कोरोना महामारी को रोकने के मिशन में सभी साथ देंः यादव

नागौर जिला कलक्टर ने प्रेसवार्ता के माध्यम से की आमजन से अपील

By: shyam choudhary

Published: 28 Mar 2020, 12:01 PM IST

नागौर. जिला कलक्टर दिनेश कुमार यादव ने कहा कि कोरोना महामारी को फैलने से रोकने के लिए मुख्यमंत्री के दिशा-निर्देश में सरकार व प्रशासन हर स्तर पर पूरे समर्पण के साथ काम कर रही है। मानव जीवन की रक्षा से बढ़कर कुछ नहीं है और इस महामारी कोविड-19 को रोकने के मिशन में सफलता हासिल करने के लिए आमजन का सहयोग बहुत जरूरी है, इसलिए नागौर का हर नागरिक प्रशासन का साथ दे।

जिला कलक्टर दिनेश कुमार यादव ने यह बात शुक्रवार शाम को पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कही। कलक्ट्रेट सभागार में हुई पत्रकार वार्ता में जिला कलक्टर ने कहा कि लाॅकडाउन के दौरान प्रभावित हुए श्रमिकों, खेतीहर मजदूरों, स्ट्रीट, वेंडर्स और कच्ची बस्तियों में रहने वाले जरूरतमंद व्यक्तियों में कोई भूखा न सोए, इसके लिए सरकारी स्तर से पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। पशुओं के लिए चारे व पशु आहार आदि की व्यवस्था को आवश्यक सेवाओं में लिया गया है।

जिला कलक्टर ने बताया कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से भी कोरोना वायरस की रोकथाम व बचाव को लेकर घर-घर सर्वे किया जा रहा है। विदेश, राज्य के बाहर से तथा राजस्थान में विशेषकर भीलवाड़ा, जयपुर, जोधपुर, झुंझनूं जिले से नागौर जिले में आने वाले नागरिकों व यात्रियों की सूचना मिलते ही उनकी हैल्थ स्क्रीनिंग की जा रही है। इन सभी को होम आईसोलेशन पर रखने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं किसी में भी कोरोना वायरस से संक्रमित होने के लक्षण मिलें तो उसे तत्काल सरकारी क्वारेनटाइन में रखा जा रहा है। इस कार्य में जिलेवासी प्रशासन का सहयोग करें और अपने गांव-शहर व कस्बे में कोई भी व्यक्ति विदेश, राज्य के बाहर तथा भीलवाड़ा, जयपुर, जोधपुर, झुंझनूं जिले से आता है तो उनकी सूची बनाकर संबंधित थाना क्षेत्र के एसएचओ, बीसीएमओ, एसडीओ या तहसीलदार को दें ताकि उनकी समय पर हैल्थ स्क्रीनिंग करवाई जा सके।

यादव ने बताया कि किसी भी व्यक्ति को अत्य आवश्यक कार्य से अंर्तजिला या जिले से बाहर वाहन से जाना है तो इसके लिए उसे जिला प्रशासन की ओर से पास जारी करने की व्यवस्था की गई है। इसके लिए संबंधित व्यक्ति को [email protected] तथा [email protected] पर अपना आवेदन प्रस्तुत कर दें, प्रशासन का प्रयास रहेगा कि एक घंटे के अंदर ही संबंधित आवेदन कर्ता को पास जारी दिया जाए। ध्यान देने योग्य बात यह है कि आवेदनकर्ता को यात्रा करने का ठोस व जायज कारण का दस्तावेज भी प्रस्तुत करना होगा।

जिला कलक्टर दिनेश कुमार यादव ने पत्रकार वार्ता में यह भी अपील की कि कोई भी व्यक्ति लाॅकडाउन के दौरान किसी परेशानी का सामना कर रहा है तो इस संबंध में उपखण्ड स्तरीय तथा जिला स्तरीय कंट्रोल रूम के संपर्क सूत्रों पर अपनी शिकायत दर्ज करवाए। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन के उच्च स्तरीय अधिकारियों के मोबाइल नं. पर काॅल शिकायत का निस्तारण नहीं होने पर ही काॅल करें।

आमजन से अपील
जिला कलक्टर ने आमजन से अपील है कि आवश्यक वस्तुओं की पूर्ति के लिए फल, सब्जी, दूध तथा किराना की दुकानों को प्रतिदिन निर्धारित अवधि में खोलने की अनुमति दे दी गई है लेकिन आमजन एक बार में पांच से अधिक भीड़ न करें। साथ ही हर व्यक्ति प्रतिदिन कोई न कोई वस्तु खरीदने दुकानों पर न जाएं बल्कि किराना व सब्जी का स्टाॅक वह आगामी तीन-चार दिन के लिए कर सकता है। इस नियम के पालन से भीड़ कम होगी और कोरोना वायरस के संभावित संक्र्रमण से बचा जा सकेगा।

धारा 144 की पालना आमजन हर हाल में करें

जिला पुलिस अधीक्षक डाॅ. विकास पाठक ने पत्रकार वार्ता में कहा कि कोरोना वायरस की रोकथाम को लेकर लगाई गई धारा 144 की पालना आमजन हर हाल में करें। लोग घरों मेे ही रहें, अनावश्यक रूप से घूमने वालों के विरूद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी। लाॅकडाउन को सफल बनाएं और कोरोना वायरस को दूर भगाएं।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. सुकुमार कश्यप ने कोरोना वायरस की रोकथाम को लेकर जारी मेडिकल एडवाइजरी के बारे में बताया और माॅस्क पहनने से जुड़ी आवश्यक जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव व रोकथाम को लेकर चिकित्सा विभाग युद्ध स्तर पर काम कर रहा है। राहत की बात है अभी तक जिले में एक भी कोरोना पाॅजिटिव मरीज नहीं पाया गया है।

Corona virus
shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned