नागौर का विश्व स्तरीय रामदेव पशु मेला का खत्म होता वजूद

Sharad Shukla

Publish: Feb, 06 2019 01:08:44 PM (IST)

Nagaur, Nagaur, Rajasthan, India

नागौर. ये नजारा है नागौर जिले के विश्व स्तरीय ऐतिहासिक श्री रामदेव पशु मेला का । इस मेले में नागौर नस्ल के पशु कभी मेले की जान हुआ करते थे जिसे खरीदने प्रदेश से बाहर के पशुपालक भी पशु मेले में आते थे लेकिन इस साल ना तो बाहर के पशुपालक मेले में आए और ना ही नागौरी नस्ल के बछड़े । श्री रामदेव पशु मेले का उद्घाटन जिला कलेक्टर दिनेश कुमार यादव मुख्य अतिथि नागौर जिला पुलिस अधीक्षक गगनदीप सिंगला उपखंड अधिकारी मुरारी लाल शर्मा नागौर पंचायत समिति के प्रधान ओम प्रकाश सेन की मौजूदगी में विधिवत झंडारोहण करके मेले का आगाज किया ऐतिहासिक मेले के उद्घाटन में नागौर पंचायत समिति के प्रधान ओम प्रकाश सेन ने मेले के खत्म हो रहे वजूद को लेकर चिंता जाहिर की वहीं जिला कलेक्टर दिनेश कुमार यादव ने भी चिंता जाहिर करते हुए ऐतिहासिक मेले के वजूद को दोबारा जिंदा रखने के लिए उचित कदम उठाने की बात नागौरी नस्ल के गोवंश नागौरी नस्ल के बैल पूरे देश में अपनी अनूठी पहचान जाते थे आज मेले का पिछले 10 सालों में मौजूद लगातार घटता जा रहा है अब सबको मिलकर इसे वापस जिंदा रखने के लिए प्रयास करने होंगे आश्वासन भी मेले में शिरकत करने आए पशुपालकों को दिया पिछले कुछ वर्षो से तीन साल से कम उम्र के बछड़े के प्रदेश से बाहर ले जाने की रोक लगी होने से इस मेले मे नागौरी नस्ल के बछड़े और उनके खरीददारो की तादाद कम होती जा रही है जिससे मेले की रौनक कम होने लगी है । मेले के नागौर प्रधान ओम प्रकाश सैन का कहना है की सरकार की नीतियां नागौर जिले के सभी पशु मेलो को खा गई । नागौर, परबतसर, मेड़ता सिटी,डीडवाना,लाडनू और कुचामन सिटी के पशु मेले अब औपचारिकता बन कर रह गए है । पशू वध को रोकने का कारण बताकर नागौरी नस्ल को बाहर ले जाने पर लगाई गई रोक ने मेले को प्रभावित किया है। रोक के कारण बाहरी राज्यो के पशुपालकों का संख्या मे कमी आती जा रही है । नागौर जिले के मशहूर नागौरी नस्ल के बैल की दूसरे राज्यों मे बहुत मांग है लेकिन पशूपालकों को तीन वर्ष से कम उम्र के बछडो को राज्य से बाहर ले जाने की मनाही है इसलिए नागौरी बैल जितना बिकना चाहिऐ उतना बिक नही पाता है.. उद्घाटन के दौरान नागौर पुलिस अधीक्षक गगनद्वीप सिंगला आने वाली राज्य से आने वाले पशुपालकों को सुरक्षा देने के बात कही

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned