नागौर में नहीं ‘वेस्ट’ का ‘बेस्ट’ मैनेजमेंट

सुधरे शहर का वेस्ट मैनेजमेंट: नगर परिषद जगह-जगह लगा रही कचरे के ढेरm, स्वच्छ भारत अभियान पर ‘दाग’ लगा रही नगर परिषद, कॉलोनियों में रहने वाले लोग परेशानपत्रिका अभियान

nagaur City council is putting garbage in place नागौर. नागौर में वेस्ट मैनेजमेंट में नागौर नगर परिषद लगातार नीचे खिसकती जा रही है। नगर परिषद अधिकारी भले स्वच्छ भारत मिशन में अच्छी रैंकिंग लाने की बात कर रहे हैं, लेकिन जिस प्रकार शहर में जगह-जगह कचरे के ढेर लगाए जा रहे हैं, उससे बाहर से आने वाली टीम तो दूर खुद शहर के लोग ही वेस्ट मैनेजमेंट में नगर परिषद को फेल साबित कर रहे हैं।

कचरा निस्तारण हो या फिर सीवरेज, आए दिन परेशान शहरवासी हो रहे हैं। शहर का सूखा कचरा निस्तारण के लिए तैयार होने वाला मेटेरियल रिकवरी फेसीलिटी (एमआरएफ) अब तक मूर्त रूप नहीं ले पाई है, वहीं गीला कचरा निस्तारण के लिए लाखों रुपए खर्च कर मंगवाई गई कंपोस्ट मशीन ने भी काम शुरू नहीं किया है। यही हाल बायोमेडिकल वेस्ट प्लांट की है। एक प्रकार से नागौर में स्वच्छ भारत अभियान का सपना साकार होता नजर नहीं आ रहा है।

कचरे से हो रहा स्वागत
शहर के मूण्डवा चौराहा से मानासर चौराहा तक एनएच-89 व एनएच-65 की सडक़ एक हो जाती है, ऐसे में शहर से गुजरने वाला हर व्यक्ति इस सडक़ से निकलता है। मूण्डवा, अजमेर, डीडवाना, लाडनूं से आने वाले लोगों का मूण्डवा चौराहा पार करते ही कचरे से स्वागत हो रहा है। नगर परिषद ने 220 केवी जीएसएस के सामने कलेक्शन सेंटर बना रखा है, जहां शहर भर से टीपर के जरिए लाया जाने वाला कचरा खाली किया जाता है और फिर डम्पर व ट्रक में भरकर बालवा रोड ले जाया जाता है, लेकिन इसके चलते यहां न केवल सडक़ किनारे प्लास्टिक के ढेर लगे हैं, बल्कि डिस्कॉम कॉलोनी में भी कचरा फैल रहा है। साथ ही बदबू के कारण यहां आसपास रहने वाले लोगों का जीना दूभर हो गया है।

गंदगी व बदबू से परेशान, शिकायतें दे-देकर थक चुके
220 केवी जीएसएस एवं डिस्कॉम कॉलोनी के सामने नगर परिषद ने डम्पिग यार्ड बना रखा है, जिससे प्लास्टिक व अन्य कचरा उडकऱ कॉलोनी में भर जाता है। कचरे की बदबू से यहां रहने वाले अधिकारी व कर्मचारी परेशान हैं। रेस्ट हाउस में आए दिन बड़े अधिकारी आते हैं। शहर की मुख्य सडक़ के किनारे जमा प्लास्टिक शहर की सुंदरता पर दाग लगा रही है। एनएच-89 व एनएच-65 की दोनों सडक़ यहां एक होने से यातायात भी रहता है। इस समस्या से निजात दिलाने के लिए हमने कई बार नगर परिषद आयुक्त को लिखित में दिया है, लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई।
- धर्माराम गुरु, एक्सईएन, 220 केवी जीएसएस, नागौर

बदल रहे हैं जगह, एक सप्ताह में कर देंगे साफ
हां, यह समस्या मेरे ध्यान में है और मैंने चार-पांच दिन पहले ही मौका देखा था। यह हमारा कचरा कलेक्शन का सेंटर था, जिसे हम अब बदल रहे हैं। आगामी एक सप्ताह में सारा कचरा साफ कर देंगे तथा सडक़ किनारे जमा प्लास्टिक भी साफ करवा देंगे।
- जोधाराम विश्नोई, आयुक्त, नगर परिषद, नागौर

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned