विधानसभा चुनाव से पहले किसानों की नाराजगी दूर करने की कवायद में सरकार...!

विधानसभा चुनाव से पहले किसानों की नाराजगी दूर करने की कवायद में सरकार...!

Nidhi Mishra | Publish: Sep, 04 2018 05:33:56 PM (IST) Nagaur, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

कुचामनसिटी/ नागौर। एक ओर प्रदेश में विधानसभा चुनाव नजदीक है। वहीं दूसरी ओर किसानों को इससे पहले रेवडिय़ां बांटी जा रही हैं। जुलाई से अब तक कुचामन ब्लॉक की 23 ग्राम सेवा सहकारी समितियों के 7 हजार 224 किसानों को 17 करोड़ 62 लाख रुपए का ऋण वितरित किया जा चुका है। यही नहीं ऋण पाने के लिए कुचामन के दि सेंट्रल कॉपरेटिव बैंक में किसान उमड़ रहे हैं। स्थिति यह है कि बैंक परिसर में किसानों की भीड़ उमड़ रही है। किसानों की लम्बी कतार लगी हुई है। वहीं बैंक स्टाफ की कमी से जूझ रहा है। सहकारिता विभाग के आधिकारिक सूत्रों के अनुसार प्रदेश में 4 जून से 29 जुलाई तक ऋण माफी शिविरों का आयोजन कर किसानों को ऋण माफी प्रमाण पत्र जारी किए गए थे।



इसके बाद किसान द्वारा मूल ऋण माफी के बाद शेष बकाया राशि जमा कराने पर एवं ऋण के लिए आवेदन करने पर पूर्व में जितना ऋण स्वीकृत था, उतना ऋण किसानों को उपलब्ध करवाया जा रहा है। किसानों को फसली ऋण खरीफ सीजन का दिया जा रहा है। नया फसली ऋण भी वितरित किया जा रहा है। गौरतलब है कि राज्य सरकार की ओर से ग्राम सेवा सहकारी समितियों के किसानों के 50 हजार तक ऋण माफ करने की घोषणा की गई थी।

 


इसके बाद पात्र किसानों की सूची मुख्यालय पर मांगी गई थी। कुचामन ब्लॉक से भी ऋण माफी के पात्र 10569 किसानों की सूची भिजवाई गई। इसके बाद 26.80 लाख रुपए का ऋण माफ किया गया। इसके बाद ब्लॉक की विभिन्न ग्राम सेवा सहकारी समितियों में ऋण माफी शिविर आयोजित किए गए। किसानों को खरीफ सीजन में ऋण केन्द्रीय सहकारी बैंक की ओर से वितरित किया जा रहा है। जानकारी के अनुसार ऋण माफी के बाद किसानों ने नए ऋण के लिए ग्राम सेवा सहकारी समितियों में आवेदन किए थे। बाद में यह आवेदन दि सेंट्रल कॉपरेटिव बैंक कुचामन शाखा में पहुंचे, जहां से नए ऋणों को स्वीकृति जारी की गई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned