Chaitra Navratri 2020: नवरात्र रहेगा शुभ, क्योंकि इस बार नौ दिन तक रहेंगे विभिन्न योग

'घटÓ में बिराजमान रहेंगी मां दुर्गा, आज से चेत्र नवरात्र शुरू, मंदिरों में नहीं रहेगी भीड़ इसलिए सामूहिक डांडिया आदि कार्यक्रम रहेंगे स्थगित

नागौर. शक्ति की आराधना के लिए श्रेयस्कर नवरात्र महोत्सव बुधवार से शुरू हुआ। हालांकि कोरोना वायरस को देखते हुए इस बार मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ नहीं रही, लेकिन देवी पूजा के आयोजन किए गए। इस दौरान पुजारी परिवार के लोगों ने नियमित पूजा-अर्चना करते हुए नवरात्र के विशेष आयोजनों की रस्म अदायगी की। शक्ति आराधकों ने घरों में शुभ मुहूत्र्त में घट स्थापना की।

पंडितों ने बताया कि मां अपने 'घटÓ में ही बिराजित है इसलिए घरों में रहते हुए भी आराधना की जा सकती है। महामारी के प्रकोप को देखते हुए मंदिरों में भीड़ नहीं करनी चाहिए।

रात को होंगे भजन-कीर्तन

शहर के प्राचीन ब्रह्माणी माता मंदिर में शृंगार एवं सजावट के कार्य किए गए। पुजारी श्यामसुंदर शर्मा ने बताया कि सुबह सवा छह बजे घट स्थापना की गई। परिवार के लोग एवं नियमित रूप से मंदिर आने वाले दो-चार श्रद्धालुओं ने भजन-कीर्तन किया। इसके बाद महाआरती कर प्रसाद वितरित किया गया। शहर के योगमाया मंदिर समेत अन्य शक्ति मंदिरों में भी विभिन्न कार्यक्रम हुए।

इस बार चेत्र नवरात्र में रहेंगे विशेष योग

नवरात्र महोत्सव में आमतौर पर कई शुभ कार्य किए जाते हैं, लेकिन इस बार कुछ विशेष योग भी है। इस बार नौ दिनों में अमृतसिद्धि योग, सर्वार्थ सिद्धि योग, पुष्य योग रहेंगे। चेत्रीय नवरात्र के नौ दिनों में इस तरह के विशेष योग अच्छे फल देने वाले माने गए हैं। इस दौरान साधक मां भगवती की विशेष आराधना कर सकते हैं।

Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned