scriptFake income tax team raided the tea trader's house, then the bike ride | फर्जी आयकर टीम ने दी चाय कारोबारी के घर दबिश तो एक व्यापारी की कार से नौ लाख से भरा थैला उठा ले गए बाइक सवार | Patrika News

फर्जी आयकर टीम ने दी चाय कारोबारी के घर दबिश तो एक व्यापारी की कार से नौ लाख से भरा थैला उठा ले गए बाइक सवार

पत्रिका न्यूज नेटवर्क नागौर. शहर में सोमवार को छह घंटे के भीतर हुई दो वारदात ने हड़कम्प मचा दिया। फर्जी आयकर टीम चाय के एक कारोबारी के घर दबिश देकर नकदी व चांदी के 33 नोट लेकर भाग छूटे, वहीं एक मूंग व्यापारी का नौ लाख रुपए से भरा थैला बाइक सवार बदमाश कार में से उठा ले गए। सीसीटीवी में बाइक पर सवार बदमाश दो ही नजर आ रहे हैं पर इनका एक और साथी भी वारदात में शामिल बताया जा रहा है। दोनों ही वारदात कोतवाली थाना इलाके में हुई। इनमें किसी जान-पहचान वाले के शामिल होने की आशंका भी जताई जा रही है। बदमाशो

नागौर

Updated: April 19, 2022 09:54:47 pm

चोरी का माल खरीदते हो...

पहली वारदात नकाश गेट स्थित चाय कारोबारी पुनीत दरक (25) के निवास पर सुबह करीब छह बजे हुई। पंसारी बाजार स्थित आसाम चाय भण्डार के मालिक पुनीत घर पर अकेला था। उसकी मां गिरजेश रात को पारिवारिक कारणों से बाहर गई हुई थी। बालू नमकीन के बगल में पुनीत का मकान है, सुबह इनोवा कार में आए करीब छह लोग उतरे। इनमें एक महिला भी शामिल थी, जबकि एक पुलिस की ड्रेस में था। इन्होंने गाड़ी से उतरकर कारोबारी पुनीत के घर दस्तक दी। पुनीत ने दरवाजा खोला तो वे धड़धड़ाते हुए भीतर घुस गए। इस बीच उनकी नजर पुनीत के पालतू कुत्ते पर पड़ी तो उसे अंदर लेने को कहा। अधिकांश के चेहरे पर हरे रंग के मास्क थे। महिला केसरिया रंग की ड्रेस में थी। सबने गले में कार्ड जैसा कुछ लटका रखा था। इसी बीच इनमें से एक ने खुद को आयकर अधिकारी बताते हुए कहा, चोरी का माल खरीदते हो । इसके ही साथ उसे धमकाया और उससे गाली-गलौच भी की। इसके बाद एक अलमारी खोलने को कहा। अलमारी के भीतर पड़े सामान को बाहर रखे डबल बैड पर पटक दिया। इस अलमारी में पंद्रह हजार की नकदी थी तो करीब 33 नोट चांदी के थे। करीब बारह सौ रुपए में बनने वाला यह चांदी का नोट पुनीत की बहन की चार माह पूर्व हुई शादी में बतौर शगुन देने के लिए बनवाए गए थे। इस दौरान उनमें से एक दूसरी मंजिल पर गया और वहां की अलमारी को भी खंगालकर लौट आया।
नागौर शहर में अल सुबह से दोपहर तक बरपा बदमाशों का कहर
छह घंटे के भीतर दो वारदातफर्जी आयकर टीम ने गई पंद्रह हजार की नकदी और चांदी के 33 नोट
केवल दस मिनट में काम-तमाम

पुनीत का कहना है कि फर्जी आयकर टीम दस मिनट ही उसके घर रही। पुलिस की ड्रेस वाला गेट पर खड़ा हो गया, शेष भीतर आए। घर में लगे सीसीटीवी कैमरे पिछले कई दिनों से बंद पड़े थे। इनमें सिर्फ दो जने ही बोलते दिखे। वो खड़ी बोली बोल रहे थे। असली आयकर वाले होते तो इतनी जल्दी क्यों भाग जाते। पुनीत की मां गिरजेश ने बताया कि उसके परिवार की बहु के डिलेवरी हुई थी, इस चक्कर में वो अस्पताल गई हुई थी। पुनीत ही घर में था, वारदात के बारे में सबकुछ उसे मालूम है। ज्यादा माल तो नहीं गया, पंद्रह हजार की नकदी व चांदी के तीस नोट गए। घर में कोई और जेवरात भी नहीं थे वरना वो भी ले जाते।
गाड़ी पर सरकारी मोहर

मकान के पास नमकीन की दुकान वाले दिलीप का कहना है कि वो दुकान खोल रहा था। सामने टैक्सी पर पांच-छह रोजेदार बैठे थे। इनोवा गाड़ी की नेम प्लेट पर सरकारी पट्टी सी लगी थी। रोजेदारों में से एक-दो जने कार चालक के पास गए और उसे कहा भी कि लाइट का फोकस पड़ रहा है, इसे बंद कर लो। इस बीच पुलिस बनकर आए शख्स ने कहा कि तुम अपना काम करो, चलो। मैंने तो सोचा वैसे ही आए होंगे, उनके जाने के बाद इस तरह की गड़बड़ी का खुलासा हुआ।
इनका कहना

मौका-मुआयना कर आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। वारदात में किसी जानकार के शामिल होने की आशंका है। जल्द ही आरोपियों को पकड़ा जाएगा।

-बृजेन्द्र सिंह, सीआई कोतवाली थाना नागौर
००००००००००००००००००००००००००००००००००००००००००००००००००००००००

देखते-देखते ले गए नोटों से भरा थैला

-कार स्टार्ट करने से पहले ही बाइक सवार बदमाशों ने किया हाथ साफ

-बैंक ऑफ बड़ौदा से निकाले थे रुपए, वारदात एचडीएफसी के पास हुई
नागौर. अभी शहर पुलिस सुबह की वारदात में ही उलझी हुई थी कि दोपहर करीब साढ़े बारह बजे एक और वारदात हो गई। कांगरवाड़ा में मूंग के कारोबारी रवींद्र गौड से नौ लाख रुपए का भरा बाइक सवार ले भागे। वारदात तब हुई जब गौड थैला कार में आगे की सीट पर रखकर खुद ड्राइवर की तरफ वाला गेट खोल रहा था। बाइक पर सवार दो बदमाशों में एक ने रेड टीशर्ट पहन रखी थी, जबकि तीसरे काली टीशर्ट के भी इनके साथ होने की आशंका जताई गई है। सूचना मिलते ही एएसपी राजेश मीना, सीओ विनोद कुमार सीपा समेत पुलिस टीम घटनास्थल पर पहुंची और करीब दो घंटे तक जायजा लेने के साथ पूछताछ में जुटी रही।
पीडि़त रवींद्र गौड (31) शारदापुरम के पास श्याम सिटी कॉलोनी के निवासी हैं। उनकी ईनाणा के पास शुभलक्ष्मी के नाम से फर्म है जो किसानों से मूंग-गेहूं आदि खरीदती है। बकौल रवींद्र वो सुबह करीब ग्यारह बजे कॉलेज रोड स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा गया। यहां दूसरी कंपनी के खाते से उसने नौ लाख रुपए निकाले जिन्हें मजबूत थैले में रखकर कार से गांधी चौक स्थित एचडीएफसी बैंक पहुंचा। यहां उसे किसी चेक के क्लीयरेंस से संबंधित जानकारी लेनी थी। यहां उसने अपनी कार कांगरवाड़ा में पार्क कर दी और थैला लेकर वो पैदल ही एचडीएफसी बैंक पहुंचा। यहां चेक क्लीयरेंस की जानकारी लेकर वो वापस कांगरवाड़ा पहुंचा, जहां उसने पहले एक गेट खोलकर पीछे की सीट पर नोटों से भरा थैला रखा, फिर वो ड्राइवर सीट पर बैठकर गाड़ी स्टार्ट करने लगा। इस बीच बाइक पर आए सवार दूसरा गेट खोलकर नोटों से भरा थैला ले भागे। हक्का-बक्का रवींद्र भी उनके पीछे भागा, लेकिन वो छू मंतर हो गए।
एक और भी था शामिल

रवींद्र का कहना है कि कार लगाते समय भी वहां दो युवक ने कहा था कि यहां लगा दो गाड़ी। नोटों से भरा थैला ले जाने के बाद उसने देखा कि काले रंग की टी शर्ट पर रैकी कर रहा एक युवक भी भागा था। संभवतया वो भी उनका साथी होगा। बैंक ऑफ बड़ौदा से यहां तक उसका पीछा करने मुझे कोई नहीं दिखा। संभवतया कार पार्किंग से एचडीएफसी तक के बीच ही थैला छीनने की साजिश तैयार हुई। आमतौर पर वो पैसा लाता रहता है। यह रकम भी किसानों को देने के लिए ही निकाली थी। बाइक मकराना की है, इसके संभावित नंबर भी पुलिस को बता दिए।
पुलिस खंगालती रही सीसीटीवी फुटेज

मंगलवार को पुलिस कमोबेश पूरे दिन सीसीटीवी कैमरे खंगालती रही। नकाश गेट में हुई वारदात के बाद सीआई बृजेंद्र सिंह के साथ हैड कांस्टेबल शिवराम समेत अन्य पुलिसकर्मी सीसीटीवी कैमरे देखते रहे तो दोपहर बाद इसमें और पुलिसकर्मी शामिल हो गए। एएसपी राजेश मीना, सीओ विनोद कुमार सीपा के साथ जिला स्पेशल टीम के एसआई सिद्धार्थ समेत अन्य कांगरवाड़ा में फुटेज देखते रहे। इसके बाद यह सिलसिला बाइक को तलाशते गांधी चौक, दिल्ली दरवाजा समेत अन्य इलाकों में चला।
इनका कहना

व्यापारी सुरक्षित नहीं हैं। सरकार ने किसानों से नकद पर खरीद का सिस्टम चालू किया। ऐसे में व्यापारी बैंक से रकम निकालेंगे और गंतव्य तक ले जाएंगे। इस तरह की वारदात से व्यापारियों में डर होगा, व्यापार कैसे कर पाएंगे। इतना टैक्स देने के बाद भी वो असुरक्षित हैं।
भोजराज सारस्वत, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य लघु उद्योग भारती

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई एक और याचिका, जानिए क्या की गई मांगऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरबिहार में भीषण सड़क हादसा, पूर्णिया में ट्रक पलटने से 8 लोगों की मौतश्रीनगर पुलिस ने लश्कर के 2 आतंकवादियों को किया गिरफ्तार, भारी संख्या में हथियार बरामदGood News on Inflation: महंगाई पर चौकन्नी हुई मोदी सरकार, पहले बढ़ाई महंगाई, अब करेगी महंगाई से लड़ाईकोरोना वायरस का नहीं टला है खतरा, डेल्टा-ओमिक्रॉन के बाद अब दो नए सब वैरिएंट की दस्तक से बढ़ी चिंताNEET UG 2022: 3 घंटे से ज्यादा मिलेगा समय, टाइ ब्रेकिंग रूल और मार्किंग पैटर्न भी बदला, 14 विदेशी केंद्रों में भी होंगे Exam
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.