सर्वप्रथम जैन कैलेंडर पदमोदय का विमोचन

 

जैन संत डॉ.पदमचंद्र महाराज ने दीक्षा से पूर्व किया था प्रारंभ

By: Jitesh kumar Rawal

Published: 03 Dec 2020, 11:07 PM IST

नागौर. रावत जैन युवा मंच की ओर से वर्ष 2021 के पद्मोदय जैन कैलेंडर का विमोचन गुरुवार को किया गया। श्वेतांबर स्थानकवासी जयमल जैन श्रावक संघ के मंत्री हरकचंद ललवानी एवं रावत जैन युवा मंच के संयोजक संजय पींचा ने कैलेंडर का विमोचन किया। वर्तमान में चेन्नई से प्रकाशित पद्मोदय जैन कैलेंडर विश्व का सर्वप्रथम जैन कैलेंडर है। इसे वर्ष- 1984 में जोधपुर निवासी पदमचंद कांकरिया ने प्रारंभ किया था। पदमचंद कांकरिया वर्तमान में जयगच्छीय जैन संत डॉ.पदमचंद्र महाराज है। पांच वर्ष में ही कैलेंडर अत्यधिक लोकप्रिय हो गया था। सन् 1984 से कैलेंडर नियमित प्रकाशित किया जा रहा है। विश्वभर में इस जैन कैलेंडर को पसंद किया जाता है। रावत जैन युवा मंच की ओर से पद्मोदय जैन कैलेंडर नागौर में विभिन्न जगहों पर उपलब्ध रहता है। कैलेंडर मोबाइल एप पर भी है।

इनका रहता है सहयोग
नागौर में समय पर कैलेंडर वितरण करने में जयमल जैन श्रावक संघ एवं रावत जैन युवा मंच के कार्यकर्ताओं का सहयोग रहता है। संघ एवं युवा मंच के प्रकाशचंद बोहरा, महावीरचंद भूरट, गौतमचंद सुराणा, हरकचंद ललवानी, किशोरचंद ललवानी, प्रदीप बोहरा, सुरेंद्र बांगाणी, संजय पींचा, जितेंद्र नाहर, जितेंद्र चौरडिय़ा, हरकचंद नाहर, पूनमचंद बैद, रूपेश पींचा, विमलेश तातेड़, प्रेमचंद सकलेचा का कैलेंडर वितरण में अहम योगदान रहता है।

श्रद्धांजलि अर्पित
जयमल जैन श्रावक संघ के संरक्षक दीपचंद नाहटा को जय संघीय श्रावक-श्राविकाओं ने श्रद्धासुमन अर्पित किए। जयमल जैन पौषधशाला में दो-दो लोगस्स का ध्यान करते हुए उनकी आत्मशांति की प्रार्थना की गई।

Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned