लॉकडाउन रहा तो नागौर में अनूठे तरीके से मनाई जाएगी नृसिंह जयंती

नृसिंह चवदश 6 मई को, लॉकडाउन (LockDown) नहीं हटा तो सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distansing) में होंगे कार्यक्रम, कपाट में 'लॉक' नगर सेठ चारभुजा की पुजारी कर रहे नियमित पूजा

By: Rudresh Sharma

Updated: 01 May 2020, 12:00 AM IST

मेड़ता सिटी. कोरोना महामारी के दिनों में संक्रमण नहीं फैले इसको लेकर के नगर सेठ चतुर्भुजनाथ एवं मीरा मंदिर श्रद्धालुओं के लिए बंद है। नगर सेठ की पूजा-अर्चना पुजारियों द्वारा की जा रही है। वहीं मंदिर में नियमित रूप से दर्शनार्थ आने वाले अधिकांश श्रद्धालु चारभुजा की सेवा-पूजा समझते हुए इन दिनों जरुरतमंदों के कार्यो में जुटे हुए है।
लॉकडाउन को लेकर इन दिनों मंदिर का मुख्य द्वार श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ आने को लेकर बंद है।

भगवान क्वारंटाइन में है परंतु नगर सेठ की पूजा-अर्चना पूर्व की भांति पुजारियों के सान्निध्य में अनवर्त चल रही है। मंदिर में सुबह 5 बजे मंगला आरती, 10 बजे पोर आरती, दोपहर साढ़े 12 बजे राजभोग आरती, शाम सवां 7 बजे संध्या आरती एवं रात्रि 10 बजे शयन आरती हो रही है। मंदिर में 23 अप्रैल से अबोटी परिवार के पुजारी बहादुर शर्मा, राजेन्द्र कुमार शर्मा पूजा-अर्चना की जा रही है। लॉकडाउन के दौरान इससे पूर्व पुजारी तरुण कुमार, ऋषिराज द्वारा भगवान की पूजा की जा रही थी।


अक्षय तृतीया को चढ़ा अफीम व खिचड़े का भोग
लॉकडाउन के दौरान 26 अप्रैल को अक्षय तृतीया के अवसर पर भगवान चारभुजा को अफीम व खिचड़े का भोग लगाया गया। इस दौरान दोपहर 12 बजे भगवान परशुराम की विशेष पूजा-अर्चना की गई। अब अगर 3 मई को लॉकडाउन खुल जाता है तो 6 मई को नृसिंह जयंती अवसर पर परम्परागत रुप से सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करते हुए धार्मिक कार्यक्रम होंगे। लॉकडाउन नहीं खुलने पर मंदिर गर्भगृह में चतुर्भुजनाथ के समक्ष थाली में रखकर नृसिंह भगवान के मुखौटे की पूजा ही होगी।

Show More
Rudresh Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned