नागौर जिले की इन महिलाओं ने नए साल पर किया कुछ ऐसा काम...

जैन महिला सोशल ग्रुप की सदस्यों की ओर से गुरुवार को राजकीय सामुदायिक चिकित्सालय में आने वाले मरीजों के लिए दो व्हील चेयर भेंट की गई। इस दौरान ग्रुप की ओर से यहां स्वास्थ्य लाभ ले रहे रोगियों में बिस्किट व फल भी वितरित किए गए

By: Rudresh Sharma

Published: 03 Jan 2020, 08:46 PM IST

Nagaur, Nagaur, Rajasthan, India

मेड़ता सिटी. जैन महिला सोशल ग्रुप की सदस्यों की ओर से गुरुवार को राजकीय सामुदायिक चिकित्सालय में आने वाले मरीजों के लिए दो व्हील चेयर भेंट की गई। इस दौरान गु्रप की ओर से यहां स्वास्थ्य लाभ ले रहे रोगियों में बिस्किट व फल भी वितरित किए गए। नववर्ष 2020 को लेकर जैन महिला सोशल ग्रुप की शकुंतला सिंघवी, सुनिता पाटनी, रेखा जैन, वीणा जैन, पूजा भूतड़ा, पिंकी तातेड़, मंजू मेहता, संगीता सेठिया, राखी जैन, कुसुम, प्रतिभा झामड़, चंदू मेहता सहित सदस्यों ने सामुदायिक चिकित्सालय के प्रभारी डॉ. अखिल गुप्ता को हॉस्पिटल में लाए व ले जाने वाले मरीजों की सुविधार्थ दो व्हील चेयर भेंट की।

इसके अलावा सोशल ग्रुप की महिलाओं ने मेल-फिमेल वार्ड में पहुंचकर उपचारत्त मरीजों को बिस्किट व फ्रुट्स वितरित किए। इस दौरान चिकित्सा प्रभारी डॉ. गुप्ता ने ग्रुप के कार्यो की सराहना की। सोशल ग्रुप की सिंघवी ने चिकित्सा प्रभारी को रोगियों के लिए अन्य जरुरी सुविधाएं मुहैया कराए जाने की बात कही।

श्रीराम कथा के दूसरे दिन हुए शिव-पार्वती कथा पर हुए प्रवचन

उधर, मीरा स्मारक में आयोजित संगीतमय श्रीराम कथा के दूसरे दिन बोलते हुए कथा व्यास स्वामी विजयानन्द ने कहा कि जो भगवान राम की अनन्य भक्ति करता है उसका राम के साथ प्रत्यक्ष संबंध होता है। श्रीराम कथा के दौरान बोलते हुए कथा व्यास स्वामी विजयानन्द अयोध्या ने कहा कि भक्त कभी भौतिक धरातल पर नहीं रहता। उसका ह्रदय सदैव भगवान राम की भक्ति में लगा रहता है। राम पवित्र नाम है। जो भक्त हरे राम का कीर्तन करता है वो भागवान का सामिप्य प्राप्त करता है। कथा वाचक ने इस दौरान सतिका मोह एवं कथा चरित्र प्रसंग पर प्रवचन दिए। उन्होंने कहा कि भगवान तो भक्त की परीक्षा लेते है, लेकिन भक्त भगवान की परीक्षा लेने का अधिकारी नहीं है। पत्नि को पति की सेवा से शौभाग्य प्राप्त होता है। कलियुग में राम-नाम जाप को मुक्तिदाता माना गया है। राम-नाम का जाप भगवत प्राप्ति का सरलतम उपाय है। मनुष्य चाहे एकांत में बैठकर अथवा अपने घर, ऑफिस में बैठे कार्यरत्त रहकर भी राम-नाप जाप करके अपना जीवन सफल बना सकता है। राम-नाम का जाप कोटी पापों का नाश करने में समर्थ है। इस दौरान बड़ी संख्या में महिला-पुरुष श्रद्धालु मौजूद रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned