मास्क हटा तो कटा चालान, बचाव का बहाना अजब-गजब, इसने अभी-अभी हटाया तो उसे चाहिए राहत

महामारी में मास्क लगाना अनिवार्य, लेकिन अधिकतर घूमते हैं खुले मुंह, इस तरह के मामलों में कार्रवाई के निर्देश भी पर बचाव के कई बहानें, औपचारिक कार्रवाई के कारण खत्म हो रहा डर, मास्क से परहेज कर जोखिम में डाल रहे जान

By: Jitesh kumar Rawal

Published: 14 Jul 2020, 06:35 PM IST

नागौर. कोरोना महामारी से बचाव के लिए विभिन्न जतन किए जा रहे हैं। इसमें मास्क पहने रखना भी अनिवार्य किया है, लेकिन कई लोग मास्क को बोझ मान रहे हैं। यही कारण है कि कई जगह लोग बिना मास्क घूमते नजर आ जाते हैं। हालांकि प्रशासनिक स्तर पर इनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है, लेकिन यह नाकाफी साबित हो रहा है। बिना मास्क घूमते पकड़े जाने पर लोग कई दलीलें भी दे रहे हैं यानि चालान के बचने की खातिर बहाना बनाते हैं, लेकिन कोई छूट नहीं मिल पाती। बहानें भी इतने अजब-गजब है कि सुनकर ही हंसी आ जाए। कोई बताता है कि मैंने अभी-अभी मुंह से मास्क हटाया था तो किसी ने बताया कि खरीदारी के दौरान पहचान न हो तो बिल में रियायत नहीं मिलती इसलिए मास्क हटाकर दुकान में जाना पड़ता है। कुछ मामलों में मास्क नहीं पहनने के पीछे दम घुटने या घबराहट होने का बहाने भी सामने आ ते हैं। वैसे चालान से बचाव के लिए बहाना ठीक है, लेकिन अपनी व अपनों की जान बचाने के लिए मास्क पहने रखना भी जरूरी है यह समझ नहीं पा रहे। यही कारण है कि कार्रवाई में चालान काटने के साथ ही लोगों को मास्क पहने रखने को पाबंद किया जा रहा है।

जरूरी है लगातार कार्रवाई
शहरी क्षेत्रों में पुलिस व निकायों को इस तरह के मामलों में कार्रवाई के अधिकार दे रहे हैं, लेकिन कार्रवाई औपचारिक ही साबित हो रही है। लगातार कार्रवाई नहीं होने से लोग ढिलाई बरत रहे हैं। संभवतया यही कारण है कि अधिकतर जगह लोग न तो मास्क पहन रहे हैं और न ही सोशल डिस्टेंस के कायदों की पालना कर रहे हैं। लगातार कार्रवाई होती रहे तो चालान के डर से ही लोग मास्क पहनने को विवश होते रहेंगे।

देखिए बहानें कैसे-कैसे
1. बिना मास्क पहने दुकान के काउंटर पर बैठे दुकानदार का चालान कटा तो उसने बताया कि यह तो अभी हटाया था। महज दो सैकंड पहले ही मास्क को मुंह से नीचे किया और आप आ गए। लीजिए वापस पहन लेते है।
2. बाइक चालक अरविंद (बदला हुआ नाम) ने बताया कि मास्क पहने रखना मुश्किल रहता है। बाइक चलाते समय मुंह इधर-उधर करते हैं तो मास्क नीचे आ जाता है। एक हाथ से बार-बार ऊपर लेना पड़ता है
3. बाजार में खरीदारी कर रहे एक ग्राहक ने बताया कि मास्क पहने रखने पर दुकानदार भी अनजान समझ कर सामान के बिल को लेकर मोल-भाव करने लगते हैं। मास्क नीचे करने पर पहचान होती है तो बिल में कुछ राहत मिलती है।
4. चालान कटने के दौरान एक युवक ने बताया कि मास्क पहनने पर घबराहट सी होती है इसलिए मास्क हटाया था। लेकिन, चालान कटा और उसे पाबंद भी किया कि आइंदा मास्क लगाए ही दिखना चाहिए।

चालान काटे जा रहे हैं...
बिना मास्क पहने घूमने वाले लोगों के चालान काटे जा रहे हैं। अभी तक तीस से पैंतीस लोगों के चालान काटे जा चुके हैं। बचाव के लिए लोग बहाने भी बनाते ही हैं, लेकिन महामारी से बचाव के लिए मास्क पहने रखना जरूरी है। लोगों को इस सम्बंध में जागरूक भी किया जा रहा है।
- जोधाराम बिश्नोई, आयुक्त, नगर परिषद, नागौर

Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned