नवसृजित पंचायत समिति मंजूर नहीं, किया विरोध

आलनियावास. कस्बे के मुख्य बस स्टेशन पर सैकड़ों ग्रामीणों ने नवसृजित पंचायत समिति भेरूंदा में स्थानीय ग्राम पंचायत को जोड़ें जाने को लेकर विरोध प्रदर्शन किया।

आलनियावास. कस्बे के मुख्य बस स्टेशन पर सैकड़ों ग्रामीणों ने नवसृजित पंचायत समिति भेरूंदा में स्थानीय ग्राम पंचायत को जोड़ें जाने को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। लोगों का कहना था। कि नई पंचायत समिति बनने के बाद कस्बे वासियों को परेशानी भुगतनी पड़ेगी। भेरूंदा कस्बे से पच्चीस तीस किलोमीटर की दूरी पर है और जाने के लिए सीधा कोई साधन उपलब्ध नहीं होने से लोगों को परेशानी भुगतनी पड़ेगी। वहीं पंचायत समिति रियांबड़ी कस्बे महज ९ किलोमीटर की दूरी पर होने से लोगों को सुविधाजनक है। आने जाने के लिए पर्याप्त साधन भी उपलब्ध होते हैं। नवसृजित पंचायत समिति जाने में लोगों को समय के साथ आर्थिक बोझ भी भारी पड़ेगा। रियांबड़ी में समय की बचत होने के साथ किराया भी कम लगता है। उपसरपंच जुगराज बावरी ने बताया कि पूर्व में ही स्थानीय ग्राम पंचायत को भेरूंदा में जोड़े जाने को लेकर आपत्ती लगा दी गई। कालनी ग्राम को कस्बे से तोड़कर कोड ग्राम पंचायत में सम्मिलित किए जाने को लेकर भी कालनी के ग्रामीणों ने रोष प्रकट किया। देवीलाल कुमावत ने बताया कि 7 दिसंबर को आपत्ति लगा दी। जोड़ दिया गया तो हम चुनाव का बहिष्कार करेंगे। विरोध प्रदर्शन के दौरान पूर्व सरपंच बनेसिंह राठौड़ भाजपा युवा नेता ब्रह्मदेव शर्मा एंटी करप्शन संगठन के जितेंद्र तंबोली, लेखराज, रामस्वरूप सैनी, कालूराम नरडा, दामोदर आचार्य, कमल गुर्जर, पप्पू लोहार, नेमीचंद वैष्णव सहित कई लोग नवसृजित पंचायत समिति का विरोध कर रहे थे।

पंचायत चुनाव को लेकर दिए निर्देश

नावां शहर. पंचायत चुनाव को लेकर जिला कलक्टर दिनेश कुमार यादव व एसपी विकास पाठक ने अधिकारियों व पुलिस प्रशासनिक थानों की बैठक पंचायत सभागार में बुधवार को हुई। बैठक में जिला कलेक्टर यादव ने बताया कि पंचायत चुनाव को लेकर 100 मीटर व 200 मीटर परिधि का विशेष ध्यान रहे। इसके साथ ही मतदाताओं को 12 प्रकार पहचान पत्रों के साथ पहचान की जा सकती है। इसके साथ ही उपखण्ड अधिकारी ब्रह्मलाल जाट ने कहा कि पहचान के लिए हर पंचायत पर कार्मिकों का गठन किया गया। जिसमें कम से कम 24 कार्मिकों को केवल पहचान के लिए ही लगाया गया है। इसके साथ पंचायत चुनाव को ध्यान में रखते हुए पुलिस सुपरवाइजरी ऑफिसर, पुलिस मोबाइल, सेक्टर मजिस्ट्रेट को एसपी विकास पाठक ने निर्देश दिए। एसपी ने बताया कि पंचायतीराज चुनाव के प्रथम चरण में पंस नावां की २४ पंचायतों के पंच-सरपंच के चुनाव निष्पक्ष, शांतिपूर्ण कराने के लिए कानून और शांति व्यवस्था बनाए रखनी है। एसपी ने आदर्श आचार संहिता का पालना करना, मतदाताओं को पर्ची देने वाले काउंटर को पोलिंग बूथ से 100 मी दूर रखने, वोटर्स को लाने ले जाने वाले ओवरलोड वाहनों को जब्त करने, नशे में बूथ पर आने वाले लोगों पर कार्रवाई करने सहित कई निर्देश दिए। इस अवसर पर एसडीएम बाबूलाल जाट कुचामन, सीओ कुचामन नगराराम, विकास अधिकारी रामनिवास जाट, नावां थानाधिकारी सतीश मीणा, मारोठ थानाधिकारी दिलीप सहगल, सीबीईओ रघुवीर सिंह, एसीबीओ ललित शर्मा, व्याख्याता राजेश चौधरी सहित अन्य मौजूद रहे।

Sandeep Pandey
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned