झमाझम बारिश से खिले काश्तकारों के चेहरे

Dharmendra gaur

Publish: Jul, 13 2018 06:34:18 PM (IST)

Nagaur, Rajasthan, India
झमाझम बारिश से खिले काश्तकारों के चेहरे

मिली गर्मी से राहत

रेण. कस्बे सहित आस-पास ग्रामीण अंचलों में पिछले दिनों भीषण गर्मी व उमस के बाद विगत रात्रि हुई झमाझम बारिश खेतों में पानी की आवक बनी। वही ग्रामीणों को भीषण गर्मी से राहत मिली। गुरुवार दिनभर से तेज तपन व उमस के बाद रात्रि साढ़े 9 से सुबह 5 बजे तक हुई बारिश से ग्रामीणों को गर्मी से राहत मिली। वही रात्रि को हुई दो घंटे झमाझम बारिश से कस्बे सहित आस-पास खेत-खलियान व नाडी-तालाबों में पानी लबालब भर गया। खेतों में पानी की आवक के काश्तकारों के चहेर खिल उठे। काश्तकारों ने बताया कि अगेती बोई फसलों के लिए यह वर्षा अमृत समान है। वही बारिश के चलते एनएच 89 नागौर सडक़ मार्ग के पास स्थित कॉलानियों के खाली भूखंड में पानी भर कर मुख्य सडक़ मार्ग पर जमा हो गया। जिससे सडक़ मार्ग तैलया बन गया। सडक़ मार्ग पर पानी भर जाने से वाहन चालकों सहित ग्रामीणों व कॉलोनी वाशिंदों को इस मार्ग से आवागमन करने में भारी परेशानी का सामना करना पड रहा है। इसी तहर कस्बे के अन्य निचले इलाकों में बारिश का पानी भर जाने से इन इलाकों में रहने वाले वाशिंदों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इसी तरह क्षेत्र के चकढ़ाणी गांव में रातभर हुई मुसलाधार बारिश से बारिश का पानी घरों के अंदर घुस गया। घरों में पानी घुसने से ग्रामीणों को रात्रि में ही तरह-तरह के जतन कर पानी को रोकने की कोशिश की।

बारिश के साथ 11 घंटे तक विद्युत गुल
कस्बे में विगत रात्रि अचानक हुई झमाझम बारिश के साथ ही बंद हुई विद्युत आपुर्ति से ग्रामीणों को पुरी रात अंधेरे में गुजारनी पड़ी। रात्रि 10 से सुबह सवा 8 बजे तक लगातार 11 घंटे तक बंद विद्युत आपुर्ति के चलते ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ा। इसी तरह रेण जीएसएस से जुडे ग्रामीण अंचलों में भी लगातार 11 घंटो तक बंद विद्युत के चलते ग्रामीणों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned