गुवाहाटी ट्रेन मध्यरात्रि को पहुंचती है, मुश्किल हो रही यात्रा

ट्रेन को नियमित करने एवं समय में बदलाव की सांसद से मांग , ब्रह्मपुत्र एक्सप्रेस वाया रेवाड़ी, सादुलपुर रतनगढ़, डेगाना होकर जोधपुर/बाड़मेर तक विस्तारित करने की रेल मंत्री से मांग

By: Jitesh kumar Rawal

Published: 17 Jun 2020, 08:46 PM IST

नागौर. शहर के प्रबुद्ध लोगों ने गुवाहाटी ट्रेन को नियमित करने एवं समय में बदलाव किए जाने की सांसद से मांग की है।
ज्ञापन में बताया कि बाड़मेर गुवाहाटी, बीकानेर गुवाहाटी ट्रेन नागौर रेलवे स्टेशन पर मध्यरात्रि को पहुंचनी है। ट्रेन के पहुंचने का समय रात्रि करीब पौने दो बजे होने से यात्रियों को भारी परेशानी होती है। गुवाहाटी-असम क्षेत्र में यहां के ज्यादातर लोग हैं, जो आवागमन इसी ट्रेन से करते हैं, लेकिन मध्यरात्रि को आने वाली ट्रेन से परेशानी हो रही है। घर से रेलसे स्टेशन तक आवाजाही करने के लिए इस समय कोई साधन भी नहीं मिलता, जिससे कई बार ट्रेन छूट भी जाती है। ज्ञापन में मांग रखी है कि इस ट्रेन का नागौर स्टेशन पर रात्रि दस से ग्यारह बजे आगमन का समय होना चाहिए, जिससे यात्रियों को सुविधा मिल सके। ट्रेन के फेरे नियमित करने एवं समय में बदलाव होने से यात्री भार बढऩे का भी अनुमान है। इस दौरान पूर्व पार्षद नवरतनमल बोथरा, पूर्व सभापति बिरधीचंद सांखला, जगदीश बोराणा, लोकेश बांठिया, जीवनमल, राजू भाटी, गोविंद दाधीच आदि मौजूद रहे।


डिब्रूगढ़-दिल्ली ट्रेन के रूट विस्तार की मांग
नागौर. लाडनूं निवासी कोलकाता प्रवासी सामाजिक कार्यकर्ता एवं रेलवे सलाहकार समिति के पूर्व सदस्य अनिल कुमार खटेड़ ने डिब्रूगढ़-दिल्ली-ब्रह्मपुत्र एक्सप्रेस वाया रेवाड़ी, सादुलपुर रतनगढ़, डेगाना होकर जोधपुर/बाड़मेर तक विस्तारित करने की रेल मंत्री से मांग की है।
उन्होंने बताया कि वर्तमान में यह डिब्रूगढ़ से दिल्ली के मध्य संचालित है। इसको जोधपुर तक बढ़ाने का प्रस्ताव उत्तर रेलवे ने 2020 की अन्तर रेलवे सारणी मीटिंग के ऐजेंडे मे शामिल करने के लिए रेलवे बोर्ड को भेजा था। उत्तर रेलवे की ओर से 2 जून को आए जवाब के अनुसार इसको जोधपुर तक बढ़ाने का प्रस्ताव उत्तर पश्चिम रेलवे को भेज दिया है। ऐसे में चूरू, नागौर, राजसमंद, जोधपुर व बाड़मेर जिले के लिए इस ट्रेन को पुरानी मांग व रूट के हिसाब से संचालित किया जाए। जिस समय यह अपने पुराने नम्बर से संचालित होती थी और उस समय उत्तर रेलवे ने इसको सालासर एक्सप्रेस में मर्ज कर चलाने की सहमति दी थी। इसका रूट रेवाड़ी, सादुलपुर, चूरू, रतनगढ़, सुजानगढ़, लाडनूं, डीडवाना, छोटी खाट,ू डेगाना, मेड़ता होकर जोधपुर है। ऐसे में पुरानी मांग व रूट को ध्यान में रखते हुए इस ट्रेन को जोधपुर/बाड़मेर तक विस्तारित किए जाने की मांग की गई है। ऐसा करने से रेलवे को राजस्व लाभ होगा तथा यात्री सुविधाओं में विस्तार से इस क्षेत्र की बहुप्रतीक्षित मांग भी पूरी हो सकेगी।

Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned