नागौर सभापति चुनाव : ममता व मीतू में सीधी टक्कर, बोथरा के साथ दिखे 32 पार्षद

निर्दलीय उम्मीदवार पायल गहलोत ने उठाया नामांकन

By: shyam choudhary

Updated: 05 Feb 2021, 11:49 AM IST

नागौर. नागौर नगर परिषद सभापति के लिए अब कांग्रेस प्रत्याशी ममता भाटी व निर्दलीय प्रत्याशी मीतू बोथरा के बीच सीधी टक्कर होगी। गुरुवार को नाम वापसी के अंतिम समय में कांग्रेस से बागी होकर निर्दलीय के रूप में नामांकन भरने वाली पायल गहलोत ने अपना आवेदन वापस उठा लिया। रिटर्निंग अधिकारी अमित कुमार चौधरी ने बताया कि नगर परिषद सभापति के चुनाव में अब ममता व मीतू उम्मीदवार के रूप में हैं। 7 फरवरी को सुबह 10 से दोपहर 2 बजे तक सभापति पद के लिए मतदान होगा तथा मतदान के बाद मतगणना की जाएगी।

गौरतलब है कि कांग्रेस से सभापति पद के लिए टिकट मांग रही पायल की बजाय पूर्व सभापति मांगीलाल भाटी की पत्नी ममता को प्रत्याशी बनाने पर ममता के पति प्रणय गहलोत ने एक ऑडियो जारी कर कांग्रेस का टिकट नहीं मिलने पर निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरने की बात कही थी, जिसके अनुसार उनकी पत्नी ने नामांकन भी भरा, लेकिन गुरुवार को नामांकन वापस उठा लिया। इस मौके पर गहलोत ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वार्ड वासियों की राय व पूर्व मंत्री हबीबुर्रहमान के कहने पर उन्होंने पार्टी हित में नामांकन वापस लिया है।

बोथरा गुट के 33 पार्षद दिखे एक साथ
नागौर सभापति चुनाव में नामांकन वापसी के बाद मैदान में रही कांग्रेस प्रत्याशी ममता व निर्दलीय मीतू जहां बहुमत से अधिक पार्षद होने का दावा कर रहे हैं, वहीं गुरुवार को मीतू बोथरा 32 अन्य पार्षदों के साथ एक फोटो में दिखीं। जिले से बाहर अज्ञात रिसोर्ट पर रखे पार्षदों के फोटो में 33 नवनिर्वाचित पार्षद हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बोथरा गुट का कहना है कि 8 पार्षद उनके समर्थन में और हैं जिन्हें दूसरे स्थान पर रखा गया है।

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned