राजस्‍थान के इस शहर में नगर पालिका जेईएन काे 12 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ दबोचा

सीकर एसीबी टीम की कार्रवाई, लबित भुगतान पारित करवाने के एवज में मांगी रिश्वत

 

By: Rudresh Sharma

Published: 16 Apr 2021, 11:43 PM IST

कुचामनसिटी. नगर पालिका कुचामन सिटी के कनिष्ठ अाियंता कमलेश कुमार चौधरी को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) सीकर टीम ने शुक्रवार को 12 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरतार किया है। एसीबी ने इस कार्रवाई को नगर पालिका कार्यालय में ही अंजाम दिया। कार्यालय में एसीबी का छापा पड़ते देखकर कई अधिकारी व कर्मचारी भाग निकले।

एसीबी के उप अधीक्षक जाकिर अतर ने बताया कि ठेकेदार नोलाराम कुमावत की शिकायत पर यह कार्रवाई की गई है। इससे पहले 15 अप्रेल को उप अधीक्षक अतर के नेतृत्व में ठेकेदार की शिकायत पर सत्यापन कराया गया। इसके बाद शुक्रवार को नगर पालिका में ठेकेदार नोलाराम से कनिष्ठ अाियंता चौधरी को 12 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरतार किया।

करीब पांच घंटे तक चली कार्रवाई के बाद आरोपी की कोरोना जांच व मेडिकल चेकअप करवाया गया। इधर, सीकर एसीबी टीम के कुचामन नगर पालिका में ट्रेप की कार्रवाई के बाद नागौर एसीबी टीम भी हरकत में आ गई है। जायल के खंवर गांव में आरोपी कमलेश के घर टीम पहुंची गई। जहां पूरे घर की तलाशी ली गई। एसबी की कार्रवाई के दौरान टीम में रोहिताश्व सिंह, राजेन्द्र प्रसाद, सुशीला, मूलचन्द, दलीप कुमार, कैलाशचन्द, सुरेन्द्र कुमार आदि अधिकारी शामिल रहे।

बिल पास करने के एवज में मांगी थी रिश्वत
परिवादी नोलाराम कुमावत व उसके पार्टनर इकबाल ने प्लास्टिक स्पीड बेक्रर सबन्धित कार्य किया गया था। इस कार्य का कुल भुगतान पांच लाख रुपए करना था। जिसमें से चार लाख सोलह हजार दे दिए। अंतिम भुगतान 84 हजार रुपए शेष रहे गए थे। जिसे पारित करवाने के एवज में कनिष्ठ अाियंता चौधरी ने 12000 रुपए की रिश्वत मांगी। जिसकी शिकायत नोलाराम ने सीकर एसीबी टीम को की। सीकर एएसबी टीम को शिकायत प्राप्त होने के बाद सत्यापन करवाकर ट्रैप कार्रवाई की गई। बताया जा रहा है कि एक दिन पहले भी एसीबी टीम ने ट्रैप करने का प्रयास किया था, लेकिन उस दिन अाियंता के रकम नहीं लेने के कारण एसीबी को सफलता नहीं मिल सकी।

Patrika
Rudresh Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned