corona: किसी को भूखा नहीं सोने दिया जाएगा, मिलेगा खाना

- जरूरतमंद व्यक्तियों को पहुंचा जाएंगे खाद्य सामग्री के पैकेट

नागौर. लॉक डाउन की स्थिति में किसी को भी भूखा नहीं सोने दिया जाएगा। इसके लिए स्वयंसेवी संस्थाएं आगे आई हैं। संस्था पदाधिकारी बताते हैं कि रोज कमाई कर पेट भरने वाले लोगों पर लॉक डाउन का असर साफ तौर पर देखने को मिल रहा है। शहर में हाफिजों की हवेली के पास रहने वाले मोहम्मद उमर ने बताया कि इलाके के लोगों की ओर से जरूरतमंद व्यक्तियों को खाना भेजा जाएगा। इसके लिए खाद्य सामग्री के पैकेट बनाए जा रहे हैं।

बताया कि खाद्य सामग्री के पैकेट में गेहूं का आटा, दाल, चीनी, नमक, तेल सहित अन्य जरूरत का सामान रहेगा। बताया कि हाफिजों की हवेली के पास रहने वाले सभी लोगों की ओर से ये पैकेट्स तैयार किए गए हैं। इनको सभी जरूरतमंदों में वितरित किया जाएगा। इसी तरह अन्य संगठनों ने भी खाद्य सामग्री तैयार करवाई है। कलक्ट्री से पैकेट्स भरे वाहनों को रवाना किया गया।

वितरण के लिए घर में तैयार किए मास्क

नागौर. आर्थिक रूप से कमजोर एवं जरूरतमंद लोगों को मास्क वितरित किए गए हैं। घर में कपड़े से तैयार किए लगभग पांच हजार मास्क बांटे जा चुके हैं। वहीं पांच हजार मास्क और तैयार किए जा रहे हैं। शहर में प्रेम टेलर के संचालक अशोक टाक ने बताया कि दुकानों पर ज्यादा दामों में मास्क मिलने की बात सुनी तो उसने घर पर मास्क तैयार करने की योजना बनाई। इसके लिए परिवार के सदस्यों एवं दुकान के कारीगरों का सहयोग लिया। रात-दिन एक किया और पांच हजार मास्क तैयार किए। नगर परिषद सभापति मांगीलाल भाटी व वार्ड पार्षदों के जरिए इनका वितरण किया गया। ये मास्क उन जरूरतमंदों को दिए जा रहे हैं, जो महंगे दामों पर नहीं खरीद सकते। शहर को सेनेटाइज करने वाले कार्मिक, सफाईकर्मी एवं ऐसे ही जरूरतमंदों में ये मास्क वितरित किए हैं। अभी पांच हजार मास्क और तैयार किए जा रहे हैं। कुल दस हजार मास्क वितरित करने की योजना है।

Sandeep Pandey Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned