चिकित्सा विभाग खुद बना रहा सेनेटाइजर, घर-घर होगा वितरित

नागौर. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग कोरोना वायरस की रोकथाम व बचाव को लेकर नागौर जिले में हैण्ड सेनेटाइजर बनाएगा। स्वास्थ्य भवन स्थित जिला औषध भंडार में ही आवष्यक तरल रसायन मिलाकर हैण्ड सेनेटाइजर बनाने का निर्णय किया है।

नागौर. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग कोरोना वायरस की रोकथाम व बचाव को लेकर नागौर जिले में हैण्ड सेनेटाइजर बनाएगा। स्वास्थ्य भवन स्थित जिला औषध भंडार में ही आवष्यक तरल रसायन मिलाकर हैण्ड सेनेटाइजर बनाने का निर्णय किया है। इसके प्रभारी बनाए गए संयुक्त निदेशक (प्रशिक्षण) डॉ. लाल थादानी तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुकुमार कश्यप ने हैण्ड सेनेटाइजर की कमी को दूर करने के लिए कलक्टर दिनेश कुमार यादव के निर्देश पर आबकारी विभाग स्प्रिट उपलब्ध करवाएगा।संयुक्त निदेशक डॉ. थादानी व सीएमएचओ डॉ. कश्यप ने बताया कि ग्लीसरीन, स्प्रिट तथा हाइड्रोजन परोक्साइड के मिश्रण से सेनेटाइजर बनाया जाएगा। इसे बनाने के कार्य में जिला औषध भण्डार के प्रभारी डॉ. राजेश पाराशर, डॉ. अभिषेक चैधरी, फार्मासिस्ट मनीष व उनकी टीम को लगाया गया है। जिला औषध भण्डार में करीब 11 सौ लीटर सेनेटाइजर का निर्माण किया जाएगा। इतनी मात्रा में तैयार किए गए हैण्ड सेनेटाइजर से करीब पांच हजार कार्मिक लाभान्वित होंगे। यह सेनेटाइजर जिले में कोरोना वायरस की रोकथाम को लेकर घर-घर सर्वे कर रही 1495 टीमों को दिए जाएंगे, ताकि वे संक्रमण से बचते हुए अपनी स्वास्थ्य सुरक्षा कर सके। आईसोलेशन व क्वारंटाइन वार्ड की व्यवस्थासंभावित आपातकालीन स्थिति को देखते हुए जिले भर में ब्लॉक स्तर पर 6914 बैड के आइइसोलेशन और क्वारंटाइन वार्ड बनाने के लिए स्थान चिन्हित कर लिए गए हैं। इसे लेकर संबंधित संस्थानों की स्वीकृत भी ले ली गई है। आवश्यकता पडऩे पर इन्हें सेनेटाइज कर तत्काल मरीजों के लिए उपयोग में लिया सकेगा।

कपड़े का मॉस्क बना सहयोग कर रहे दर्जी

डॉ. कश्यप ने बताया कि मॉस्क की कमी न आए, इसके लिए दर्जियों को कपड़ा मुहैया करवा दिया गया है। आमजन की स्वास्थ्य सुरक्षा को देखते हुए कपड़े के मॉस्क बनाए जा रहे हैं। साथ ही आमजन को इसके लिए भी प्रेरित किया जा रहा हैं कि रुमाल को भी मास्क के रूप में काम में लिया जा सकता है, बस प्रतिदिन इसे रात्रि में डिटोल मिले गर्म पानी में धोलेे और सुबह सूखने पर वापस पहन लें। इसके अलावा सामाजिक एवं स्वयंसेवी संगठनों से भी अपील की गई है कि मॉस्क व हैण्ड सेनेटाइजर मुहैया करवाकर सरकार का सहयोग करें। इस पुनीत कार्य में कई व्यवसायिक व सामाजिक संगठन आगे भी आए हैं।

Sandeep Pandey Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned