वीडियो : लाखों रुपए के डोडा-पोस्त से भरा ट्रक जब्त, दो गिरफ्तार

shyam choudhary

Publish: Sep, 17 2017 12:52:59 (IST) | Updated: Sep, 17 2017 12:56:52 (IST)

Nagaur, Amar Singh Colony, Rajasthan, India
वीडियो : लाखों रुपए के डोडा-पोस्त से भरा ट्रक जब्त, दो गिरफ्तार

कोतवाली पुलिस की बड़ी कार्रवाई, चित्तौडग़ढ़ निवासी आरोपित विष्णु भील व राजू को किया गिरफ्तार, पुलिस ने दो जगहों से जब्त किया कुल 643 किलो 500 ग्राम 

नागौर. कोतवाली पुलिस ने शनिवार शाम को शहर में बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए डोडा-पोस्त से भरा एक ट्रक जब्त कर दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने देर रात तस्करी के आरोप में गिरफ्तार आरोपितों की निशानदेही पर कार्रवाई करते हुए जहां डोडा-पोस्त की सप्लाई होनी थी, वहां भी दबिश देकर 163 किलो 500 ग्राम डोडा-पोस्त एवं अखबार व पॉलीथीन में लिपटा हुआ लगभग 130 ग्राम अफीम जैसा पदार्थ बरामद किया। दोनों जगहों से जब्त डोडा-पोस्त की बाजार कीमत करीब 26 लाख रुपए बताई जा रही है।
पुलिस के अनुसार नागौर एसपी परिस देशमुख के निर्देश पर जिले में मादक पदार्थों की तस्करी करने वालों के खिलाफ चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत कोतवाली थानाधिकारी नंदराम भादू ने कांस्टेबल बीरमाराम, नवरतन, नरेन्द्र व नैनाराम के साथ मुखबिर की सूचना पर कार्रवाई करते हुए जोधपुर-बीकानेर बाइपास पर नाकाबंदी कर एक ट्रक को रुकवाकर की तलाशी ली तो उसमें गेहूं की बोरियों के बीच अवैध डोडा-पोस्त भरा हुआ मिला।
इस पर पुलिस ने ट्रक को टॉउन हॉल ले जाकर डोडा-पोस्त का वजन करवाया, जो 480 किलोग्राम पाया गया। इसके बाद पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट में मामला दर्ज ट्रक में सवार दो युवकों को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू की। पूछताछ में आरोपितों ने अपना नाम राजू पुत्र रतन निवासी सिंहपुरा जिला चित्तौडग़ढ़ एवं विष्णु पुत्र डालू निवासी चन्द्रपुरा जिला चितौडग़ढ़ होना बताया।

चितौडग़ढ़ से लाए डोडा
कोतवाली पुलिस ने दोनों आरोपितों से पूछताछ की तो सामने आया है कि वे डोडा-पोस्त चित्तौडढ़़ से भरकर लाए तथा श्रीबालाजी थाना क्षेत्र के सथेरण गांव के आसपास के क्षेत्र में सप्लाई करने जा रहे थे। पुलिस द्वारा दोनों आरोपितों से गहनता से पूछताछ करने पर उन्होंने बताया कि तस्करी का डोडा-पोस्त सथेरण के निकट धारणियों की ढाणी निवासी सुनील विश्नोई द्वारा मंगवाया गया। इस पर एसपी देशमुख ने नागौर वृत्ताधिकारी ओमप्रकाश गौतम के नेतृत्व में पुलिस टीम को सुनील के घर पर दबिश के लिए भेजा। पुलिस जब सुनील के घर पहुंची तो वह वहां से फरार हो गया। पुलिस ने सुनील के घर से 9 बोरों में भरा कुल 163 किलो 500 ग्राम डोडा-पोस्त एवं अखबार व पॉलीथीन में लिपटा लगभग 130 ग्राम अफीम जैसा पदार्थ बरामद किया। इस कार्रवाई में सदर थानाधिकारी सुनील चारण, कांस्टेबल राजू गौरान, मूलाराम, लक्ष्मीनारायण यादव, अजय यादव, शामिल थे।

दबिश से पहले फरार
आरोपित तस्कर सुनील धारणियां पुलिस की दबिश से पहले अपने घर से फरार हो गया। नागौर में ट्रक के पकड़े जाते ही उसे भनक लग गई। सूत्रों ने बताया कि उसके ठिकाने पर माल आने के दौरान वह भी नजर रखे हुए था। जैसे ही ट्रक पुलिस के हत्थे चढ़ा, वह रफ्फूचक्कर हो गया।

कई युवाओं को कर चुका बर्बाद
मामले में सामने आया है कि आरोपी सुनील धारणिया पिछले एक साल से बड़े पैमाने पर मादक पदार्थों की तस्करी कर रहा था। उसके ठिकाने पर डोडा पोस्त भरे ट्रक उतरने की सूचना कई बार मिली, लेकिन पुलिस आरोपित को माल के साथ पकडऩे में कामयाब नहीं हुई। आखिरकार इस बार पुख्ता मुखबिरी के चलते ट्रक में भरा डोडा पोस्त व ट्रक के साथ ठिकाने तक सप्लाई करने वाले भी पुलिस के हत्थे चढ़ गए। क्षेत्र में अवैध रूप से बेचे जा रहे डोडा-पोस्त के कारण कई युवाओं की नशे की लत लग चुकी है, जो बर्बादी की राह पर हैं।

दुगुने दामों पर बेचते हैं डोडा-पोस्त
तस्कर बाजार में इस डोडा-पोस्त को चार हजार से छह हजार रुपए प्रति किलो तक बेचते हैं। वहीं पीछे से अच्छी सेंटिंग होने पर डोडा-पोस्त 2०00 रुपए से 2५00 रुपए तक लाया जाता है। अगर कोई नया तस्कर पनपता है तो उसे डोडा पोस्त 2700 से 3000 रुपए तक दिया जाता है। आरोपी तस्कर सुनील के दो और पार्टनर बताए जा रहे हैं, जिनके नामों का खुलासा अभी नहीं हुआ है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned