माँ ने बेटे की पहली पुण्यतिथि पर किया रक्तदान शिविर का आयोजन, बांटे हेलमेट

neha soni

Publish: May, 14 2019 04:58:58 PM (IST)

Nagaur, Nagaur, Rajasthan, India

नागौर।

मां की ममता के कहानी- किस्से अपने खूब सुने होंगे, लेकिन आज हम आपको एक ऐसी मां के बारे में बताने जा रहे हैं जिसने अपना बेटा तो खो दिया लेकिन वह अब नहीं चाहती की किसी और मां की कोख भी उसकी तरह सुनी हो जाये। ऐसा ही एक मामला नागौर के मेड़ता से सामने आया है जहां एक मां की ममता के बारे में बताते हैं, जिसके इकलौते बेटे की एक साल पहले सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। उस दिन बेटे के पास हेलमेट नहीं था, जिसकी वहज से सिर में गंभीर चोट लगने से जान नहीं बच पाई, मगर अब मृतक की मां ने ठान लिया कि जिस तरह उनके बेटे की जान गई वैसे ही अन्य मांओं के बेटों के साथ नहीं हो और उनके बेटे सुरक्षित रहे, इसलिए एक अनूठी मुहिम चलाई अपने बेटे की पहली पुण्यतिथि के अवसर पर आयोजित हुए ब्लड कैंप के दौरान 101 यूनिट रक्त संग्रहित हुआ और रक्तदान करने वाले 101 युवाओं को हेलमेट बांटे, ताकि वह मोटरसाइकिल चलाते वक्त सुरक्षित सफर कर सके और किसी भी मां को अपने बेटे को नहीं खोना पड़े।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned