वीडियो: जिला कांग्रेस में दिखी आपसी फूट, आधे आए नहीं, जो आए वो भी एक मत नहीं दिखे

नोटबंदी के खिलाफ काला दिवस मनाने आए कांग्रेस पदाधिकारियों में रही फोटो खींचाने की हौड़, नोटबंदी का एक साल पूरा होने पर जिला मुख्यालय पर किया विरोध

By: shyam choudhary

Published: 09 Nov 2017, 11:39 AM IST

नागौर. आपसी फूट के कारण चार साल पहले सत्ता से बाहर हुई कांग्रेस आज भी एकजुट नहीं हो पाई है। प्रदेश स्तर पर जहां प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट व पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गुट बंटे हुए हैं, वैसे ही नागौर जिले में भी कांग्रेस के दोनों गुट एक मंच पर आने में कतरा रहे हैं। बुधवार को नोटबंदी का एक साल पूरा होने पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर काला दिवस मनाने के लिए जिले के आधे कांग्रेस नेता ही विरोध-प्रदर्शन में शामिल हुए। जो शामिल हुए, उनमें भी कई लोगों ने पार्टी की कार्यशैली पर सवाल खड़ा करते हुए विरोध दर्ज कराया। हालांकि वरिष्ठ नेता महेश शर्मा, जसवंत गुर्जर, राकेश मोरदिया आदि ने कांग्रेस के सिपाही के रूप में एकजुटता से काम करने की नसीहत दी, लेकिन शहर इस बात की चर्चा रही कि इतना कुछ होने के बावजूद यदि कांग्रेस सबक नहीं ले रही है तो इसका भगवान ही मालिक है।
प्रधानमंत्री ने आम आदमी पर किया हमला
जिलाध्यक्ष जाकिर हुसैन गेसावत ने कहा कि जिस पर 26/11 को मुम्बई में आतंकी हमला हुआ और उसमें कई लोग मारे गए, उसी प्रकार प्रधानमंत्री मोदी ने नोटबंदी की घोषणा कर आम नागरिक पर हमला किया, जिससे कई लोग मारे गए। लोगों को झूठे प्रलोभन देकर गुमराह किया। जिलाध्यक्ष ने कहा कि मोदी ने यूपी का चुनाव जीतने के लिए नोटबंदी का खेल खेला और विरोधी पार्टियों का जो फंड था उसे रद्दी की टोकरी में डाल दिया।
पूर्व प्रधान रिद्धकरण लोमरोड़ ने बात को संभालते हुए बड़े नेताओं के नहीं पहुंचने की बात कहा कि नरेन्द्र मोदी खुद चाय बनाते हुए प्रधानमंत्री बन गए तो हम क्यों नहीं। उन्होंने युवाओं से कहा कि हम बड़ा बनने की कोशिश करें। उन्होंने कहा कि कोई छोटा-बड़ा नहीं है, हम कांग्रेस के सिपाही हैं और इसके लिए जी-जान से काम करना है।

युवाओं का साथ दो, नहीं तो कहीं के नहीं रहोगे
एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष राजेन्द्र डूकिया ने माडीबाई महिला कॉलेज की जमीन किए गए अतिक्रमण का मुद्दा उठाते हुए कहा कि छात्रों को गिरफ्तार करने पर जब उन्होंने कांग्रेस जिलाध्यक्ष व जिला प्रभारी को फोन किया तो उनका रुख नकारात्मक रहा। इतना भी नहीं कह पाए कि हम आपके साथ हैं। डूकिया ने कहा कि यदि आप युवाओं का साथ नहीं दोगे तो युवा आपका सहयोग क्यों करेंगे। युवा नेताओं ने कहा कि पार्टी में आज भी गुटबाजी चल रही है, ऐसे में विधानसभा चुनाव जीतना संभव नहीं है।


इन्होंने भी किया संबोधित
नोटबंदी के खिलाफ कांग्रेस की ओर से मनाए गए काला दिवस पर प्रधान जालाराम, हिम्मतसिंह, लच्छाराम बडारड़ा, पीसीसी सदस्य बन्नाराम, तेजाराम धेड़ू, सत्यनारायण खिलेरी, हनुमान बांगड़ा, जायल के पूर्व प्रधान रामकरण, हाजी गुलाम रसूल, इब्राहिम गेसावत, महावीर कोठारी, रामकरण डांगावास, असलम चौधरी, मनोज चौधरी, हेमाराम बेड़ा, बंशीलाल मेघवाल, भंवरलाल खुडख़ुडिय़ा, भंवराराम डूडी, दिलफराज खान, मोतीलाल चंदेल आदि ने संबोधित करते हुए नोटबंदी का विरोध किया। कुचामन से आए युवा नेता दीपक नेहरा ने कहा कि नोटबंदी देश के लिए आर्थिक हत्या साबित हुई। नागौर प्रधान ओमप्रकाश सेन ने कहा कि नोटबंदी के चलते कई मजदूरों एवं गरीबों की जान चली गई। सरकार ने जो दावे किए थे, उनमें से एक भी पूरा नहीं हो पाया।


ये रहे उपस्थित
कांग्रेस के काला दिवस आयोजन में वरिष्ठ कांग्रेस नेता नित्यानंद जोशी, शौकत अली, प्रेमसुख जाजड़ा, तबरेज खां, खालिद हुसैन, पप्पू तंवर, एडवोकेट विक्रम जोशी, हमीद गौरी, ओमप्रकाश जोशी, भीकाराम कंकड़ावा, लक्ष्मणराम, मनोज देवल, फरीद खां, विमल सोनी, भूराराम डूडी, राजेश रलिया, मोहित व्यास सहित जिलेभर के कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी शामिल हुए।

रैली के रूप में पहुंचे कलक्ट्रेट
जिला कांग्रेस कार्यालय में केन्द्र एवं राज्य सरकार की नीतियों एवं नोटबंदी का विरोध करने के बाद सभी कांग्रेसी रैली के रूप में कलक्ट्रेट पहुंचे तथा सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। इसके बाद प्रधानमंत्री व राज्यपाल के नाम कलक्टर कुमारपाल गौतम को ज्ञापन सौंपा।


कलक्टर ने जताई नाराजगी
कलक्टर को ज्ञापन देने के दौरान बड़ी संख्या में कार्यकर्ता कलक्टर कक्ष के बाहर पहुंच गए और नारेबाजी करने लगे। पुलिसकर्मी द्वारा मना करने के बावजूद कार्यकर्ता कलक्टर कक्ष के अंदर प्रवेश कर गए, जिस पर कलक्टर ने नाराजगी जताई तथा शांतिपूर्वक ज्ञापन देने के लिए कहा।

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned