अब दिन में दो बार डॉक्टर व चार बार नर्सिंग स्टाफ लेंगे कोरोना मरीजों के स्वास्थ्य की जानकारी

वॉर रूम में कार्यरत स्टाफ रोजाना 100 कोरोना मरीजों से बात कर लेंगे फीडबैक
- सैम्पलिंग के लिए आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को दिया जाएगा मेडिसिन किट
- एम्बुलेंस के लिए सुनिश्चित किए जाएंगे अतिरिक्त ऑक्सीजन सिलेण्डर

By: shyam choudhary

Updated: 06 May 2021, 04:06 PM IST

नागौर. जिला कलक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी ने बुधवार को जेएलएन राजकीय अस्पताल स्थित वॉर-रूम में जिला स्तरीय अधिकारियों एवं चिकित्सा अधिकारियों के साथ बैठक कर चिकित्सकीय व्यवस्थाओं की समीक्षा की। साथ ही अस्पताल परिसर में निर्माणाधीन ऑक्सीजन प्लांट का जायजा भी लिया।

बैठक के दौरान प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ. शंकरलाल को निर्देश दिए कि जेएलएन अस्पताल में भर्ती कोरोना मरीजों की प्रतिदिन दो बार डॉक्टर व चार बार नर्सिंग स्टाफ स्वास्थ्य के बारें में जानकारी लेंगे और कोरोना मरीजों की स्वास्थ्य जांच कर, आवश्यक स्वास्थ्य संबंधी सलाह देंगे। वॉर रूम में नियुक्त तीन डॉक्टर पूर्व में प्राप्त कॉल द्वारा परामर्श लेने वाले 5 मरीजों से प्रतिदिन प्रत्येक डॉक्टर वीडियो कॉल करके स्वास्थ्य संबंधी जानकारी लेंगे तथा उन मरीजों का हालचाल पूछकर आवश्यकता के अनुसार स्वास्थ्य सलाह देंगे।

मेडिसिन किट वितरण
वॉरू-रूम में तैनात स्टाफ हर रोज 100 कोरोना मरीजों से बात कर इलाज संबंधी फीडबैक लेंगे। कलक्टर डॉ. सोनी ने पीएमओ को निर्देश दिए कि जो लोग कोरोना जांच के लिए सैम्पल करवाने आ रहे हैं, उन्हें मेडिसिन किट प्रदान किए जाएं। साथ ही मेडिसिन किट का उपयोग करने के बारे में भी सलाह दें, ताकि सामान्य संक्रमित रोगियों का शुरुआती स्तर पर ही इलाज हो सके। डॉ. सोनी ने यह भी कहा कि लोगों की सैम्पल रिपोर्ट में लगने वाले समय को कम करने का प्रयास किया जाए, इससे लोगों की सैम्पल रिपोर्ट के आधार पर शीघ्र इलाज शुरू करने में आसानी होगी तथा साधारण व हल्के लक्षण दिखने वाले रोगियों को कोविड डेडिकेटेड अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत नहीं होगी।

शहर में सफाई व्यवस्था सुचारू रखें
डॉ. सोनी ने पीएमओ को निर्देश दिए कि बढ़ते कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए अस्पताल के समस्त वार्डों में नियमित रूप से साफ-सफाई सुनिश्चित की जाए। साथ ही उन्होंने नगर परिषद के अधिकारी को निर्देश दिए कि कोविड-19 की दूसरी लहर ज्यादा घातक है। इसलिए शहर में साफ-सफाई की व्यवस्था माकूल रखें। शहर के वार्डों में हर रोज साफ-सफाई कर कचरे का निस्तारण किया जाए तथा कहीं भी गंदगी नजर नहीं आए, यह सुनिश्चित करें।

एम्बुलेंस को मिले दो-दो सिलेण्डर
कलक्टर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मेहराम महिया व जिला ऑक्सीजन कमेटी के सदस्य विपोन मेहता को प्रत्येक उपखण्ड स्तर पर एम्बुलेंस के लिए दो-दो ऑक्सीजन सिलेण्डर आपातकालीन सेवाओं के लिए उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए, जिससे आपातकालीन स्थिति में गंभीर मरीजों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर रेफर करने पर किसी प्रकार की असुविधा ना हो। बैठक के दौरान जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जवाहर चौधरी, सहायक कलक्टर रामजस विश्नोई, सीनियर मेडिकल ऑफिसर डॉ. कमल उपाध्याय सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned