scriptNoor of Sambhar Lake is getting away from the unseen | अनदेखी से दूर हो रहा सांभर झील का नूर | Patrika News

अनदेखी से दूर हो रहा सांभर झील का नूर

झील को निहारने के लिए सडक़ की खल रही कमी

नागौर

Published: January 10, 2022 06:19:29 pm

चौसला. तीन जिलों में फैली विश्वविख्यात सांभर झील में देश-विदेश से आने वाले पर्यटकों की संख्या कम हो गई है। यहां विश्व में शुमार चौहानों की कुल देवी शाकम्भरी मंदिर, हजरत ख्याजा हुसामुदीन चिश्ती की दरगाह है। जहां प्रतिवर्ष पूरे भारतवर्ष से जायरीन दुआ मांगने आते हैं। जानकारी अनुसार यहां अजमेर स्थित ख्याजा मोइनुदीन चिश्ती की दरगाह के सगे पोते हुसामुदीन चिश्ती की दरगाह है। इसलिए अजमेर आने वाले जायरीन जरूर आते है। देवयानी शर्मिष्ठा सरोवर, बंजारों की छतरियां, पर्यटक ट्रेन आदि स्थित है। इस साल झील में देश-विदेश से आने वाले पक्षियों में भी इजाफा हुआ है, लेकिन कोरोना की तीसरी लहर के चलते विदेशी पर्यटकों की संख्या घटती जा रही है। पर्यटन विभाग की ओर से झील के दक्षिण छोर में समुचित सुविधाओं से लेस हेरिटेज होटल व शाही ट्रेन तैयार है। लेकिन पटरियों के अलावा राम सेतु (झपोक डेम) पुलिया सहित अन्य झील में भ्रमण करने के लिए बने मार्ग खस्ताहाल है। यहां चौपहिया वाहन तो दूर दुपहिया वाहन चलाना भी मुश्किल है। सांभर से गुढ़ासाल्ट रेलवे स्टेशन तक सडक़ बनाने के लिए कुछ दूरी में झीकरा डालकर इतिश्री कर ली। खस्तहाल सडक़ पर दुपहिया वाहन भी नहीं गुजर पा रहा है। झील के संरक्षण के अलावा अन्य संसाधनों की कमी के कारण बेरोनक होती जा रही है।
दर्जनों भवन धराशाही होने की कगार पर
सैकड़ों साल पहले अंगे्रजों ने गुढ़ासाल्ट व सांभर रेलवे स्टेशनों पर कलात्मक कारीगरी से दो पुलों का निर्माण करवाया था। जो मरम्मत के अभाव में अपना अस्तित्व खो रहे हैं। हर साल पुलों के पिलरों से पत्थर गिर रहे है। यही नहीं गुढ़ासाल्ट सांभर के बीच दर्जनों भवन धराशाही होने की कगार पर हैं। गुढ़ासाल्ट रेलवे स्टेशन पर बने कई भवन समाज कंटकों का अड्डा बनकर रह गए है। इसके चलते कई भवनों की खिड़कियां दरवाजे समेत अन्य सामान गुम हो गए। शाकम्भरी मंदिर सडक़ सहित विभिन्न निर्माण कार्यो में करोड़ों रुपए खर्च करने के बावजूद झील के बीच बना झपोक डेम व कई भवन अस्तित्व खो रहे है।
खूबसूरती खींच लाती है फिल्मी कलाकारों को
झील में असंख्य लगी नमक की ढेरिया, देशी-विदेशी मेहमान अठखेलियां करते देख कई फिल्मी कलाकारों को यहां की खूबसूरती खींच लाती है। दिल्ली-6 पीके, काई पा चे, जोधा-अकबर, सहित कई फिल्मों की शूटिंग यहां हो चुकी है। झील में अवैध जलदोहन पर लगाम लगाने, फिल्मी शुटिंग के लिए सकारात्मक माहौल बनाने और कलाकारों का सहयोग करने, कुचामन या सांभर को जिला बनाने, झील का संरक्षण करवाने, उद्योग धंधे खुलवाने के लिए लोग आगे आए और मुहिम चलाए तो काफी हद तक सुधार हो सकता है।
अनदेखी से दूर हो रहा सांभर झील का नूर
चौसला. ये पुल तीन दशक से अनुपयोगी, पहले इस पर चलती थी लकड़ी के डिब्बों की टे्रन।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां

बड़ी खबरें

पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने जारी की पहली लिस्ट, 34 उम्मीदवारों को दिया टिकटराष्ट्रीय युद्ध स्मारक में विलय की गई अमर जवान ज्योति की लौ; देखें VIDEO'हिजाब' पर कर्नाटक के शिक्षा मंत्री के बयान पर बवाल! जानिए क्या है पूरा मामलादिल्ली उपराज्यपाल ने आप सरकार के प्रस्ताव को किया खारिज, वीकेंड कर्फ्यू हाटने और प्रतिबंधों में ढील से इनकारMizoram Earthquake: मिजोरम में महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर रही 5.6 तीव्रताBJP की दूसरी लिस्ट जारी: 85 प्रत्याशियों में 15 महिलाएं, अदिति सिंह रायबरेली, रामवीर उपाध्याय को सादाबाद से टिकट, IPS असीम को मिला कन्नौजकोरोना की रफ्तार से ऑफलाइन हो सकती है 12वीं-10वीं की बोर्ड परीक्षा! CGBSE ने की ये तैयारीBHU के रजत जयंती से जुड़ी गांधी की स्मृतियों को NSUI ने किया याद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.