नागौर रेलवे स्टेशन प्लेटफॉर्म पर कोच गाइडेंस सिस्टम नदारद

नागौर रेलवे स्टेशन प्लेटफॉर्म पर कोच गाइडेंस सिस्टम नदारद

Dharmendra Gaur | Publish: Jun, 14 2018 12:14:31 PM (IST) Nagaur, Rajasthan, India

नागौर रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर लगे कोच गाइडेंस बोर्ड नहीं होने से यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, जानकारी के लिए इधर-उधर भटकते हैं यात्री...

नागौर. रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर लगे कोच गाइडेंस बोर्ड नहीं होने से यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। दरअसल, रेलवे प्लेटफार्म पर नए कोच गाइडेंस बोर्ड लगाएगा लेकिन आधी अधूरी तैयारी व विभागों में आपसी सामंजस्य के अभाव में नया सिस्टम शुरू नहीं हो पाया और विभाग ने पुराने कोच डिस्पले बोर्ड पहले ही हटाकर पुल के नीचे रख दिए, जो इन दिनों शो पीस बनकर रह गए हैं। बोर्ड नहीं होने से सैकड़ों यात्रियों, खासकर बुजुर्ग और महिलाओं को अपने कोच की पोजीशन पता करने के लिए परेशान होना पड़ रहा है।
विभागों में सामंजस्य की कमी
रेलवे ने पैसेंजर्स की सुविधा के लिए कोच गाइडेंस सिस्टम लगवाया हुआ था लेकिन कुछ माह पहले सिस्टम हटा लिया गया। विभागीय प्रक्रिया में हो रही देरी के कारण नए बोर्ड नहीं लग पाए। रेलवे सूत्रों का कहना है कि संबंधित शाखा के अधिकारियों को नए बोर्ड लगाने कीअनुमति लेने के बाद ही पुराना सिस्टम हटाना चाहिए था, लेकिन उन्होंने पहले ही हटा लिया, इससे परेशानी हो रही है। जिला मुख्यालय स्थित रेलवे स्टेशन से रोजाना औसतन दो दर्जन गाडिय़ों की आवाजाही रहती है और हर रोज करीब 2700 यात्री रोजाना नागौर से यात्रा करते हैं और करीब सवा करोड़ रुपए की मासिक आय होती है।
स्टॉफ भी रहता है परेशान
रेलवे स्टेशन पर टे्रनों के आने जाने का समय व कोच का स्थान पता नहीं चलने पर यात्री स्टेशन पर मौजूद रेलवे कर्मचारी या पूछताछ खिड़की पर पता करते हैं। कई बार पूछताछ खिड़की पर स्टॉफ नहीं रहने पर यात्री स्टेशन मास्टर के पास जाते हैं। स्टेशन मास्टर पर पांच से छह फाटकों को बंद करवाने के लिए गेट मैन से संवाद स्थापित करने का दबाव रहता है, उसी बीच इनकी समस्या भी सुननी पड़ती है। कई बार Train के आने का समय होने के कारण समयाभाव व सुरक्षा कारणों से जवाब नहीं दे पाने के कारण यात्रियों की कर्मचारियों से तू-तू-मैं-मैं भी हो जाती है।

नागौर रेलवे स्टेशन एक नजर में
1.20 करोड़ है स्टेशन की मासिक आय
2700 यात्री रोजाना करते हैं नागौर से यात्रा
80 हजार यात्री हर माह देते हैं राजस्व
24 गाडिय़ां रोजाना गुजरती है नागौर से
02 प्लेटफार्म है नागौर रेलवे स्टेशन पर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned