। ऐसा दावा जलदाय के अधिकारी कर रहे हैं। अधिकारियों का कहना है कि उनके विभाग की ओर से प्रतिदिन शहर के विभिन्न क्षेत्रों में जलापूर्ति की जांच कराई जा रही है। इस दौरान सर्वाधिक समस्याग्रस्त क्षेत्रों में टेंकरों से जल परिवहन भी उनकी ओर से कराने का काम भी किया जा रहा है। इसके बाद भी लोगों को दिक्कत है तो विभागीय स्तर पर इसका समाधान करा सकता है।

नाबालिग के साथ तीन दरिंदे दो वर्ष से कर रहे थे बलात्कार
पानी माफियाओं को नहीं बख्शेंगे
जलदाय विभाग के अधिकारियों के अनुसार वर्तमान में फिलहाल वह जलापूर्ति व्यवस्थाओं को सामान्य बनाए रखने की कोशिश में लगे हुए हैं। इसी के चलते पानी चोरी करने वाले पानी माफिया एवं अवैध कनेक्शनों के खिलाफ चल रहे अभियान में तेजी नहीं ला पा रहे हैं। इस दिशा की ओर भी ध्यान दिया जाएगा। अधिकारियों का कहना है कि शहर की करीब डेढ़ लाख की आबादी एवं चौबीस टकियों में जलापूर्ति व्यवस्था को सुनिश्चित बनाए रखने पर फिलहाल उनका पूरा विभाग लगा हुआ है। स्थिति सामान्य होते ही पानी चोरी करने वाले पानी माफियाओं पर विधिक कार्रवाई भी तेजी से की जाएगी।
इनका कहना है...
जलापूर्ति व्यवस्था को सामान्य बनाए रखने के लिए विभाग की ओर से हरसंभव कदम उठाए गए हैं। सर्वाधिक जल संकटग्रस्त क्षेत्रों में जल परिवहन कराकर लोगों को राहत पहुंचाने के लिए आवश्यक कदम उठाए गए हैं।
रामचंद्र राड, अधिशासी अभियंता जलदाय
फोटो. नागौर. शहर में टेंकर आते ही मच रही पानी की मारामारी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहार सीएम की शपथ लेने के साथ अपने ही रिकॉर्ड तोड़ने से चूके Nitish Kumar, 24 अगस्त को साबित करेंगे बहुमतपीएम मोदी का कांग्रेस पर बड़ा हमला, कितना भी 'काला जादू' फैला लें कुछ होने वाला नहींMumbai: सिंगर सुनिधि चौहान के खिलाफ शिवसेना ने पुलिस में दर्ज कराई शिकायत, पाकिस्तान स्पॉन्सर कार्यक्रम का लगाया आरोपदेश के 49वें CJI होंगे यूयू ललित, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने नियुक्ति पर लगाई मुहरकश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की हत्या का बदला हुआ पूरा, सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिरायासुनील बंसल बने बंगाल बीजेपी के नए चीफ, कैलाश विजयवर्गीय की हुई छुट्टीसुप्रीम कोर्ट से नूपुर शर्मा को बड़ी राहत, सभी FIR को दिल्ली ट्रांसफर करने के निर्देशBihar Mahagathbandhan Govt: नीतीश कुमार ने 8वीं बार ली बिहार के CM पद की शपथ, तेजस्वी यादव बने डिप्टी सीएम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.