सांसद हनुमान बेनीवाल ने लोकसभा में उठाया राजस्थान के किसानों का मामला, बोले - अवाप्त जमीन का चार गुना मुआवजा दो

सांसद हनुमान बेनीवाल ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की भारतमाला परियोजना को मूर्त रूप देने को बताया ऐतिहासिक कदम

 

By: shyam choudhary

Published: 27 Nov 2019, 10:08 PM IST

MP Hanuman Beniwal raised the issue of farmers of Rajasthan in Lok Sabha , said - Give four times the compensation of the land
नागौर
. लोकसभा में नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने भारत सरकार की महत्वपूर्ण सडक़ योजना भारतमाला परियोजना के अंतर्गत राजस्थान के बीकानेर, जोधपुर, बाड़मेर, जालोर सहित सीमावर्ती क्षेत्रों के किसानों से अवाप्त हो रही जमीन की एवज में बाजार रेट से चार गुना अधिक मुवावजा देने व इसके लिए चल रहे किसानों के आंदोलन की तरफ सडक़, परिवहन व राजमार्ग मंत्री नीतिन गडकरी का ध्यान आकर्षित किया।

लोकसभा के शून्यकाल में बोलते हुए सांसद बेनीवाल ने कहा कि भारतमाला सडक़ परियोजना 754के. अमृतसर- कांडला में राजस्थान के गंगानगर जिले से लेकर बीकानेर, बाड़मेर, जोधपुर, जालोर आदि जिलों में किसानों की अवाप्त भूमि का उचित मुवावजा नहीं मिल रहा है। उन्होंने कहा कि अवाप्त भूमि का मुवावजा बाजार मूल्य से चार गुना अधिक मिले और अवाप्ति में अगर कोई भी कच्चा या पक्का निर्माण किसी का टूट रहा है या कोई फसल बोई हुई है तो उनका भी अलग से मुवावजा दिया जाए। सांसद ने कहा कि सामरिक महत्व की इस महत्वपूर्ण परियोजना, जिसमे सडक़ पर भी फाइटर प्लेन उतर सकेंगे, साथ ही कहा कि जब पंजाब में इस परियोजना में अवाप्त जमीन के लिए 1 करोड़ 75 लाख रुपए प्रति हैक्टेयर मुवावजा दिया जा रहा है तो राजस्थान में मात्र 1 लाख 20 हजार प्रति एकड़ दिया जाना उचित नहीं है। इसलिए केंद्र हस्तक्षेप करके पंजाब की तर्ज पर राजस्थान में मुवावजा दे, ताकि सीमावर्ती इलाको में रहने वाले किसानों को राहत मिल सके।

एसपीजी से जुड़े बिल पर भी बोले सांसद
सांसद बेनीवाल ने विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) संसोधन विधेयक-2019 की चर्चा में भाग लेते हुए कहा कि एसपीजी सुरक्षा किसको मिले, केवल यही मुद्दा देश में नहीं है, क्योंकि देश की सीमाएं कैसे सुरक्षित रहे, इस बात की चिंता देश की सरकार ने की है। सांसद ने कहा कि इस बिल के माध्यम से केवल पीएम और उनके साथ रहने वाले परिजनों को इस श्रेणी की सुरक्षा दी जाएगी, जो अच्छा कदम है। सांसद ने कहा कि इस बिल के आने से एक परिवार विशेष को सुरक्षा देने के लिए बनाए गए विशेषाधिकार को हटाने से देश में एक अच्छा संदेश जाएगा। उन्होंने इस बिल के लिए केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह को धन्यवाद देते हुए कहा कि सकारात्मक सोच के साथ देश की जनता की मंशा का ख्याल रखा है। उन्होंने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि जब देश कांग्रेस को नकार चुका है तो ऐसे में उनके नेताओं को एसपीजी की सुरक्षा की आवश्यकता कहां से आ पड़ी है।

राज्यमंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह से की मुलाकात
सांसद बेनीवाल ने प्रधानमंत्री कार्यालय के राज्य मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह से उनके संसद भवन में स्थित कार्यालय में मिलकर राजस्थान सरकार द्वारा गैर प्रशासनिक सेवाओं से सम्बन्ध रखने वाले पांच अधिकारियों को भारतीय प्रशासनिक सेवा में पदोन्नति देने की प्रक्रिया पर रोक लगाकर कार्रवाई की मांग की। सांसद ने अपने पत्र में जितेन्द्र सिंह को अवगत करवाया कि जो लोग वर्तमान सरकार के करीबी हैं और वित्तीय अनियमितताओं व भ्रष्टाचार से जुड़े मामलों में आरोपी हैं, उन्हें गलत तथ्यों के आधार पर पदोन्नत करके आईएएस बनाया जा रहा है, जो अनुचित है। साथ ही कहा कि केन्द्रीय कार्मिक विभाग के कुछ अफसर में भी इसमें शामिल हैं, जिन्होंने राज्य सरकार की अनुशसा को बिना विश्लेषण मिलीभगत करके स्वीकृति दे दी। केन्द्रीय मंत्री सिंह ने उन्हें आश्वस्त करते हुए कहा कि मामले में बड़ी और निष्पक्ष कार्रवाई जल्द करेंगे।

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned