नागौर. राजमार्ग चौड़ा होने के प्रशासन की तैनातगी के बीच लोग खुद ही बाधा हटाने में जुटे हैं। शुक्रवार को भी यह मशक्कत जारी रही। चौथे दिन भी लोग खुद ही इस अभियान में जुटे रहे। शांति के साथ चल रहे काम में थोड़ी बहुत तनातनी भी हुई। दो दुकानदार अपनी दुकान खाली नहीं करने पर अड़ गए, इसके लिए उन्होंने और मोहलत मांगी। शाम करीब छह बजे भीड़ ने जब तहसीलदार की गाडिय़ों को जब घेरा तो पुलिस ने लाठियां फटकार लोगों को भगाया। राष्ट्रीय राजमार्ग-65 की सड़क का शहर के विजय वल्लभ चौराहे से बीकानेर बायपास तक चौड़ा करने के लिए पिछले चार दिन से भवन मालिक खुद के स्तर पर निर्माण हटा रहे हैं। शुक्रवार को माली समाज के पूर्व अध्यक्ष कृपाराम देवड़ा तथा तहसीलदार शंकर सिंह राठौड़ आमने- सामने हो गए। इस दौरान वहां जमा भीड़ को पुलिस ने खदेड़ा। हुआ यूं कि एक दुकानदार ने दूसरे दुकानदार को देखकर दुकान को शनिवार को खाली करने के लिए प्रशासन से समय मांगा। इस बीच कृपाराम देवड़ा सहित अन्य लोग मौके पर पहुंचे और तहसीलदार शंकरसिंह राठौड़ से बातचीत की। यह बातचीत बहस में बदल गई। जिससे माहौल गर्म हो गया और भीड़ ने तहसीलदार की गाड़ी को घेर लिया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned