बाजार में गड्ढों से लग रहा जाम, उड़ती धूल से नाक में झुरझुरी व गले में खराश

पाइप लाइन बिछाने के बाद यूं ही छोड़ दिए गड्ढे, न पाटे और न धूल पर पानी छिड़क रहे, सदर बाजार में हर कदम पर भीड़

By: Jitesh kumar Rawal

Updated: 24 May 2020, 09:54 PM IST


नागौर. सदर बाजार में हर कदम पर भीड़ है और राहगीरों में भी कोरोना संक्रमण से लक्षण दिख रहे हैं। हालांकि यह कोरोना संक्रमण नहीं है, लेकिन समस्या तो है ही। जी हां, बाजार क्षेत्र में लॉक डाउन के दौरान पाइप लाइन बिछाने का कार्य किया गया, लेकिन काम हो जाने के बाद ठेकेदार ने गड्ढे पाटने में कोताही बरती। नतीजा यह रहा कि बाजार खुलने के बाद लोग धूल व गड्ढों से समस्या उठा रहे हैं। दिनभर उड़ती धूल यहां दुकानदारों व राहगीरों के गले में खराश व नाक में झुरझुरी का अहसास करवा रही है। कोरोना संक्रमण के लक्षणों जैसी यह समस्या लोगों की मुसीबत बढ़ा रही है। गड्ढों के कारण दुकानों में आवाजाही करना तो दूर वाहन लेकर चलना तक दूभर हो रहा है। गड्ढों पर अटकने से संकरे बाजार में रह-रहकर जाम लग रहा है। हर कदम पर भीड़ के कारण संक्रमण फैलने का डर बना हुआ है। एक ओर जहां कम से कम भीड़ रखे जाने की बात कही जा रही है, वहीं गड्ढों को यूं ही छोड़ देने से बाजार में भीड़ का आलम है।

ध्यान नहीं दे रहे अधिकारी
गड्ढों को पाटने के साथ ही सड़क का निर्माण किया जाना चाहिए। साथ ही उड़ती धूल पर दिन में दो बार पानी का छिड़काव किया जाए तो लोगों को राहत मिल सकती है। व्यापारी बताते हैं कि इस सम्बंध में अधिकारियों को भी कहा गया, लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया। दुकानें खुलने के बाद अब काफी समस्या उठानी पड़ रही है।

मुश्किल में हैं व्यापारी
सदर बाजार में प्रकाश चौरडिय़ा ने बताया कि लॉक डाउन के दौरान काम किया था, लेकिन गड्ढों को पाटे बगैर ही छोड़ दिया। अब दुकानों में आवाजाही मुश्किल हो रही है। सुरेंद्र दुग्गड़ व पीयूष जैन ने बताया कि बाजार में पंद्रह दिनों से सड़क खुदी हुई है, लेकिन कोई ध्यान नहीं दे रहा। बुटाटी गांव से आए महेंद्र ने बताया कि उड़ती धूल व गड्ढों के कारण चलना भी मुश्किल हो रहा है। पतंजलि समिति के सदस्य कमल सोनी ने बताया कि कोरोना संक्रमण का असर गले से होकर फेफड़ों तक होता है। ऐसे में उड़ती धूल लोगों के लिए समस्या बन रही है। गड्ढों को जल्द पाटना चाहिए। तब तक पानी का छिड़काव करना चाहिए, ताकि धूल न उड़े।

Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned