एक दिसम्बर से पहले वाहन पर फास्टैग नहीं लगाया तो देना होगा डबल टोल

राष्ट्रीय राजमार्गों के टोल नाकों पर एक दिसम्बर से फास्टैग व्यवस्था से कटेगा टोल टेक्स
- वाहन चालकों के पास चार दिन का समय

By: shyam choudhary

Published: 27 Nov 2019, 01:12 PM IST

If you do not 'fastag' before December 1, Will have to pay double toll नागौर. भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण एक दिसंबर से अपने सभी टोल प्लाजा पर फास्टैग सुविधा अनिवार्य करने जा रहा है। लोगों का टोल पर लगने वाले जाम से समय व्यर्थ न हो, इसलिए एनएचएआई की ओर से फास्टैग व्यवस्था को सभी टोल प्लाजा पर एक दिसंबर से पूरी तरह से लागू किया जा रहा है। अब आपको नेशनल हाईवे पर वाहन दौड़ाने के लिए एक दिसम्बर से पहले फास्ट टैग बनवाना जरूरी है। इस नई व्यवस्था में टोल प्लाजा की एक तरफ की केवल एक लेन को छोडकऱ सभी लेन को पूरी तरह से फास्टैग किया जा रहा है। ऐसे में यदि आपने बिना फास्टैग कार्ड के फास्टैग लेन से वाहन निकाला तो डबल टोल टेक्स देना पड़ेगा।

नागौर जिले से गुजरने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 65 पर जोधपुर की तरफ टांकला टोल प्लाजा एवं लाडनूं की तरफ हरिमा व निम्बी जोधा टोल प्लाजा पर दोनों तरफ एक-एक लेन को छोडकऱ फास्टैग की व्यवस्था की जा चुकी है, जबकि राष्ट्रीय राजमार्ग 89 पर कुचेरा व बाड़ी घाटी टोल प्लाजा पर फास्टैग की व्यवस्था की जा रही है। अधिकारियों के अनुसार फास्टैग की प्रक्रिया तीव्र गति से चल रही है, लेकिन यदि यहां स्कैन मशीन नहीं भी लगी तो फास्टैग गन से टोल काटा जाएगा।

ऐसे बनवा सकते हैं फास्टैग
फास्ट टैग के लिए टोल प्लाजा के साथ ही काउंटर बनाए गए हैं, वाहन चालक आरसी, आधार कार्ड और ड्राइविंग लाइसेंस की कॉपी के साथ दो फोटो देकर फास्टैग बनवा सकता है। मात्र 5 मिनट की अवधि में ही इस सुविधा को एक्टीवेट करवा सकते हैं, जिसके बाद आपके वाहन पर चिप (टैग) लगा दी जाएगी। इस सुविधा को जारी रखने के लिए आप मोबाइल से इसे रिचार्ज भी कर सकते हैं। फास्टैग खरीदते समय सभी दस्तावेजों की ऑरिजनल कॉपी जरूर साथ रखें।

कहां से खरीद सकते हैं फास्टैग
- भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण की ओर से संचालित टोल प्लाजा।
- एसबीआई, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई समेत कई बैंक।
- ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पेटीएम, अमेजन डॉट कॉम।
- इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन, भारत पेट्रोलियम, हिन्दुस्तान पेट्रोलियम के पेट्रोल पंप।
- नेशनल हाईवे अथॉरिटी की माई फास्ट ऐप।

पत्रिका अलर्ट - 75 प्रतिशत वाहन चालकों ने नहीं बनवाए फास्टैग
जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय राजमार्ग 65 के सभी टोल प्लाजा पर फास्टैग की व्यवस्था शुरू हो गई है, लेकिन वर्तमान में मात्र 25 प्रतिशत वाहन ही फास्टैग से टोल कटवा रहे हैं। ऐसे में 75 प्रतिशत वाहन मालिकों ने अब तक फास्टैग नहीं बनवाया है। एक दिसम्बर के बाद ऐसे वाहन चालकों को परेशानी हो सकती है। आपको यदि इस प्रकार की परेशानी से बचना है तो फास्टैग खरीदने के लिए गाड़ी का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, गाड़ी मालिक की पासपोर्ट दो साइज फोटो, गाड़ी मालिक का केवाईसी डॉक्यूमेंट जैसे- आईडी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ, ड्राइविंग लाइसेंस आदि की ऑरिजनल कॉपी साथ ले जाएं।

----------------
प्रक्रिया चल रही है
राष्ट्रीय राजमार्ग 89 के दोनों टोल प्लाजा पर फास्ट टैग की व्यवस्था करने के लिए टेंडर प्रक्रिया पूरी हो गई है। दो दिन पहले सडक़ एवं परिवहन मंत्रालय से बाड़ी घाटी टोल पर फास्ट टैग व्यवस्था जांचने के लिए टीम आई थी। मंत्रालय ने एक एसई वरुण अग्रवाल को लगाया गया है, जो फास्ट टैग की व्यवस्था देख रहे हैं। 29 नवम्बर को वे वापस आएंगे। टैग बनाने की व्यवस्था भी जल्द हो जाएगी, कुछ बैंक से भी बात चल रही है। जब तक यह व्यवस्था नहीं होगी, तब तक के लिए वैकल्पिक तौर पर फास्ट टैग गन की व्यवस्था रहेगी, जिसे एक व्यक्ति मैनुअली गन लेकर खड़ा रहेगा।
- एनएम अग्रवाल, एक्सईएन, अजमेर-नागौर सेक्शन एनएच-89

मंत्रालय ने जारी की अधिसूचना
सडक़ परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने गत 21 नवम्बर को ही अधिसूचना जारी कर दी है, जिसके तहत बिना फास्टैग वाले वाहनों से दोगुना टोल वसूला जाएगा। मंत्रालय ने राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण को पत्र लिखकर इस आदेश का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।
- लोकेन्द्रसिंह, प्रबंधक, टोल प्लाजा, टांकला

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned