सड़क से ऊंचा नाला, कार्यालयों में कैसे जाना

बंद हो गई सरकारी कार्यालयों में आवाजाही, मिट्टी डालकर बनाना पड़ा रैम्प

By: Jitesh kumar Rawal

Published: 20 Jul 2020, 03:45 PM IST

नागौर. कहने को ये सरकारी कार्यालय है, लेकिन इनमें जाना किसी मुसीबत से कम नहीं है। वाहन लेकर तो परिसर में जाना ही दुश्कर है। ऐसे में वाहनों को बाहर रख कर ही अंदर जाया जा सकता है। मानासर चौराहा स्थित कुछ सरकारी कार्यालय के बाहर नाले की दीवार से बेरिकेड लग गया है। ऐसे में आवाजाही का मार्ग ही बंद हो गया। अब मुख्यद्वार पर मिट्टी डालकर रैम्प बनाया गया है, लेकिन यह कामचलाऊ व्यवस्था ज्यादा कारगर साबित नहीं सकती। बारिश के दौरान फिसलन बढऩे से यहां आने वाले लोग तो परेशान होंगे ही कार्मिक भी मुसीबत उठाते नजर आएंगे। जिला सूचना केंद्र, भूमि विकास बैंक व सहकारी समितियां उप रजिस्ट्रार व स्पेशल ऑडिटर कार्यालय की यही स्थिति है।

नाले की ऊंचाई का ब्रेकर
नगर परिषद ने यहां सड़क किनारे नाला बनाया है। इसकी दीवार ऊंची उठाई गई है और इसे ढंक दिया है। ऊंचाई बढऩे से नजदीकी कार्यालयों में आवाजाही का रास्ता बंद हो गया। सड़क से सटे सरकारी कार्यालयों के बाहर नाले की ऊंचाई से मानों ब्रेकर बन गया है। कार्यालय के कर्मचारी भी इससे काफी समस्या भुगत रहे हैं।

... तो सड़क पर वाहन पार्किंग
वाहन लेकर नाले की इस ऊंचाई को पार करना मुश्किल है। कार्यालय आने वाले लोग या कार्मिक अपने वाहन को बाहर रखकर ही अंदर जा पाते हैं। जबकि, वाहन को बाहर रखने का मतलब मुख्य सड़क पर पार्किंग करना ही है। यह स्थिति सड़क पर फर्राटे से गुजर रहे वाहनों के लिए हादसे का सबब बन सकती है।

रैम्प बनाएंगे...
नाले के ऊपर से आवाजाही के लिए रैम्प बनाई जाएगी, जिससे कार्यालयों में आवाजाही सुगम हो सकेगी। मामले की जानकारी लेकर जल्द ही कार्रवाई करेंगे।
- जोधाराम बिश्नोई, आयुक्त, नगर परिषद, नागौर

Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned