scriptFraud in Prasuti Sahayata Yojna | प्रसूति सहायता योजना में फर्जीवाड़ा | Patrika News

प्रसूति सहायता योजना में फर्जीवाड़ा

भ्रष्टाचार की खान- श्रम विभाग : श्रम विभाग के अधिकारियों ने नियमों को ताक में रखकर सरकार को लगाया चूना, एक के बाद एक रोज खुल रहे विभाग के फर्जीवाड़े

नागौर

Published: June 27, 2022 01:39:57 pm

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
नागौर श्रम विभाग में एक के बाद एक रोज नए भ्रष्टाचार के मामले सामने आ रहे हैं। अधिकारियों ने पंजीकृत श्रमिक परिवार की महिलाओं के तीसरे व चौथे बच्चे होने पर भी प्रसूति सहायता योजना के तहत 20-20 हजार रुपए स्वीकृत कर दिए, जबकि नियमानुसार दो बच्चों तक ही यह सहायता राशि दी जाती है।
fraud_1.jpg

योजना के कार्यो में फर्जीवाड़ा
प्रसूति सहायता योजना के सैकड़ों केस ऐसे है, जिनमें अधिकारियों ने नियमों को ताक पर रखकर फर्जी तरीके से सहायता राशि जारी की है। कई प्रकरणों में दो से अधिक संतान होने पर तो कई में जन्म प्रमाण पत्र में तारीख बदलकर किसी न किसी प्रकार से लाभ पहुंचाया गया है।

केस -1 : भींयाराम को चौथे बच्चे पर सहायता
खींवसर क्षेत्र के देऊ निवासी भींयाराम का श्रम विभाग में श्रमिक के रूप में पंजीकरण है। भींयाराम के जन आधार कार्ड में सुंदर, राकेश व सागर तीन बच्चे बताए गए हैं, जिनका जन्म 21 नवम्बर 2017 तक हो गया था। इसके बावजूद 2 अगस्त 2020 को पैदा हुए चौथे बच्चे पर उसे अधिकारियों ने मिलीभगत कर 28 जनवरी 2021 को 20 हजार की आर्थिक सहायता जारी कर दी।
केस-2 : देरामाराम को तीसरे बच्चे पर मिली सहायता
सिंगड़ निवासी देरामाराम ने वर्ष 2018 में जब श्रमिक के रूप में पंजीकरण करवाया तो उसके लीला व चेनाराम दो बच्चे पहले थे, जिसका उल्लेख उसके जन आधार कार्ड में दर्ज है। इसके बाद जुलाई 2020 में तीसरी संतान हुई, लेकिन अधिकारियों ने उसे नजर अंदाज करते हुए लाभ दे दिया।
केस - 3 : फर्जी जन्म प्रमाण पत्र लगाया
नरेन्द्र नाम के व्यक्ति ने तो बच्चा नहीं होने पर भी फर्जी जन्म प्रमाण पत्र लगाकर सहायता राशि उठा ली। नरेन्द्र ने जिस बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र पेश किया है, उस पर जो रजिस्ट्रेशन संख्या लिखी हुई है। उसकी ऑनलाइन डिटेल देखने पर अरशद अली की पुत्री शारिका नूर की जानकारी सामने आती है, जबकि नरेन्द्र ने भावना के नाम का प्रमाण पत्र पेश किया है।
केस - 4 : प्रसूता की आयु 20 वर्ष भी नहीं हुई
श्रवणराम की पत्नी मैना के 2 सितम्बर 2020 को पुत्र पैदा होने पर श्रम विभाग के अधिकारियों ने 18 जनवरी 2021 को सहायता राशि के रूम में 20 हजार रुपए स्वीकृत कर दिए, लेकिन जिस समय मैना के प्रसव हुआ, उस समय वह खुद 20 वर्ष की नहीं हुई, जबकि नियमानुसार प्रसूता की उम्र 20 वर्ष होना जरूरी है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

लाखों खर्च कर गुजराती युवक ने तिरंगे के रंग में रंगी कार, PM मोदी व अमित शाह से मिलने की इच्छा लिए पहुंचा दिल्लीशेयर मार्केट के बिगबुल राकेश झुनझुनवाला की मौत ऐसे हुई, डॉक्टर ने बताई वजहBJP ने देश विभाजन पर वीडियो जारी कर जवाहर लाल नेहरू पर साधा निशाना, कांग्रेस ने किया पलटवारIndependent Day पर देशभर के 1082 पुलिस जवानों को मिलेगा पदक, सबसे ज्यादा 125 जम्मू कश्मीर पुलिस कोहरियाणा में निकली 6600 फीट लंबी तिरंगा यात्रा, मनाया जा रहा आजादी के अमृत महोत्सव का जश्नIndependence Day 2022: लालकिला छावनी में तब्दील, जमीन से आसमान तक काउंटर-ड्रोन सिस्टम से निगरानी14 अगस्त को 'विभाजन विभिषिका स्मृति दिवस' मनाने पर कांग्रेस का BJP पर हमला, कहा- नफरत फैलाने के लिए त्रासदी का दुरुपयोगOne MLA-One Pension: कैप्टन समेत पंजाब के इन बड़े नेताओं को लगेगा वित्तीय झटका
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.