लाडो को स्कूल में उपलब्ध होंगे सेनेटरी नेपकिन

https://www.patrika.com/nagaur-news/

By: Anuj Chhangani

Published: 03 Jan 2019, 11:34 PM IST

नागौर. किशोरियों को खास दिनों में होने वाली समस्याओं को देखते हुए अब स्कूलों में भी सेनेटरी पेड उपलब्ध करवाए जाएंगे। युवतियों व किशोरियों के मेडिकल दुकान तक जाने में होने वाली हिचक को ध्यान में रखते हुए स्वायत्त शासन विभाग के निर्देश पर नगर परिषद ने शहर में स्कूलों, बस स्टैण्ड, सामुदायिक शौचालयों, कॉलेज समेत अन्य स्थानों पर स्वच्छ भारत मिशन के ठोस कचरा प्रबंधन घटक के तहत सेनेटरी नेपकिन वेंडिंग मशीन व इंसीनेरेटर मशीनें लगाई हैं। इन मशीनों में पांच रुपए का सिक्का डालने पर एक पेड मिलेगा। गौरतलब है कि तत्कालीन जिला कलक्टर राजन विशाल ने महिला अधिकारिता विभाग के सहयोग से 2016 में किशोरियों में मासिक धर्म से जुड़ी परेशानी और भ्रांतियों को दूर करने के लिए नवाचार के रूप में जिले में ‘चुप्पी तोड़ो सयानी बनो’ योजना शुरू की थी। इस योजना के तहत 1601 स्कूलों में किशोरियों को ट्रेनिंग के साथ ही हाईजीन के बारे में भी जागरूक किया गया। इसके लिए स्कूल की लेडी टीचर को प्रशिक्षण भी दिया गया था। कुछ स्कूलों में लेडी टीचर होने पर क्लास की एक किशोरी को प्रशिक्षित किया गया था।

यहां उपलब्ध होंगे नेपकिन
नगर परिषद आयुक्त अनिता बिरड़ा ने बताया कि शहर में जेएलएएन अस्पताल, माडीबाई कॉलेज, रतन बहन स्कूल, गिनाणी स्कूल, शारदा बाल स्कूल (छात्रा),कलक्ट्रेट परिसर, नगर परिषद कार्यालय नेहरू पार्क, पशु प्रदर्शनी स्थल सुलभ शौचालय, फलोदी बस स्टैण्ड सुलभ शौचालय, राउप्रावि किदवई कॉलोनी लोहारपुरा, राप्रावि संख्या 10 बड़ली,राप्रावि महाराणा प्रताप कॉलोनी,रेलवे स्टेशन, प्राइवेट बस स्टैण्ड सुलभ कॉम्प्लेक्स, राप्रावि हनुमानबाग, किले की खाई, बख्तसागर व नकास गेट के पास स्थित स्वच्छता निरीक्षक कार्यालय, राउमावि राठौड़ी कुआं में मशीनें लगाई गई हैं।

Anuj Chhangani Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned