scriptFarmers angry over not being able to purchase Panmethi in the market, reached Collectorate, got assurance | VIDEO...पानमेथी की खरीद मंडी में नहीं हेाने पर भडक़े काश्तकार पहुंचे कलक्ट्रेट, मिला आश्वासन | Patrika News

VIDEO...पानमेथी की खरीद मंडी में नहीं हेाने पर भडक़े काश्तकार पहुंचे कलक्ट्रेट, मिला आश्वासन

locationनागौरPublished: Dec 12, 2023 09:59:10 pm

Submitted by:

Sharad Shukla

-जोधपुर एवं इसके आसपास के क्षेत्रों से आए काश्तकारों ने मंडी में पान मेथी खरीद का किया विरोध

Nagaur news
Nagaur. Farmers reached Collectorate to purchase Mandi Paan Methi


नागौर. नागौरी कसूरी पान मेथी की खरीद के लिए अठियासन के निकट अस्थाई मंडी में सैंकड़ों की संख्या में बेचान करने पहुंचे, लेकिन यहां खरीद नहीं होने पर यह मंडी के समक्ष ही धरना पर बैठ गए। जानकारी मिलने पर जिला प्रशासन के बुलावे पर पहुंचे काश्तकारों की अतिरिक्त जिला कलक्टर के साथ दो बार बातचीत हुई, फिर बात नहीं बनी। इसके बाद काश्तकार तो एक बार लौट गए, लेकिन देर शाम को फिर किसान कलक्ट्रेट पहुंच गए। यहां पर कलक्ट्रेट में अतिरिक्त जिला कलेक्टर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुमित कुमार डीवाईएसपी आप गोदारा और कृषि मंडी सचिव रघुनाथ राम सीवर के साथ हुई वार्ता में बुधवार को व्यापार मंडल के साथ बातचीत कर खरीद कराने के लिए आश्वस्त किया। इसके बाद कुछ काश्तकार तो लौट गए, लेकिन कई किसान पशु प्रदर्शनी स्थल पर ही रुक गए। कुल मिलाकर मेथी की खरीद नहीं होने के चलते काश्तकारों एवं जिला प्रशासन के बीच स्थिति विकट नजर आई। उल्लेखनीय है कि पान मेथी की खेती करने वाले काश्तकार कई दिनों से अनाज मंडी की तर्ज पर पान मेथी की खरीद कराने की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे हैं। विरोध स्वरूप काश्तकारों ने व्यापारियों को माल देना बंद कर दिया था। काश्तकारों का कहना था कि उनके उपज की खरीद भी अनाज मंडी की तर्ज पर ही कराई जाए। अब बुधवार को होने वाली वार्ता को काश्तकारों की निगाहें लगी हुई हैं। काश्तकारों का मानना कि यदि खरीद उनकी मांग के अनुरूप नहीं कराई गई तो फिर उनका आंदोलन और तेज हो जाएगा। किसानों के प्रतिनिधिमंडल में भारतीय किसान यूनियन टिकट के जिलाध्यक्ष अर्जुन राम लोमरोड, पूर्व प्रधान राजेंद्र फिऱोदा, प्रेमसुख जाजड़ा और प्रत्येक गांव से प्रतिनिधि के रूप में खजवाना से शैतान राम,दीपक लोमरोड,रामरतन चोटिया,इंदौकाली से भेरू सिंह चारण, मुंडवा से राजेंद्र गैपाला, जनाना से सुरेश भाकल,जूझंडा से पुखराज डुकिया,गागुड़ा से गरीब राम दाढ़रिया कला से अनाराम मंडा, कड्लू से राधेश्याम चौहान,ग्वालू से ओमाराम गुर्जर,कुचेरा से प्रेमाराम मनीष मारूका,रून से किशन सिंह आदि शामिल थे।
इन किसानों ने किया मंडी पान मेथी खरीद का विरोध
इधर जोधपुर एवं इसके आसपास क्षेत्रों के रहने वाले काश्तकारों ने भी पान मेथी की खरीद मंडी में कराना असंगत बताते हुए इस पर विरोध जताया। मंगलवार को इन काश्तकारों ने कलक्ट्रेट में ज्ञापन दिया। ज्ञापन के माध्यम से कहा कि पान मेथी खरीद मंडी कराने की मांग ऐसे लोगों की ओर से की जा रही है। जिनका मेथी पत्ता उत्पादन से सरोकार नहीं है। मंडी में अनाज की तर्ज पर पान मेथी की खरीद होना संभव नहीं है। इन किसानों ने पूर्ववत व्यवस्था को ही लागू करने की मांग की। इस दौरान भोमाराम, श्रवण सिंह, ओमप्रकाश सोलंकी, रेवंतराम, प्रेमनाथ, दीपाराम, त्रिलोक, मुकेश परिहार, पदमाराम, सेठाराम आदि मौजूद थे।

ट्रेंडिंग वीडियो