इस लेडी डॉन ने किया राजस्‍थान पुलिस की नाम में दम

Crime in Rajasthan गुर्गों के जरिए फैला रही दहशत का कारोबार

By: Rudresh Sharma

Updated: 18 Jan 2021, 02:11 PM IST

नागौर. पेट्रोल पंप पर डकैती की फिराक में दबोचे गए लेडी डॉन अनुराधा (Lady Don Aniradha) के पांचों गुर्गे दो साल से अपराध (Crime) में सक्रिय थे। ये लूट-फिरौती के साथ अवैध हथियारों की तस्करी भी करते थे। इन पांच में से एक लक्ष्मण सिंह अनुराधा का खास गुर्गा था, जबकि कुचामन सिटी में सट्टा कारोबारी के घर पर हुई फायरिंग से पहले भी दो बार हमले का प्रयास हुआ था। शनिवार को पुलिस ने इनसे हथियार बरामद किए, मुखबिर से मिली सूचना से तो पुलिस को एक बारगी लगा कि लेडी डान (Lady Don) भी हत्थे आ जाएगी, लेकिन वो वहां नहीं मिली। गौरतलब है कि पत्रिका ने इस संबंध में खबर पहले ही प्रकाशित कर दी। आरोपियों को मेडिकल के बाद कोर्ट में पेश किया गया, वहां से उन्हें 21 जनवरी तक पुलिस रिमाण्ड पर सौंपा गया है।


नागौर एसपी श्वेता धनखड़ ने रविवार को पत्रकारों को बताया कि कुचामन (Kuchaman) में हुई फायरिंग समेत अवैध शराब और हथियारों की तस्करी के खिलाफ कार्रवाई के लिए पुलिस टीमें गठित की गईं। गोटन पुलिस को नाकाबंदी के दौरान मुखबिर से सूचना मिली कि हरसोलाव रोड पर पेट्रोल पम्प से आगे मुंह पर नकाब बांधे चार-पांच बदमाश बोलेरो व मोटरसाइकिल लिए खड़े हैं जो किसी वारदात की फिराक में हैं। इस पर एएसपी नागौर राजेश मीना, एएसपी डीडवाना संजय गुप्ता के सुपरविजन में मेड़ता सीओ विक्रम भाटी व परिवीक्षाधीन आरपीएस रूपसिंह इन्दा के नेतृत्व में गोटन थानाधिकारी अशोक बिसु ने मय टीम घेराबन्दी कर इन बदमाशों को पकड़ा।

पुलिस ने डकैती की साजिश रचते प्रकाश (27) पुत्र हुक्माराम, मूलसिंह (20) पुत्र केशरसिंह निवासी जायल, लक्ष्मणसिंह (24) पुत्र भवानीसिंह निवासी भावण्डा, नरेन्द्रसिंह (24) पुत्र रघुनाथसिंह निवासी जोधपुर व शिवराज (22) पुत्र रामनारायण निवासी लाडनूं (Ladnun) को गिरफ्तार किया। पुलिस ने इनके कब्जे से 1 पिस्टल, 1 रिवॉल्वर, 1 कारतूस, मिर्ची पाउण्ड की थैली, एक रस्सी तथा एक बोलेरो व एक बाइक जब्त की। पूछताछ पर जानकारी मिली कि कुचामन सिटी में हुई फायरिंग समेत कई वारदात अनुराधा व रुपेन्द्रपाल सिंह उर्फ विक्की के कहने पर की। ये शातिर आनन्दपालसिंह (Anandpal) व रूपेन्द्रपाल गैंग की मुख्य सरगना लेडी डॉन अनुराधा चौधरी के इशारे पर हथियारों के दम पर लूट, डकैती, दहशत फैलाना व हथियारों को जोधपुर, जयपुर, चूरू आदि अन्य जिलों में पहुंचाने का काम करते थे।


जेल से निकलते ही खास
पकड़े गए पांचों बदमाशों में अकेले प्रकाश पर ही मामले दर्ज हैं। प्रकाश मूलत: शराब कारोबार से जुड़ा है। उस पर आबकारी अधिनियम, आम्र्स एक्ट के अलावा हत्या के प्रयास का मामला दर्ज है। बताया जाता है कि आम्र्स एक्ट में जेल में बंद रहने के बाद जब वो बाहर आया तो लेडी डान अनुराधा के किसी गुर्गे के जरिए गैंग का खास बन गया। इसके अलावा चार अन्य भी गैंग के गुर्गे हैं पर उनके खिलाफ अभी तक कोई मामला दर्ज नहीं था।


लेडी डान की तलाश
एसपी श्वेता धनखड़ (IPS Shweta Dhankad) ने बताया कि अब पुलिस को लेडी डॉन की तलाश है। जल्द ही वो पकड़ में आएगी। नगर निकाय चुनाव को लेकर पुलिस (Police) ने पूरा बंदोबस्त कर लिया है। जल्द पैसे कमाने की चाह के साथ बेरोजगारी, नशेड़ी होने समेत अन्य कई कारण है जो युवाओं को अपराध के दलदल में धकेल रहा है। आरोपियों से पूछताछ कर अन्य वारदातें खुलवाने का प्रयास किया जाएगा।

Show More
Rudresh Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned